BREAKING NEWS

आप नेता राघव चड्डा ने हिंसा के मुद्दे पर बीजेपी को घेरा, लगाए कई गंभीर आरोप◾दिल्ली में हिंसा के लिए गृह मंत्री जिम्मेदार, कांग्रेस ने कहा- केवल 30 से 40 ट्रैक्टर लेकर उपद्रवी लाल किले में कैसे घुस पाए?◾हिंसा के बाद किसान आंदोलन में पड़ी दरार, दो संगठनों ने खुद को किया अलग◾26 जनवरी हिंसा: राकेश टिकैत, अन्य किसान नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज◾गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कानून-व्यवस्था की समीक्षा की ◾संयुक्त किसान मोर्चा की सफाई - असामाजिक तत्वों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को नष्ट करने की कोशिश की◾दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा के संबंध 200 लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी ◾BCCI प्रमुख सौरव गांगुली को सीने में दर्द, अपोलो हॉस्पिटल में कराया गया एडमिट ◾नेपाल में कोविड टीकाकरण का पहला चरण शुरू, भारत ने तोहफे में दी है 10 लाख वैक्सीन डोज◾ किसान ट्रैक्टर परेड: गणतंत्र दिवस पर हिंसा की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल◾दो दिवसीय दौरे पर केरल पहुंचे राहुल, मलप्पुरम में गर्ल्स स्कूल के भवन का किया उद्घाटन ◾किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश हुई कामयाब : हन्नान मोल्लाह◾किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा में 300 पुलिसकर्मी हुए घायल, क्राइम ब्रांच करेगी जांच◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : संयुक्त किसान मोर्चा ने बुलाई बैठक, सभी पहलुओं पर होगी चर्चा ◾DND फ्लाईओवर पर लगा भारी जाम, लाल किला मेट्रो स्टेशन की एंट्री व एग्जिट बंद ◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में 12 हजार नए केस, 137 मरीजों की हुई मौत ◾वीडियो वायरल होने के बाद बोले राकेश टिकैत-लाठी कोई हथियार नहीं◾विश्व में कोरोना का प्रकोप जारी, मरीजों का आंकड़ा 10 करोड़ से पार ◾किसानों की ट्रैक्टर परेड में बवाल, दिल्ली पुलिस ने हिंसा के मामले में 22 FIR दर्ज की ◾TOP 5 NEWS 27 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दिल्ली दंगे : उमर खालिद ने अदालत के समक्ष कहा-अवैध रूप से बढ़ाई गई उसकी हिरासत

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद ने सोमवार को यहां एक अदालत के समक्ष आरोप लगाया कि फरवरी में उत्तर-पूर्वी दिल्ली के दंगों से जुड़े एक मामले में उसकी हिरासत अवधि को ‘‘अवैध रूप से’’ और उनके वकीलों को पूर्व सूचना दिए बिना बढ़ाया गया। खजूरी खास इलाके में दंगे से संबंधित मामले में मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट दिनेश कुमार के समक्ष वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए खालिद ने यह बयान दिया। 

खालिद को इस मामले में एक अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था और वह अभी न्यायिक हिरासत में है। उसे पहले सितंबर में दंगों में बड़ी साजिश से संबंधित एक अलग मामले में गिरफ्तार किया गया था, जो कि नागरिकता (संशोधन) अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों और उसका समर्थन करने वालों के बीच भड़का था, जिसमें 50 से अधिक लोग मारे गए थे और काफी संख्या में लोग घायल हो गए थे। खालिद की ओर से पेश अधिवक्ता सान्या कुमार ने आरोप लगाया कि मामले में उसकी गिरफ्तारी की शुरुआत से ही उनके वकीलों को रिमांड आवेदनों की प्रतियां नहीं दी गईं और कब और किस न्यायाधीश के समक्ष पेश किया जाएगा, इस बारे में जानकारी नहीं दी गई। 

उन्होंने दावा किया, “बार-बार बिना किसी ठोस वजह के हिरासत अवधि को बढ़ाया गया। केस डायरी पर हस्ताक्षर नहीं किए गए, हमें हिरासत संबंधी आवेदन की एक प्रति तक नहीं दी गई।’’ अदालत ने इस मामले की अगली सुनवाई 27 नवंबर को निर्धारित की है। इस आवेदन को अधिवक्ता त्रिदीप पेस और कुमार ने दायर किया था, जिसमें उन्होंने अदालत से जांच एजेंसी और साथ ही जेल अधिकारियों को यह निर्देश देने का अनुरोध किया कि वे खालिद के वकील को रिमांड या रिमांड बढ़ाने की मांग वाली अर्जी की एक प्रति प्रदान करें। याचिका में अदालत से पुलिस को यह निर्देश देने का भी आग्रह किया गया है कि वह खालिद के आगे की कार्यवाही के समय, स्थान और माध्यम के बारे में वकील को एक दिन पहले ही सूचना दें।