BREAKING NEWS

‘हर घर जल उत्सव’ : PM मोदी बोले-देश बनाने लिए वर्तमान और भविष्य की चुनौतियों का लगातार समाधान कर रही सरकार ◾नई एक्साइज पॉलिसी से केजरीवाल और AAP के लिए पैसा बनाते हैं सिसोदिया : मनोज तिवारी◾केंद्र सरकार पर केजरीवाल का आरोप, कहा- अच्छे काम करने वालों को रोका जा रहा ◾अमित शाह ने सभी राज्यों से राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों को प्राथमिकता देने का किया आग्रह◾जांच एजेंसियों के दुरुपयोग से भ्रष्टाचारियों को बचने में मदद मिलती है : पवन खेड़ा ◾पूर्व NCB अधिकारी समीर वानखेड़े को मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस ◾सिसोदिया के खिलाफ CBI रेड पर कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित का बड़ा बयान◾सिसोदिया के घर पर CBI का छापा, केजरीवाल ने कहा- मिल रहा अच्छे प्रदर्शन का इनाम ◾भ्रष्ट व्यक्ति खुद को कितना भी बेकसूर साबित कर ले, वह भ्रष्ट ही रहेगा : अनुराग ठाकुर◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटो में 15,754 नए मामले सामने आए, संक्रमण दर 3.47 प्रतिशत दर्ज◾Uttar Pradesh: श्रीकांत त्यागी को मिला बीकेयू का समर्थन, रिहाई की मांग की ◾मनीष सिसोदिया के घर पहुंची CBI, केजरीवाल बोले-इस बार भी कुछ सामने नहीं आएगा◾भारत के साथ शांतिपूर्ण संबंध और कश्मीर मुद्दे का समाधान चाहता है पाकिस्तान : शहबाज शरीफ◾देशभर में जन्माष्टमी की धूम, PM मोदी बोले-सुख, समृद्धि और सौभाग्य लेकर आए यह उत्सव◾गोवा में ‘हर घर जल उत्सव’ को डिजिटल माध्यम से संबोधित करेंगे PM मोदी◾आज का राशिफल (19 अगस्त 2022)◾राजू श्रीवास्तव की हालत स्थिर, डॉक्टर उनका बेहतर इलाज कर रहे हैं : शिखा श्रीवास्तव◾कोलकाता में ममता से मिले पूर्व भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी◾महाराष्ट्र : रायगढ़ तट से मिली संदिग्ध नाव, AK-47 समेत कई हथियार बरामद ◾रोहिंग्याओं पर राजनीति! भाजपा ने कहा- केजरीवाल रोहिंग्याओं को ‘रेवड़ी’ बांट रहे, राष्ट्रीय सुरक्षा के समझौते को तैयार◾

Delhi: उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया बोले- बच्चों में आत्मविश्वास पैदा करने की बहुत ज़रूरत

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को बच्चों में आत्मविश्वास पैदा करने की ज़रूरत पर बल देते हुए कहा कि हमें बच्चों के सफल होने की क्षमता पर विश्वास रखना चाहिए और उन्हें अपने सपनों को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।

सिसोदिया ने कहा कि जब भी बच्चे आईएएस अधिकारी

सिसोदिया यहां दिल्ली बाल अधिकार संरक्षण आयोग (डीसीपीसीआर) के ''चिल्ड्रन फर्स्ट'' जर्नल के दूसरे अंक के विमोचन के अवसर पर भाषण दे रहे थे। उन्होंने कहा, ''हमारी शिक्षा प्रणाली की सबसे बड़ी कमी यह है कि हमें अपने बच्चों के सफल होने की क्षमता पर विश्वास नहीं है। सवाल यह नहीं है कि हम राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) को लेकर क्या सोचते हैं, बल्कि यह है कि हम अपने बच्चों के साथ घर और कक्षा में किस तरह से बातचीत करते हैं। इससे पता चलता है कि उनमें विश्वास की कमी है।''

राष्ट्रीय राजधानी के शिक्षा मंत्री सिसोदिया ने कहा कि जब भी बच्चे आईएएस अधिकारी, उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश या खिलाड़ी बनने का सपना बताते हैं, तो हम उन्हें उनकी सीमा के भीतर सपने देखने के लिए मजबूर करते हैं। उन्होंने कहा, ''आज एक गरीब घर की बेटी भी राष्ट्रपति बन सकती हैं। इसी तरह, हर लड़की अपना सपना पूरा कर सकती है, हमें केवल उसके आत्मविश्वास को मजबूत करने की ज़रूरत है।''

सिसोदिया ने कहा, ''मैं एक ऐसा देश चाहता हूं

सिसोदिया ने कहा, ''मैं एक ऐसे भारत का सपना देख रहा हूं, जहां हर बच्चा जीवन में सब कुछ हासिल करने का आत्मविश्वास रखता हो।'' उन्होंने कहा कि भारतीय शिक्षा प्रणाली ऐसी होनी चाहिए कि दूसरे देशों के लोग अपने बच्चों को यहां पढ़ने के लिए भेजें। यह पूछे जाने पर कि बच्चों के लिए वह किस तरह का भारत चाहते हैं? सिसोदिया ने कहा, ''मैं एक ऐसा देश चाहता हूं जहां शिक्षा, नौकरी, स्वास्थ्य और न्याय के अच्छे अवसर हों ताकि हमें दूसरे देशों पर निर्भर न रहना पड़े।'' समारोह में बतौर मुख्य अतिथि आए उच्चतम न्यायालय के न्यायमूर्ति बीवी नागरत्ना ने कहा कि बच्चों के लिए न्याय तक प्रभावी पहुंच सुनिश्चित करना आवश्यक है।