BREAKING NEWS

नागरिकता विधेयक के खिलाफ असम में भड़की हिंसा, पुलिस ने चलाई रबड़ की गोलियां◾चिदंबरम ने CAB को बताया 'हिन्दुत्व का एजेंडा', कानूनी परीक्षण में नहीं टिकने का जताया भरोसा◾इसरो ने किया डिफेंस सैटेलाइट रीसैट-2BR1 लॉन्च, सेना की बढ़ेगी ताकत ◾हैदराबाद एनकाउंटर: सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए पूर्व न्यायाधीश को नियुक्त करने का रखा प्रस्ताव ◾पाकिस्तान : हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवाद वित्तपोषण के आरोप तय◾मनमोहन सिंह की सलाह पर लाया गया है नागरिकता संशोधन विधेयक : भाजपा◾कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और संविधान विरूद्ध◾राज्यसभा में नागरिकता बिल पेश, अमित शाह बोले- भारतीय मुस्लिम भारतीय थे, हैं और रहेंगे◾प्रियंका का वित्त मंत्री पर वार, कहा-आप प्याज नहीं खातीं, लेकिन आपको हल निकालना होगा ◾2002 गुजरात दंगा मामले में नानावती आयोग ने PM नरेंद्र मोदी को दी क्लीन चिट ◾BJP संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया ऐतिहासिक◾नागरिकता संसोधन बिल राज्यसभा में पेश होने से पहले बोले राहुल- यह उत्तर पूर्व पर एक आपराधिक हमला◾हैदराबाद एनकाउंटर मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, CP वीसी सज्जनार भी रहेंगे मौजूद◾निर्भया कांड: अजीबोगरीब दलीलों के साथ दोषी अक्षय ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की पुनर्विचार याचिका◾राज्यसभा में आज पेश होगा नागरिकता संशोधन बिल, कांग्रेस देशभर में करेगी प्रदर्शन◾झारखंड: तबरेज अंसारी की हत्या मामले में 6 आरोपियों को हाईकोर्ट से मिली जमानत◾राज्यसभा में CAB पारित कराने के लिए रणनीति बनाने में जुटी भाजपा◾झारखंड विधानसभा चुनाव : तीसरे चरण में भाजपा, झाविमो और आजसू की प्रतिष्ठा दांव पर ◾सोनिया ने पार्टी सांसदों को दिया रात्रिभोज◾UP : चौथी बार बुंदेलियों ने मोदी को लिखी खून से चिट्ठी ◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

सीएम की मां बोलीं कभी नहीं आई अरविंद की शिकायत

 kejriwal mother

नई दिल्ली : अरविंद बचपन से ही बहुत मेहनती और लगनशील थे। वह पढ़ाई के साथ अन्य सभी काम बेहद गंभीरता से करते थे। इसी का नतीजा है कि कभी उनके स्कूल से कोई शिकायत नहीं आती थी। पैरेंट्स टीचर मीटिंग में टीचर उनकी तारीफ ही करते थे। 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मां गीता देवी ने रविवार रात सीएम आवास पर देश में सर्वश्रेष्ठ चुने गए दिल्ली के तीन स्कूलों के प्रिंसिपल और कर्मचारियों के साथ चर्चा के दौरान एक शिक्षक के पूछने पर अनुभव साझा कर रही थीं। बता दें कि एजुकेशन वर्ल्ड ने देशभर के सरकारी स्कूलों का सर्वे किया। इसमें दिल्ली के तीन स्कूल सर्वश्रेष्ठ चुने गए। पिछले दिन मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की थी कि वह इन स्कूलों के प्रिंसिपल, शिक्षक और कर्मचारियों से मुलाकात करेंगे। इसका आयोजन रविवार को सीएम आवास पर किया गया। 

इस दौरान अरविंद केजरीवाल के पिता गोविंद राम केजरीवाल, मां गीता देवी और पत्नी सुनीता केजरीवाल भी मौजूद थीं। साथ ही उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया व उनकी पत्नी भी मौजूद थी। इसी दौरान अरविंद केजरीवाल के बचपन के बारे में एक शिक्षक ने उनकी मां गीता देवी से सवाल किया। गीता देवी ने बताया कि अरविंद हमेशा से हर काम को बेहद गंभीरता और लगन से करते थे। इसी कारण स्कूल में टीचर को कभी शिकायत का मौका नहीं मिला। कार्यक्रम में अरविंद केजरीवाल ने भी अपने अनुभव साझा किए।

डॉक्टर बनने की थी इच्छा...

केजरीवाल ने कहा कि स्कूली शिक्षा के दौरान एक टीचर थे, जो उन्हें बहुत प्यार करते थे। उन्होंने ही इस बात के लिए प्रेरित किया कि जीवन में जो भी करो, सबसे बेहतर करो। केजरीवाल ने कहा कि मेरी इच्छा डॉक्टर बनने की थी। लेकिन, टॉप संस्थान एम्स था और महज 25 सीटें होती थी। इस कारण टीचर ने इंजीनियरिंग करने को प्रेरित किया। टीचर की प्रेरणा से ही आईआईटी में गया। उन्होंने कहा कि बच्चों के जीवन में टीचर का अतुलनीय योगदान होता है।

...तब बच्चों ने कहा था शिक्षा जगत का भाग्य बदल देंगे केजरीवाल

मीटिंग के दौरान नरेला के एक शिक्षक भी मौजूद थे। उन्होंने बताया कि पांच साल पहले अरविंद केजरीवाल जी की रैली मेरे घर के पास से गुजर रही थी। मैंने मेरे बच्चों से कहा लो एक और नेता आ गए। मेरी बात को बच्चों ने काटा। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल राजनीति करने नहीं हमारा भविष्य सुधारने आ रहे हैं। इस बार जनता इनको ही वोट करेगी। तभी शिक्षा क्षेत्र में बदलाव आएगा। 

शिक्षक ने कहा, आज लगता है, बच्चे मुझसे ज्यादा समझदार थे, जिन्होंने अपने भाग्य को पहले ही पहचान लिया था। आज वह बच्चे बड़े गर्व से कहते हैं, देखा सर। हमलोगों ने कहा था कि अरविंद केजरीवाल शिक्षा जगत का भाग्य बदल देंगे।