BREAKING NEWS

आडवाणी, स्वराज ने शीला दीक्षित को दी श्रद्धांजलि ◾सोमवार को 2 बजकर 43 मिनट पर होगा चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण◾LIVE : कांग्रेस मुख्यालय पहुंचा शीला दीक्षित का पार्थिव शरीर, निगमबोध घाट पर होगा अंतिम संस्कार◾झारखंड : गुमला में डायन होने के शक में 4 लोगों की पीट-पीटकर हत्या◾कारगिल शहीदों की याद में दिल्ली में हुई ‘विजय दौड़’, लेफ्टिनेंट जनरल ने दिखाई हरी झंडी◾ आज सोनभद्र जाएंगे CM योगी, पीड़ित परिवार से करेंगे मुलाकात ◾शीला दीक्षित की पहले भी हो चुकी थी कई सर्जरी◾BJP को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन◾पार्टी की समर्पित कार्यकर्ता और कर्तव्यनिष्ठ प्रशासक थीं शीला दीक्षित : रणदीप सुरजेवाला ◾सोनभद्र घटना : ममता ने भाजपा पर साधा निशाना ◾मोदी-शी की अनौपचारिक शिखर बैठक से पहले अगले महीने चीन का दौरा करेंगे जयशंकर ◾दीक्षित के बाद दिल्ली कांग्रेस के सामने नया नेता तलाशने की चुनौती ◾अन्य राजनेताओं से हटकर था शीला दीक्षित का व्यक्तित्व ◾जम्मू कश्मीर मुद्दे के अंतिम समाधान तक बना रहेगा अनुच्छेद 370 : फारुक अब्दुल्ला ◾दिल्ली की सूरत बदलने वाली शिल्पकार थीं शीला ◾शीला दीक्षित के आवास पहुंचे PM मोदी, उनके निधन पर जताया शोक ◾शीला दीक्षित कांग्रेस की प्रिय बेटी थीं : राहुल गांधी ◾जीवनी : पंजाब में जन्मी, दिल्ली से पढाई कर यूपी की बहू बनी शीला, फिर बनी दिल्ली की मुख्यमंत्री◾शीला दीक्षित ने दिल्ली एवं देश के विकास में दिया योगदान : प्रियंका◾शीला दीक्षित के निधन पर दिल्ली में 2 दिन का राजकीय शोक◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

नए सीसीटीवी लगा रही, पुरानों की सुध नहीं : कांग्रेस

नई दिल्ली : दिल्ली प्रदेश कांग्रेस ने मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल द्वारा दिल्ली के रिहायशी इलाकों में सीसीटीवी लगाने को सरकार का प्रचार व वाहवाही लूटने का जरिया बताया। कांग्रेस का कहना है कि आने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए मुख्यमंत्री केजरीवाल बेताब हो रहे है और जाने अनजाने झूठी और बेबुनियाद घोषणाएं करके वाहवाही लूटने की कोशिश कर रहे हैं। 

कांग्रेस प्रवक्ता जितेन्द्र कोचर ने आरोप लगाया कि कैमरे लगाये जाना एक अच्छा कान्सेप्ट है तथा कानून व्यवस्था व दिल्ली वालों की सुरक्षा को लेकर एक अच्छी कोशिश है, लेकिन उन्होंने यह जानने की कोशिश की, कि जो कैमरे अब तक लगे है वह ठीक से भी काम कर रहे हैं या नहीं। कोचर ने उन्हें चुनौती दी और कहा कि वह आए और मालवीय नगर विधानसभा में देखें कि सीसीटीवी कैमरों की क्या दुदर्शा हो रही है। उन्होंने कहा स्थानीय विधायक ने खराब कैमरों को ठीक कराने की कभी कोशिश नहीं की, जबकि अधिकांश कैमरे विधायक फंड से लगे है। 

उन्होंने यह भी कहा कैमरे के लिए डी.वी.आर. की व्यवस्था खुद स्थानीय नागरिकों से चंदा इक्ट्ठा करके की। घोषणाएं करके वाहवाही लूटना अलग चीज है और जो चीज बन गई है, उसका रख रखाव पर कड़ी नजर रखना अलग चीज है। केजरीवाल सिर्फ सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों में दहशत फैलाना चाहते है, क्योंकि उनकी विश्वसनीयता पूरी तरह गिर चुकी है, उसे बचाने और सुधार के लिए केजरीवाल रोज नए-नए ड्रामें करते हैं।