BREAKING NEWS

राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी ने गुरु नानक जयंती की दी शुभकामनाएं◾भारत को गुजरात में बदलने के प्रयास : तृणमूल कांग्रेस सांसद ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने डच समकक्ष के साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा की ◾महाराष्ट्र गतिरोध : राकांपा नेता अजित पवार राज्यपाल से मिलेंगे ◾महाराष्ट्र : शिवसेना का समर्थन करना है या नहीं, इस पर राकांपा से और बात करेगी कांग्रेस ◾महाराष्ट्र : राज्यपाल ने दिया शिवसेना को झटका, और वक्त देने से किया इनकार◾CM गहलोत, CM बघेल ने रिसॉर्ट पहुंचकर महाराष्ट्र के नवनिर्वाचित विधायकों से मुलाकात की ◾दोडामार्ग जमीन सौदे को लेकर आरोपों पर स्थिति स्पष्ट करें गोवा CM : दिग्विजय सिंह ◾सरकार गठन फैसले से पहले शिवसेना सांसद संजय राउत की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती◾महाराष्ट्र: सरकार गठन में उद्धव ठाकरे को सबसे बड़ी परीक्षा का करना पड़ेगा सामना !◾महाराष्ट्र गतिरोध: उद्धव ठाकरे ने शरद पवार से की मुलाकात, सरकार गठन के लिए NCP का मांगा समर्थन ◾अरविंद सावंत ने दिया इस्तीफा, बोले- महाराष्ट्र में नई सरकार और नया गठबंधन बनेगा◾महाराष्ट्र में सरकार गठन पर बोले नवाब मलिक- कांग्रेस के साथ सहमति बना कर ही NCP लेगी फैसला◾CWC की बैठक खत्म, महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर शाम 4 बजे होगा फैसला◾कांग्रेस का महाराष्ट्र पर मंथन, संजय निरुपम ने जल्द चुनाव की जताई आशंका◾महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर कांग्रेस-NCP ने नहीं खोले पत्ते, प्रफुल्ल पटेल ने दिया ये बयान◾BJP अगर वादा पूरा करने को तैयार नहीं, तो गठबंधन में बने रहने का कोई मतलब नहीं : संजय राउत◾महाराष्ट्र सरकार गठन: NCP ने बुलाई कोर कमेटी की बैठक, शरद पवार ने अरविंद के इस्तीफे पर दिया ये बयान ◾संजय राउत का ट्वीट- रास्ते की परवाह करूँगा तो मंजिल बुरा मान जाएगी◾शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने मंत्री पद से इस्तीफे की घोषणा की◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

यमुना की सफाई: एनजीटी ने डीडीए को गारंटी रकम के तौर पर 50 लाख रूपया जमा करने का निर्देश दिया

यमुना नदी की सफाई पर असंतोष जताते हुए राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने दिल्ली विकास प्राधिकरण को पर्यावरण संरक्षण करने में अपनी नाकामी को लेकर कार्य निष्पादन गारंटी के तौर पर 50 लाख रूपया जमा करने का शुक्रवार को निर्देश दिया। अधिकरण के अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि प्राधिकरणों की नाकामी से नागरिकों का जीवन एवं स्वास्थ्य प्रभावित हो रहा है और यमुना जैसी नदी के अस्तित्व के लिए खतरा पैदा हो रहा है। पीठ में न्यायमूर्ति एस पी वांगडी और के. रामकृष्ण भी शामिल हैं। 

एनजीटी ने दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) को कार्य निष्पादन गारंटी रकम दो हफ्तों के अंदर जमा करने का निर्देश दिया और चेतावनी दी कि ऐसा करने में नाकाम रहने पर वह इसके उपाध्यक्ष को तलब करेगा। पीठ ने कहा कि यदि प्राधिकरण समयबद्ध तरीके से उठाये जाने वाले कदमों की पहचान नहीं करेंगे, तो अधिकरण और निगरानी समिति की कोशिश व्यर्थ जाएंगी। 

अधिकरण ने कहा, ‘‘कोई भी नियामक प्राधिकार मूकदर्शक बना नहीं रह सकता और उसे इस तरह के प्रदूषण को सख्ती से रोकने के लिए अपनी शक्तियों के इस्तेमाल में अवश्य ही सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए।’’ गौरतलब है कि इससे पहले भी अधिकरण ने यमुना की सफाई पर असंतोष जताया था और दिल्ली, हरियाणा तथा उत्तर प्रदेश सरकारों को एक महीने के अंदर दस- दस करोड़ रूपये की कार्य निष्पादन गारंटी जमा करने का निर्देश दिया था। 

अहमदाबाद : ADC बैंक मानहानि मामले में राहुल गांधी को मिली जमानत