BREAKING NEWS

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में कोरोना के 50 फीसदी मामले महाराष्ट्र और तमिलनाडु से◾बिहार में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए 16 से 31 जुलाई तक लगाया गया लॉकडाउन ◾राज्यपाल से मुलाकात के बाद बोले गहलोत- कुछ लोग 'आ बैल मुझे मार' रवैये के साथ कर रहे थे काम◾सचिन पायलट की अध्यक्ष पद से बर्खास्ती के बाद गोविंद सिंह डोटासरा को सौंपा गया कार्यभार◾कांग्रेस के एक्शन के बाद सचिन पायलट ने किया ट्वीट- सत्य को परेशान किया जा सकता है, पराजित नहीं ◾पूर्वी लद्दाख विवाद : भारत और चीन ने पैंगोग झील, देपसांग से सैनिकों को हटाने पर की वार्ता ◾कांग्रेस का सचिन पायलट पर बड़ा एक्शन, प्रदेश अध्यक्ष पद और उपमुख्यमंत्री के पद से किया बर्खास्त◾राजस्थान के मौजूदा संकट के लिए उमा भारती ने कांग्रेस और राहुल को बताया जिम्मेदार◾केजरीवाल ने प्लाज्मा बैंक का किया उद्धाटन, बोले- दिल्ली में कोरोना पीड़ित जरूरतमंदों को प्लाज्मा मिला ◾CBSE 10वीं का रिजल्ट कल होगा जारी, HRD मंत्री पोखरियाल ने की घोषणा ◾अमेरिका ने दक्षिण चीन सागर पर चीन के दावे को किया खारिज, कही ये बात◾पायलट का गहलोत के खिलाफ बगावती सुर बरकरार, मनाने में जुटा कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व◾कानपुर मुठभेड़ : एक और आरोपी शशिकांत गिरफ्तार, पुलिस को विकास दुबे के घर पर मिली AK-47◾भगवान राम को नेपाली बताने वाले बयान पर भड़के सिंघवी, बोले-ओली का बिगड़ गया है मानसिक संतुलन◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 9 लाख के पार, अब तक 24 हजार के करीब लोगों ने गंवाई जान ◾दुनियाभर में कोरोना का कहर, वैश्विक महामारी से संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 30 लाख से अधिक हुई ◾राहुल ने किया ट्वीट- इस हफ्ते हमारे देश में आंकड़ा 10,00,000 पार कर जाएगा◾आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में फार्मा कारखाने में लगी आग, एक घायल ◾राजस्थान : कांग्रेस विधायक दल की दूसरी बैठक आज, सचिन पायलट नहीं होंगे शामिल ◾पूर्वी लद्दाख विवाद : भारत और चीन के सैन्य कमांडरों के बीच आज होगी उच्च स्तरीय वार्ता ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दरियागंज हिंसा : भीम आर्मी प्रमुख के खिलाफ कोई सबूत पेश नहीं करने पर कोर्ट ने की दिल्ली पुलिस की खिंचाई

दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद के खिलाफ कोई सबूत नहीं दिखा पाने को लेकर मंगलवार को दिल्ली पुलिस की खिंचाई की और कहा कि लोग सड़कों पर इसलिए हैं क्योंकि जो चीजें संसद के अंदर कही जानी चाहिए थी, वे नहीं कही गयीं। 

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश कामिनी लाऊ ने कहा कि दिल्ली पुलिस ऐसे बर्ताव कर रही है जैसे कि जामा मस्जिद पाकिस्तान है और यदि ऐसा है तो भी कोई भी व्यक्ति वहां शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर सकता है। न्यायाधीश ने कहा कि पाकिस्तान एक समय अविभाजित भारत का हिस्सा था। कोर्ट की टिप्पणी आजाद की जमानत अर्जी पर सुनवाई के दौरान आयी। आजाद को पुरानी दिल्ली के दरियागंज में सीएए विरोधी प्रदर्शन से जुड़े एक मामले में गिरफ्तार किया गया था। 

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू

न्यायाधीश ने कहा, ‘‘संसद के अंदर जो बातें कही जानी चाहिए थीं, वे नहीं कही गयीं। यही वजह है कि लोग सड़कों पर उतर गये हैं। हमें अपना विचार व्यक्त करने का पूरा हक है लेकिन हम देश को नष्ट नहीं कर सकते।’’ कोर्टने कहा, ‘‘ आप ऐसे बर्ताव कर रहे हैं जैसे जामा मस्जिद पाकिस्तान हो और यदि वह पाकिस्तान है तो भी आप वहां जा सकते हैं और प्रदर्शन कर सकते हैं। पाकिस्तान अविभाजित भारत का हिस्सा था।’’ 

कोर्ट ने पुलिस के जांच अधिकारी से उन सारे सबूतों को पेश करने को कहा जो दर्शाते हों कि आजाद जामा मस्जिद में सभा को कथित रूप से भड़काऊ भाषण दे रहे थे। जांच अधिकारी से ऐसा कानून भी बताने को कहा गया जिससे पता चले कि सभा असंवैधानिक थी। तीस हजारी कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई की तारीख बुधवार तय की। सुनवाई के दौरान पुलिस ने कहा कि उसके पास सबूत के तौर पर बस सभा की ड्रोन तस्वीरें हैं, अन्य कोई रिकार्डिंग नहीं है। 

इस पर न्यायाधीश ने कहा, ‘‘क्या आप सोचते हैं कि दिल्ली पुलिस इतनी पिछड़ी है कि उसके पास किसी चीज की रिकार्डिंग करने के यंत्र नहीं हैं?’’ कोर्टने कहा, ‘‘ मुझे कुछ ऐसी चीज या कानून दिखाइए जो ऐसी सभा को रोकता हो... हिंसा कहां हुई? कौन कहता है कि आप प्रदर्शन नहीं कर सकते... क्या आपने संविधान पढ़ा है। प्रदर्शन करना किसी भी व्यक्ति का संवैधानिक अधिकार है।’’