BREAKING NEWS

'ओमिक्रॉन' के बढ़ते खतरे के बीच क्या भारत में लगेगी बूस्टर डोज! सरकार ने दिया ये जवाब ◾2021 में पेट्रोल-डीजल से मिलने वाला उत्पाद शुल्क कलेक्शन हुआ दोगुना, सरकार ने राज्यसभा में दी जानकारी ◾केंद्र सरकार ने MSP समेत दूसरे मुद्दों पर बातचीत के लिए SKM से मांगे प्रतिनिधियों के 5 नाम◾क्या कमर तोड़ महंगाई से अब मिलेगाी निजात? दूसरी तिमाही में 8.4% रही GDP ग्रोथ ◾उमर अब्दुल्ला का BJP पर आरोप, बोले- सरकार ने NC की कमजोरी का फायदा उठाकर J&K से धारा 370 हटाई◾LAC पर तैनात किए गए 4 इजरायली हेरॉन ड्रोन, अब चीन की हर हरकत पर होगी भारतीय सेना की नजर ◾Omicron वेरिएंट को लेकर दिल्ली सरकार हुई सतर्क, सीएम केजरीवाल ने बताई कितनी है तैयारी◾NIA की हिरासत मेरे जीवन का सबसे ‘दर्दनाक समय’, मैं अब भी सदमे में हूं : सचिन वाजे ◾भाजपा की चिंता बढ़ा सकता है ममता का मुंबई दौरा, शरद पवार संग बैठक के अलावा ये है दीदी का प्लान ◾ओमीक्रोन के बढ़ते खतरे पर गृह मंत्रालय का एक्शन - कोविड प्रोटोकॉल गाइडलाइन्स 31 दिसंबर तक बढा़ई ◾निलंबन वापसी पर केंद्र करेगी विपक्ष से बात, विधायी कामकाज कल तक टालने का रखा गया प्रस्ताव, जानें वजह ◾राहुल के ट्वीट पर पीयूष गोयल ने निशाना साधते हुए पूछा तीखा सवाल, खड़गे द्वारा लगाए गए आरोपों की कड़ी निंदा की ◾कश्मीर में सामान्य स्थिति लाने के लिए बहाल करनी होगी धारा 370 : फारूक अब्दुल्ला◾स्वास्थ्य मंत्री मंडाविया ने बताया - भारत में अब तक ओमिक्रॉन वेरिएंट का कोई मामला नहीं मिला◾मप्र में शिवराज सरकार के लिए मुसीबत का सबब बने भाजपा के लिए नेताओं के विवादित बयान ◾UP: विधानसभा Election को सियासी धार देने के लिए BJP करेगी छह चुनावी यात्राएं, ये वरिष्ठ नेता होंगे सम्मिलित ◾UP चुनाव को लेकर मायावती खेल रही जातिवाद का दांव, BJP पर लगाए मुसलमानों के उत्पीड़न जैसे कई आरोप ◾12 सांसदों के निलंबन पर राहुल का ट्वीट, 'किस बात की माफी, संसद में जनता की बात उठाने की' ◾ओमीक्रॉन को लेकर केंद्र ने अपनाया सख्त रवैया, सभी राज्यों को दिए जांच बढ़ाने समेत कई निर्देश, जानें क्या कहा ◾राज्यसभा सभापति वेंकैया नायडू ने ठुकराया 12 सांसदों का निलंबन रद्द करने का अनुरोध ◾

धोखे से शादी करने और जबरन धर्मांतरण कराने के आरोपी को दिल्ली अदालत ने जमानत देने से किया इनकार

दिल्ली की एक अदालत ने उस शख्स को जमानत देने से इनकार कर दिया जिस पर फर्जी आधार कार्ड दिखाकर एक लड़की से शादी करने के लिए खुद को हिंदू दिखाने, लड़की को इस्लाम धर्म अपनाने के लिए मजबूर करने और इनकार करने पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप है। मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट जितेंद्र प्रताप सिंह ने राहत देने से इनकार करते हुए कहा कि इस पर यकीन न करने की कोई वजह नहीं है कि शिकायकर्ता ने आरोपी से एक मंदिर में शादी की और फिर अपने बच्चे का भविष्य सुरक्षित करने के दबाव में इस्लामिक रीति-रिवाजों से शादी की।

न्यायाधीश ने कहा कि आरोपी के फर्जी आधार कार्ड बनवाने और इसी तरीके से एक अन्य महिला से शादी करने के आरोपों की अभी जांच की जानी है। उन्होंने 29 सितंबर को दिए एक आदेश में कहा, ‘‘अगर आरोपी को जमानत पर रिहा कर दिया जाता है तो उसके सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने और गवाहों को प्रभावित करने की आशंका है।’’ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने आरोपों की गंभीरता पर विचार करते हुए दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना को इस मामले की आगे पुलिस की उचित शाखा या इकाई से जांच कराने के लिए हस्तक्षेप करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि स्थानीय पुलिस को भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) से फर्जी आधार कार्ड के संबंध में सूचना नहीं मिल सकी।

महिला ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि आरोपी ने आधार कार्ड पर अपना नाम राहुल शर्मा दिखाते हुए 2010 में एक मंदिर में उससे शादी की लेकिन उनकी बेटी के पहले जन्मदिन पर उसे पता चला कि वह मुस्लिम है और उसका असली नाम नूरेन है। उसने दावा किया कि समाज में बदनामी के डर से उसने कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जिसका आरोपी ने फायदा उठाया और उससे इस्लाम धर्म कबूल करने तथा इस्लामिक रीति-रिवाजों के अनुसार फिर से शादी करने को कहा जिसके बाद अत्यधिक दबाव और अपने बच्चे के भविष्य पर विचार करते हुए उसने शादी कर ली।

शिकायकर्ता ने कहा, ‘‘इसके बाद आरोपी का व्यवहार बदल गया और उसने उसे, उसकी बच्ची तथा उनके धर्म का अपमान करना शुरू कर दिया और जब भी वह विरोध करती तो वह उसे जान से मारने की धमकी देता। इसके बाद उसे पता चला कि आरोपी किसी और हिंदू लड़की से बात कर रहा है और उससे भी शादी करने वाला है।’’ महिला ने अदालत को बताया कि आरोपी ने इसी तरीके से दूसरी महिला से शादी की। अदालत ने कहा कि दूसरी महिला दबाव में है जिसकी पुलिस को गंभीरता से जांच करने की आवश्यकता है।