BREAKING NEWS

अब 5 राज्यों-केंद्रशासित प्रदेशों में ही बची कांग्रेस की सरकार ◾अब से विकास के नये युग की होगी शुरुआत : येदियुरप्पा◾‘किंगमेकर’ माने जाने वाले कुमारस्वामी बने ‘किंग’, लेकिन राजगद्दी जल्दी ही हाथ से निकली ◾कर्नाटक में गिरी कुमारस्वामी सरकार, विश्वास प्रस्ताव के पक्ष पड़े 99 वोट , BJP पेश करेगी सरकार बनाने का दावा ◾येदियुरप्पा के शपथ लेने के बाद मुम्बई से लौटेंगे कर्नाटक के बागी विधायक◾कश्मीर के बारे में ट्रंप के प्रस्ताव पर भारत की प्रतिक्रिया से चकित हूं : इमरान खान ◾खुशी से पद छोड़ने को तैयार हूं : कुमारस्वामी ◾बोरिस जॉनसन बने ब्रिटेन के नए PM, यूरोपीय संघ से देश को बाहर निकालना होगी बड़ी चुनौती◾कश्मीर मुद्दे पर नरेंद्र मोदी और इमरान खान को मिलकर करनी चाहिए पहल - फारुख अब्दुल्ला◾Top 20 News 23 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾भाजपा ने ट्रंप के दावे पर विपक्ष के रूख को गैर जिम्मेदाराना बताया ◾कर्नाटक संकट: भाजपा ने कुमारस्वामी पर करदाताओं का पैसा बर्बाद करने का लगाया आरोप◾गृह मंत्रालय ने घटाई लालू यादव, चिराग पासवान समेत कई बड़े नेताओं की सुरक्षा◾SC ने NRC प्रकाशन की समय सीमा बढ़ाई, 20 फीसदी नमूनों के पुन: सत्यापन का अनुरोध ठुकराया◾PM मोदी देश को बताएं कि उनकी ट्रंप से क्या बात हुई थी : राहुल गांधी◾SC ने आम्रपाली समूह का रेरा पंजीकरण किया रद्द, NBCC को लंबित परियोजनाएं पूरी करने का निर्देश◾ट्रंप के दावे पर लोकसभा में विपक्षी सदस्यों का हंगामा, PM से जवाब देने की मांग की◾ट्रंप के बयान पर संसद में हंगामा, जयशंकर ने कहा- मोदी ने नहीं की मध्यस्थता की बात◾RTI कानून खत्म करना चाहती है सरकार, हर नागरिक होगा कमजोर : सोनिया गांधी ◾कश्मीर पर मध्यस्थता की ट्रंप की पेशकश का इमरान खान ने किया स्वागत, कहा- इसे दो पक्ष नहीं सुलझा सकते◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

यमुना की सफाई: एनजीटी ने डीडीए को गारंटी रकम के तौर पर 50 लाख रूपया जमा करने का निर्देश दिया

यमुना नदी की सफाई पर असंतोष जताते हुए राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने दिल्ली विकास प्राधिकरण को पर्यावरण संरक्षण करने में अपनी नाकामी को लेकर कार्य निष्पादन गारंटी के तौर पर 50 लाख रूपया जमा करने का शुक्रवार को निर्देश दिया। अधिकरण के अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि प्राधिकरणों की नाकामी से नागरिकों का जीवन एवं स्वास्थ्य प्रभावित हो रहा है और यमुना जैसी नदी के अस्तित्व के लिए खतरा पैदा हो रहा है। पीठ में न्यायमूर्ति एस पी वांगडी और के. रामकृष्ण भी शामिल हैं। 

एनजीटी ने दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) को कार्य निष्पादन गारंटी रकम दो हफ्तों के अंदर जमा करने का निर्देश दिया और चेतावनी दी कि ऐसा करने में नाकाम रहने पर वह इसके उपाध्यक्ष को तलब करेगा। पीठ ने कहा कि यदि प्राधिकरण समयबद्ध तरीके से उठाये जाने वाले कदमों की पहचान नहीं करेंगे, तो अधिकरण और निगरानी समिति की कोशिश व्यर्थ जाएंगी। 

अधिकरण ने कहा, ‘‘कोई भी नियामक प्राधिकार मूकदर्शक बना नहीं रह सकता और उसे इस तरह के प्रदूषण को सख्ती से रोकने के लिए अपनी शक्तियों के इस्तेमाल में अवश्य ही सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए।’’ गौरतलब है कि इससे पहले भी अधिकरण ने यमुना की सफाई पर असंतोष जताया था और दिल्ली, हरियाणा तथा उत्तर प्रदेश सरकारों को एक महीने के अंदर दस- दस करोड़ रूपये की कार्य निष्पादन गारंटी जमा करने का निर्देश दिया था। 

अहमदाबाद : ADC बैंक मानहानि मामले में राहुल गांधी को मिली जमानत