BREAKING NEWS

ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾भाजपा ने किया कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन : किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का लगाया आरोप ◾कांग्रेस जवाब दे कि न्यायालय में उसने भगवान राम के अस्तित्व पर क्यों सवाल उठाए : ईरानी◾दिल्ली के रामलीला मैदान में 22 दिसंबर को रैली कर दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार शुरू करेंगे PM मोदी ◾जामिया के छात्रों ने आंदोलन फिलहाल वापस लिया◾सीएए के खिलाफ जनहित याचिका दायर की, एआईएमआईएम हरसंभव तरीके से कानून के खिलाफ लडे़गी : औवेसी◾गंगा बैराज की सीढियों पर अचानक फिसले प्रधानमंत्री मोदी ◾संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ पूर्वोत्तर, बंगाल में प्रदर्शन जारी◾PM मोदी ने कानपुर में वायुसेना कर्मियों के साथ की बातचीत ◾कानपुर : नमामि गंगे की बैठक के बाद PM मोदी ने नाव पर बैठकर गंगा की सफाई का लिया जायजा ◾राहुल गांधी के लिए ‘राहुल जिन्ना’ अधिक उपयुक्त नाम : भाजपा ◾TOP 20 NEWS 14 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾उत्तर प्रदेश : फतेहपुर में दोहराया गया 'उन्नाव कांड', बलात्कार के बाद पीड़िता को जिंदा जलाया ◾साबित हो गया कि मोदी ने झूठे वादे किए थे : मनमोहन सिंह◾जम्मू-कश्मीर : फारुक अब्दुल्ला की हिरासत अवधि 3 महीने और बढ़ी◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

तीस हजारी अदालत में वकीलों और पुलिस के बीच झड़प पर दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई शुरू

 delhi high court

यहां की तीस हजारी अदालत में वकीलों और पुलिस के बीच झड़प से संबंधित मुद्दे पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने रविवार को सुनवाई शुरू करने का फैसला किया। इस झड़प में कई लोग घायल हो गये थे। इस मुद्दे पर सुनवाई शुरू करने के बाद दिल्ली उच्च न्यायालय ने केंद्र, नगर पुलिस प्रमुख, मुख्य सचिव को नोटिस जारी किया। दिल्ली उच्च न्यायालय ने सुनवाई शुरू करते ही संबंधित पुलिस अधिकारियों को दिन में तीन बजे अदालत में उपस्थित रहने का आदेश दिया। 

महापंजीयक (आरजी) दिनेश कुमार शर्मा ने कहा कि घटना को लेकर मीडिया रिपोर्ट पर संज्ञान लेते हुए अदालत ने दोपहर बाद दिन में एक बजे कार्यवाही शुरू की। उन्होंने कहा कि मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और उच्च न्यायालय के वरिष्ठ न्यायाधीशों ने सुबह बंद कमरे में बैठक की। आरजी ने बताया कि बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी और दिल्ली सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव भी शामिल थे। 

तीस हजारी हिंसा : दिल्ली हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से मुलाकात की

उन्होंने कहा कि बैठक खत्म होने के बाद अदालत ने दिन में एक बजे सुनवाई करने का फैसला किया। वकीलों और पुलिस के बीच झड़प पर शनिवार को उच्च न्यायालय ने पांच घंटे से भी अधिक समय तक बैठक की। आरजी ने बताया कि बैठक रात करीब नौ बजकर 40 मिनट पर खत्म हुई। मुख्य न्यायाधीश के निर्देशानुसार बैठक में संयुक्त पुलिस आयुक्त, पुलिस उपायुक्त (नयी दिल्ली) और दिल्ली के अतिरिक्त मुख्य सचिव मौजूद थे। 

बैठक में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया था कि इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज की गयी है और जांच जारी है। आरजी ने कहा कि मुख्य न्यायाधीश ने मामले को बहुत ‘‘गंभीरता’’ से लिया और उच्च न्यायालय ‘‘वादियों एवं वकीलों की सुरक्षा’’ को लेकर बहुत चिंतित है। उन्होंने कहा कि सभी दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित करने के लिये उच्च न्यायालय समूचे मामले पर करीब से नजर बनाये हुए है। 

अधिकारियों और चश्मदीदों के अनुसार तीस हजारी अदालत परिसर में शनिवार दोपहर वकीलों और पुलिस के बीच झड़प हो गयी जिसमें 10 पुलिसकर्मी और कई वकील घायल हो गये जबकि 17 वाहनों में तोड़फोड़ की गयी। वकीलों का दावा है कि उनके चार सहकर्मी घायल हुए हैं, जिनमें एक वकील पुलिस की गोली लगने से घायल हुआ है। वहीं, पुलिस ने गोलीबारी के आरोपों से इनकार किया है। पुलिस ने कहा कि घायल पुलिसकर्मियों में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (उत्तरी जिला) हरेंद्र कुमार, कोतवाली एवं सिविल लाइंस के थाना प्रभारी और पुलिस उपायुक्त (उत्तरी) का ऑपरेटर शामिल हैं।