BREAKING NEWS

कोटकपूरा गोलीकांड : SIT ने पंजाब के पूर्व CM प्रकाश सिंह बादल को किया तलब◾महाराष्ट्र : संजय राउत का बड़ा आरोप- पूर्ववर्ती भाजपा सरकार में शिवसेना के साथ किया जाता था ‘गुलामों’ की तरह व्यवहार ◾अगले 3 दिनों में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 4 लाख से अधिक कोरोना वैक्सीन मिलेगी ◾केजरीवाल का ऐलान- कल से खुलेंगे मॉल और बाजार, 50 प्रतिशत क्षमता के साथ मिली रेस्तरां खोलने की अनुमति ◾उत्तराखंड : कांग्रेस की वरिष्ठ नेता इंदिरा हृदयेश का निधन, दिल्ली में ली अंतिम सांस◾अमित मित्रा के आरोपों पर बोले अनुराग ठाकुर-वित्त मंत्री ने कभी अनसुनी नहीं की किसी की बात◾कोरोना आंकड़ों पर राहुल गांधी ने उठाए सवाल, पूछा- भारत सरकार का सबसे कुशल मंत्रालय कौन सा है◾यमुना एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसा, ट्रक में जा घुसी कार, 3 की मौत ◾देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 80834 नए मामलों की पुष्टि, 3303 लोगों ने गंवाई जान ◾दुनियाभर में कोरोना महामारी का प्रकोप जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 17.55 करोड़ से अधिक ◾जी-7 नेताओं से अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन ने किया अनुरोध, कहा- चीन के वैश्विक अभियान के साथ करें प्रतिस्पर्धा◾ एक साल में कोवैक्सीन की सुरक्षा और प्रभावकारिता पर नौ सर्च प्रकाशित किए : भारत बायोटेक ◾PM मोदी ने G-7 सम्मेलन को किया संबोधित, ‘एक धरती, एक स्वास्थ्य’ दृष्टिकोण को अपनाने का किया आह्वान ◾केंद्र सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में JDU ने दिखाई दिलचस्पी, कहा- सहयोगियों को मिलना चाहिए सम्मानजनक हिस्सा ◾दिग्विजय के बयान पर कांग्रेस का बचाव : जम्मू-कश्मीर पर सीडब्ल्यूसी का प्रस्ताव देखें वरिष्ठ नेता ◾राजधानी दिल्ली में कोविड-19 पर लगी ब्रेक, तीन महीने में सबसे कम नए मामले आये सामने ◾कोविड की दूसरी लहर के दौरान बच्चों के नियमित टीकाकरण में भारी गिरावट पर विशेषज्ञों ने जताई चिंता ◾कोरोना के बहाने बिहार BJP का तंज - 'घरों से उतना ही बाहर निकलें जितना राहुल गांधी मंदिर जाते हैं' ◾सूदखोर ने इतना किया परेशान कि परिवार को देनी पड़ी जान, ऑडियो क्लिप से हुआ आत्महत्या पर खुलासा◾'रक्षकों को बचाओ' : डॉक्टरों पर हमलों के खिलाफ 18 जून को देशव्यापी प्रदर्शन करेगा IMA ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अदालत ने अवैध हथियार रखने पर पूर्व IAS अधिकारी को पांच साल कारावास की सजा सुनाई

दिल्ली की एक अदालत ने 81 वर्षीय पूर्व आईएएस अधिकारी को अवैध रूप से हथियार रखने के 32 साल पुराने मामले में पांच साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट अनु अग्रवाल ने सुरेंद्र सिंह अहलूवालिया को दोषी ठहराया और उन पर 1.50 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया। 


अदालत ने कहा कि अभियुक्त व्यवस्था का जानबूझकर और सुनियोजित तरीके से लाभ उठाने के दोषी हैं। सेवारत आईएएस अधिकारी होने के नाते उन्हें कानून के शासन को कायम रखना था लेकिन उन्होंने इसके विपरीत काम किया और शस्त्र कानून का उल्लंघन करते हुए हथियार खरीदे। इस क्रम में उन्होंने जालसाजी भी की। 


सीबीआई ने 31 अगस्त, 1987 को अहलूवालिया के खिलाफ हथियार रखने के लिए मामला दर्ज किया था। उस समय वह नगालैंड में सचिव और आयुक्त (श्रम और रोजगार) थे। 


एजेंसी ने उनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में दिल्ली तथा कोहिमा में उनके घरों की तलाशी ली थी। इस क्रम में एक कारबाइन और एक चेकोस्लोवाकियन राइफल सहित पांच बंदूकें और 328 गोलियां मिली थीं। 


वह कथित रूप से आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने को लेकर जांच के दायरे में आए थे। संपत्ति में वातानुकूलित सिनेमा घर के अलावा दिल्ली, ग्वालियर और चंडीगढ़ के पॉश इलाकों में संपत्ति शामिल हैं। अदालत ने उन्हें भारतीय दंड संहिता और शस्त्र कानून की विभिन्न धाराओं के तहत दोषी ठहराया।