BREAKING NEWS

राजू श्रीवास्तव की हालत स्थिर, डॉक्टर उनका बेहतर इलाज कर रहे हैं : शिखा श्रीवास्तव◾कोलकाता में ममता से मिले पूर्व भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी◾महाराष्ट्र : रायगढ़ तट से मिली संदिग्ध नाव, AK-47 समेत कई हथियार बरामद ◾रोहिंग्याओं पर राजनीति! भाजपा ने कहा- केजरीवाल रोहिंग्याओं को ‘रेवड़ी’ बांट रहे, राष्ट्रीय सुरक्षा के समझौते को तैयार◾जयशंकर ने कहा- भारत स्वतंत्र, समावेशी व शांतिपूर्ण हिंद प्रशांत की परिकल्पना करता है◾गहलोत का भाजपा पर फूटा गुस्सा- देश को हिंदू राष्ट्र बनाया तो होगा पाकिस्तान जैसा हाल◾रायगढ़ में नाव को लेकर बवाल! फडणवीस बोले- खराब मौसम के कारण नाव अनियंत्रित होकर बहते हुए..... ◾ कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने कहा, कर्नाटक में कांग्रेस एकजुट, अकेले और सामूहिक नेतृत्व में लड़ेंगे विधानसभा चुनाव◾पता लगाएं किसने रोहिंग्या को फ्लैट में स्थानांतरित करने का फैसला किया? सिसोदिया ने गृहमंत्री को लिखा पत्र ◾रोहिंग्याओं को लेकर बवाल, थरूर बोले-मुद्दे पर सरकार में असमंजस देश के लिए कलंक◾Jagdeep Dhankhar: उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से गुलाम नबी आजाद ने अहम मुलाकात की◾राहुल गांधी का भाजपा पर कटाक्ष, बोले- पीएम नरेंद्र मोदी को ऐसी राजनीति पर नहीं आती शर्म◾बीमा भारती के लेसी सिंह पर लगाए आरोपों पर भड़के नीतीश, कहा-अगर इधर-उधर का मन है तो अपना सोचें◾Maharashtra: अवैध शराब पर राज्य के गृह विभाग को वासुदेव के खिलाफ रिपोर्ट मिली, जल्द होगा निलंबित.....बोले फडणवीस ◾Gujarat News: AAP पार्टी का मास्टर प्लान! गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए 9 उम्मीदवारों की दूसरी सूची सांझा की ◾नीतीश के एक और मंत्री विवादों में, कृषि मंत्री सुधाकर सिंह पर लगा भ्रष्टाचार का आरोप◾Defamation Case : मुंबई कोर्ट का आदेश- संजय राउत को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए किया जाए पेश ◾फेक न्यूज पर मोदी सरकार का एक्शन, एक पाकिस्तानी समेत 8 YouTube चैनल किए ब्लॉक ◾बाहुबली मुख्तार अंसारी पर बड़ी कार्रवाई, दिल्ली और UP में कई ठिकानों पर ED की रेड◾पश्चिम बंगाल : टेरर कनेक्शन पर एक्शन, STF ने अलकायदा के 2 आतंकियों को किया गिरफ्तार◾

दिल्ली : राजद्रोह मामले में शर्जील इमाम की जमानत पर HC ने दिल्ली पुलिस से मांगा जवाब

देश की राजधानी दिल्ली में हाई कोर्ट ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ 2019 में हुए प्रदर्शनों के दौरान कथित भड़काऊ भाषण देने के मामले में गिरफ्तार जेएनयू के छात्र नेता शर्जील इमाम की जमानत अर्जी पर बुधवार को दिल्ली पुलिस से जवाब मांगा। न्यायमूर्ति सिद्धार्थ मृदुल और न्यायमूर्ति अनूप कुमार मेंदीरत्ता की पीठ ने दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा को नोटिस जारी किया और उसे 10 दिन के अंदर जवाब देने का निर्देश दिए। हाई कोर्ट की पीठ ने अगली सुनवाई के लिए 24 मार्च की तारीख तय की है।

निचली अदालत के आदेश को दी थी चुनौती 

अभियोजन पक्ष के अनुसार इमाम ने 13 दिसंबर, 2019 को जामिया मिलिया इस्लामिया और 16 दिसंबर, 2019 को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में कथित रूप से भाषण दिए थे। उन्होंने इन भाषणों में असम और शेष उत्तर पूर्व का संपर्क भारत से काटने की धमकी दी थी। इमाम ने मामले में जमानत से इनकार करने के एक निचली अदालत के 24 जनवरी के आदेश को उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी। सुनवाई के दौरान पीठ ने प्रथम दृष्टया राय व्यक्त की कि अदालत ने जमानत देने या इनकार करने के लिए संबंधित विचारों पर ध्यान नहीं दिया।

पुलिस बताए जमानत क्यों नहीं मिलनी चाहिए : कोर्ट 

पीठ ने पूछा, उन्होंने (निचली अदालत के न्यायाधीश ने) कुछ नहीं देखा। ये सारे अपराध सात साल से कम सजा वाले हैं। हम आपसे (पुलिस) से पूछ रहे हैं कि उन्हें जमानत पर क्यों नहीं छोड़ा जाना चाहिए? क्या वह फरार हो सकते हैं? क्या वह सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं? गवाह कौन हैं? इस पर अभियोजक ने कहा कि इमाम पर भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए (राजद्रोह के लिए सजा) के तहत भी आरोप हैं जिसमें उम्रकैद तक की सजा का प्रावधान है। पीठ ने कहा कि राजद्रोह में हिंसा के लिए उकसाने की बात होनी चाहिए। उसने कहा कि पुलिस को अदालत को समझाना होगा कि इमाम को जमानत क्यों नहीं मिलनी चाहिए।