BREAKING NEWS

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रिया चक्रवर्ती को भेजा सम्मन, सात अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया ◾एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच करेगी सीबीआई, केंद्र ने जारी की अधिसूचना ◾चीन का बड़बोलापन : जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाना अवैध और अमान्य, एकतरफा बदलाव अस्वीकार्य◾भूमि पूजन के बाद भावविभोर हुए योगी, बोले : 'रामराज्य' और 'नए भारत निर्माण' के युग का प्रारंभ◾अयोध्या : भूमि पूजन के दौरान चरम पर पहुंचा रामभक्तों का उत्साह, भावुक हुए श्रद्धालु◾भूमिपूजन पर बोले ओवैसी-यह लोकतंत्र की हार और हिंदुत्व की सफलता का दिन◾अयोध्या में सुनहरा अध्याय रच रहा है भारत, राष्ट्रीय एकता और राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा राम मंदिर : PM मोदी ◾भूमि पूजन के बाद बोले मोहन भागवत-आज देश में सदियों की आस पूरी होने का आनंद◾राम मंदिर भूमि पूजन के बाद राहुल का तंज- घृणा और क्रूरता से प्रकट नहीं हो सकते राम◾500 साल का लंबा इंतजार खत्म, भूमि पूजन के साथ साकार हुआ भव्य राम मंदिर का सपना◾सुशांत सुसाइड केस : केंद्र ने CBI जांच संबंधी सिफारिश की स्वीकार, SC ने कहा- मामले का सच सामने आना चाहिए◾राम मंदिर भूमि पूजन : अयोध्या में PM मोदी ने रामलला के किए दर्शन, कार्यक्रम की हुई शुरुआत ◾अनुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने का एक वर्ष पूरा, लाल चौक पर BJP कार्यकर्ता रम्यसा रफीक ने लहराया तिरंगा◾World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 85 लाख के पार, 7 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾देश में कोरोना संक्रमण के 52 हजार 509 नए मामलों की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 19 लाख के पार◾LAC विवाद : भारत के शीर्ष सैन्य और रणनीतिक पदाधिकारियों ने पूर्वी लद्दाख में की हालात की समीक्षा◾राम मंदिर भूमि पूजन : PM मोदी के आगमन के लिए फूलों से सजकर तैयार है हनुमान गढ़ी मंदिर ◾ राम मंदिर भूमि पूजन से एक दिन पहले मिट्टी के दीपों ने नगरी के संध्याकाल को बनाया 'दिव्य' ◾सालों का इंतजार हुआ खत्म, PM मोदी आज अयोध्या में करेंगे राम मंदिर का भूमि पूजन, जानिए PM मोदी का पूरा कार्यक्रम◾लेबनान की राजधानी बेरूत में भयानक विस्फोट, 10 लोगों की मौत, कई लोग घायल ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दिल्ली सरकार ने 100 सेवाओं को लोगों के घर तक पहुंचाया : केजरीवाल

नई दिल्ली : दिल्ली में रहने वाले लोगों को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को एक और सौगात दी। अब लोग घर बैठे 100 सरकारी सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे। दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को 30 और सरकारी सेवाओं को डोर स्टेप डिलीवरी योजना में शामिल कर लिया है। इससे पहले सरकार ने 70 सेवाओं को डोर स्टेप डिलीवरी योजना में शामिल किया था। 

दिल्ली सचिवालय में आयोजित एक प्रेसवार्ता के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली दुनिया में ऐसी पहली सरकार है जो लोगों को सरकारी सुविधा उसके घर जाकर दे रही है। अब इसमें विस्तार से लोगों को और राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि करीब सवा साल पहले दिल्ली सरकार ने डोर स्टेप डिलीवरी सर्विसेज का एक यूनिक प्रयोग करते हुए एक नंबर 1076 दिया था। जिस पर फोन करने पर दिल्ली सरकार से एक व्यक्ति आपके घर आएगा। 

आप को अपने स्व प्रमाणित डॉक्यूमेंट की कॉपी देनी होगी और सर्टिफिकेट घर पर पहुंच जाएगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि अब ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेन्ट, दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन, लेबर डिपार्टमेन्ट, वुमन एंड चाइल्ड डिपार्टमेन्ट, दिल्ली फार्मेसी काउंसिल और ड्रग्स कंट्रोल डिपार्टमेन्ट को भी डोर स्टेप डिलीवरी योजना में शामिल कर लिया गया है। इन विभागों की 30 सेवाएं शामिल की गई हैं। अब कुल 14 विभागों की 100 सेवाओं का लाभ इस योजना के तहत लिया जा सकता है।

योजना के अब तक के प्रदर्शन पर एक नजर... सीएम ने बताया कि योजना के तहत अब तक (12 दिसंबर तक) कुल 16,31,772 फोन काल्स आए। इसमें काफी फोन पूछताछ के लिए आए हैं। काम कराने के लिए 2,89,762 फोन कॉल्स आए। इसमें से 10,892 आवेदनों के डॉक्यूमेंट अधूरे पाये गए थे। शेष बचे 2,78,870 आवेदन में से 2,64,927 आवेदनों का निस्तारण किया जा चुका है।

डोर स्टेप डिलीवरी में सफलता का प्रतिशत 91 

सीएम ने कहा कि दिल्ली में तीन तरह से काम करा सकते हैं। पहला सरकारी दफ्तर में जाकर, दूसरा ऑनलाइन व तीसरा डोर स्टेप डिलीवरी के जरिये से। अब तक खिड़की पर जाकर काम करने का सक्सेस रेट 57 और 43 प्रतिशत लोगों के आवेदन किसी न किसी वजह से रिजेक्ट कर दिये। 

ऑनलाइन में 45 प्रतिशत काम होता है व 55 प्रतिशत लोगों के कम रिजेक्ट कर दिये गए हैं। डोर स्टेप में 91 प्रतिशत लोगों के काम हुए हैं। सिर्फ 9 प्रतिशत लोगों के काम को ही रिजेक्ट किया गया है।

इस तरह दिया जा रहा है लाभ

अब किसी नागरिक को सरकारी कार्यालय में आने व लाइन में लगने की जरूरत नहीं है। डोर स्टेप योजना ने मध्यस्थ व दलालों की भूमिका को बहुत कम कर दिया।