BREAKING NEWS

मोदी सरकार ने ई-सिगरेट के उत्पादन को किया बैन, रेलवे कर्मचारियों को 78 दिन का मिलेगा बोनस◾लद्दाख में सेना-वायुसेना ने चीन को दिखाई ताकत, किया युद्ध का अभ्यास◾झारखंड में बोले अमित शाह-राहुल स्पष्ट करें कि वे 370 हटाने के पक्ष में हैं या विरोध में◾अयोध्या मामलें पर असदुद्दीन ओवैसी बोले- भाजपा या शिवसेना नहीं, SC सुनाएगा फैसला◾हिंदी न थोपें, पूरे भारत में एक ही भाषा संभव नहीं : रजनीकांत◾बसपा प्रमुख मायावती का कांग्रेस पर वार, कहा- दोगली नीति की वजह से देश में ‘साम्प्रदायिक ताकतें’ मजबूत ◾गुलाम नबी आजाद और अहमद पटेल ने चिदंबरम से तिहाड़ जेल में की मुलाकात◾अयोध्या मामला : सुप्रीम कोर्ट ने तय की सुनवाई की डेडलाइन, नवंबर तक आ सकता है फैसला◾मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विकास की धार से बना रहे उपचुनाव में जीत का रास्ता◾भारत को दोबारा GSP कार्यक्रम में शामिल करने के लिए 44 अमेरिकी सांसदों ने ट्रंप से की अपील◾रोज 5 ट्रिलियन- 5 ट्रिलियन बोलने से आर्थिक सुधार नहीं होता : प्रियंका गांधी◾जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी BAT की घुसपैठ को किया नाकाम, देखें VIDEO◾यदि सावरकर प्रधानमंत्री होते तो पाकिस्तान नहीं होता : उद्धव ठाकरे ◾राहुल ने अब्दुल्ला की हिरासत की निंदा की, तत्काल रिहाई की मांग की ◾नये वाहन कानून को लेकर ज्यादातर राज्य सहमत : गडकरी ◾यशवंत सिन्हा को श्रीनगर हवाईअड्डे से बाहर निकलने की नहीं मिली इजाजत, दिल्ली लौटे ◾2014 से पहले लोगों को लगता था कि क्या बहुदलीय लोकतंत्र विफल हो गया : गृह मंत्री◾देखें VIDEO : सुखोई 30 MKI से किया गया हवा से हवा में मार करने वाली ‘अस्त्र’ मिसाइल का प्रायोगिक परीक्षण◾नौसेना में 28 सितंबर को शामिल होगी स्कॉर्पीन श्रेणी की दूसरी पनडुब्बी ‘खंडेरी’ ◾भारत और चीनी सैनिकों के बीच झड़प नहीं हुई बल्कि यह तनातनी थी : जयशंकर ◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

कालकाजी थाने में लगी अदालत, सुनाया फैसला

दक्षिणी दिल्ली : तुगलकाबाद में बुधवार को संत गुरु रविदास मंदिर को गिराए जाने को लेकर बवाल मचाने वाले प्रदर्शनकारियों में जिन 96 लोगों को हिरासत में लिया गया था। उनके केस की सुनवाई के लिए गुरुवार को सुरक्षा कारणों से कालकाजी थाने में ही अदालत लगाई गई। थाने में मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट पहुंचे और वकीलों की दलिलों के बीच केस की करीब डेढ़ घंटे तक चली सुनवाई के बाद गिरफ्तार किए गए चन्द्रशेखर सहित सभी 96 लोगों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। 

इससे पहले कालकाजी थाने में हिरासत में लिए गए आरोपियों के खिलाफ दंगा भड़काने, सरकारी व निजी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने, आर्म्स एक्ट और पुलिसकर्मियों पर हमला करने समेत विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया। खास बात यह है कि गिरफ्तार किए गए लोगों में दिल्ली के महज 3 लोग हैं। बाकी सभी हरियाणा और पंजाब से आए थे। 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि बुधवार को हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने तुगलकाबाद इलाके में पुलिस से झड़प के दौरान जमकर तोड़-फोड़, पत्थरबाजी और आगजनी की थी। जिसमें कुछ पुलिस अधिकारियों समेत 1 दर्जन से ज्यादा पुलिसकर्मी और सैकड़ों लोग जख्मी हुई थे। बाद में पुलिस ने प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शनकारियों को काबू करते हुए पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया था।

इलाका पुलिस छावनी में तब्दील... गुरुवार को किसी हंगामे की सूचना तो नहीं मिली। फिर भी पूरे इलाके को पुलिस के घेरे में रखा गया।​ किसी भी परिस्थिति से निटपने के लिए पूरे इलाके में दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के जवान और अधिकारी समेत 1200 सुरक्षाकर्मियों को चप्पे-चप्पे पर तैनात किया गया है। बुधवार से ही दक्षिणी-रेंज के संयुक्त पुलिस आयुक्त देवेशचंद श्रीवास्तव ने खुद ही मोर्चा संभाल रखा था। 

देर रात फ्लैग मार्च के बाद सड़कों पर से बैरिकेड हटा लिए गए और यातायात सामान्य रूप से बहाल कर दिया गया। पुलिस ने मंदिर के पास एक किमी के दायरे में बैरिकेड लगाकर लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध लगा दिया। सुबह तक सड़कों पर टूटी हुई और जलाई गई गाड़ियां को भी हटा लिया गया। पुलिस और अर्धसैनिक बलों की तैनाती के अलावा किसी भी आपात स्थिति से निटपने के लिए इलाके में वाटर कैनन और फायर-ब्रिगेड की गाड़ियों को भी तैनात रखा गया। 

बुधवार को झड़प के दौरान गिरफ्तार किए गए 96 लोगों में सीआईएसएफ का एक जवान भी गिरफ्तार किया गया था। जिसकी पहचान सोमेन्द्र के तौर पर की गई है और जिसकी इन दिनों छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में तैनाती है। शुरुआती जांच में पता चला कि वह प्रदर्शन में शामिल होने के लिए छुट्टी लेकर पहुंचा था और भीम आर्मी प्रमुख के साथ ही मौजूद था। वह भीम आर्मी का सदस्य बताया जाता है। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी की बात संबंधित विभाग को भेज दी है। जिसके बाद उसपर विभागीय कार्रवाई हो सकती है।