BREAKING NEWS

स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी में देशभक्ति का जोश◾बिहार में कैबिनेट विस्तार आज, करीब 30 मंत्री होंगे शामिल ◾Bilkis Bano case : उम्रकैद की सजा पाए सभी 11 दोषी गुजरात सरकार की क्षमा नीति के तहत रिहा◾Independence Day 2022 : पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस की बधाई देने वाले वैश्विक नेताओं का किया आभार व्यक्त ◾Independence Day 2022 : सीमा पर तैनात भारत और पाकिस्तान के सैनिकों ने मिठाइयों का किया आदान प्रदान ◾Independence Day 2022 : विश्व नेताओं ने स्वतंत्रता के 75 वर्षों में भारत की उपलब्धियों की सराहना की◾Independence Day 2022 : लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने दिया 'जय अनुसंधान' का नारा,नवोन्मेष को मिलेगा बढ़ावा◾स्वतंत्रता दिवस पर गहलोत ने फहराया झंडा! CM ने कहा- देश के स्वर्णिम इतिहास से प्रेरणा ले युवा ◾क्रूर तालिबान का सत्ता में एक साल पूरा : कितना बदला अफगानिस्तान, गरीबी का बढ़ा दायरा ◾नगालैंड : स्वतंत्रता दिवस पर उग्रवादियों के मंसूबे नाकाम, मुठभेड़ में असम राइफल्स के दो जवान घायल◾शशि थरूर के टी जलील की विवादित टिप्पणी पर भड़के, कहा- देश से ‘तत्काल' माफी मांगनी चाहिए◾विपक्ष का मोदी पर तीखा वार, कहा- महिलाओं के प्रति अपनी पार्टी का रवैया देखें प्रधानमंत्री◾स्वतंत्रता दिवस की 76 वी वर्षगांठ पर सीएम ने किया 75 ‘आम आदमी क्लीनिक’ का उद्घाटन ◾Bihar: 76वें स्वतंत्रता दिवस पर बोले नीतीश- कई चुनौतियों के बावजूद बिहार प्रगति के पथ पर अग्रसर ◾मध्यप्रदेश : आपसी झगड़े के बीच बम का धमाका, एक की मौत , 15 घायल◾बेटा ही बना पिता व बहनों की जान का दुश्मन, संपत्ति विवाद के चलते की धारदार हथियार से हत्या ◾स्वतंत्रता दिवस पर मोदी की गूंज! पीएम ने कहा- हर घर तिरंगा’ अभियान को मिली प्रतिक्रिया...... पुनर्जागरण का संकेत◾उधोगपति मुकेश अंबानी के परिवार को जान से मारने की धमकी, जांच शुरू◾स्वतंत्रता दिवस पर बोले केजरीवाल- 130 करोड़ लोगों को मिलकर नए भारत की नीव रखनी है, मुफ्तखोरी को लेकर कही यह बात ◾Independence Day 2022 : देश में सहकारी प्रतिस्पर्धी संघवाद की जरूरत : पीएम मोदी ◾

दिल्ली : स्पेशल सेल ने हथियार कारोबारी को किया गिरफ्तार, कश्मीरी पंडित सामाजिक कार्यकर्ता था निशाना

देश की राजधानी दिल्ली में एक कश्मीरी पंडित सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या की साजिश रचने के आरोप में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने साजिशकर्ताओं को हथियारों की आपूर्ति करने वाले एक वांछित हथियार डीलर को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने यहां शुक्रवार को यह जानकारी दी। स्पेशल सेल के अनुसार आरोपी की पहचान हाजी शमीम उर्फ शमीम पिस्टल के रूप में हुई है जो एक कुख्यात अवैध हथियार आपूर्तिकर्ता है और 15 साल से अधिक समय से हथियारों की आपूर्ति कर रहा है। अधिकारीयों ने बताया कि, उसे पहली बार 2007 में अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार किया गया था। वह विदेशी हथियारों सहित परिष्कृत हथियारों का कारोबार करता है।

फरवरी 2021 का है मामला 

कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता को मारने की साजिश का मामला फरवरी 2021 का है जब सुखविंदर और लखन राजपूत नाम के दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था और पूछताछ के दौरान उन्होंने खुलासा किया था कि, वे एक कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता को मारने के लिए दिल्ली आए थे जो कश्मीरी पंडितों के मुद्दों के बारे में मुखर थे। स्पेशल सेल ने पिछले एक साल में इस मामले में मोहित उर्फ प्रिंस उर्फ तूती, जगदीप उर्फ काका, रोहित चौधरी और हाजी शमीम नाम के चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) प्रमोद सिंह कुशवाहा ने साजिश की जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी रोहित चौधरी हरियाणा के मंगलोरा, करनाल का रहने वाला है। अधिकारियों ने बताया, रोहित का भाई राहुल भारतीय सेना में सिपाही रहा है और ड्रोन हैंडलिंग में माहिर है। उसे पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था और ड्रोन के जरिए पाकिस्तान से मादक पदार्थों की तस्करी में उसकी भूमिका के लिए जेल में बंद कर दिया गया था। जब राहुल जेल में था। रोहित को पाकिस्तान से कुछ फोन आए और उन पाकिस्तानी संपर्कों ने उसे उसके भाई की रिहाई के लिए हर संभव सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया।

आरोपियों को पाकिस्तानी संपर्कों से मिलते थे पैसे 

पुलिस अधिकारियों ने कहा, रोहित को इन पाकिस्तानी संपर्कों से पैसे भी मिलते थे और उनके जरिए वह रणदीप उर्फ रोमी नाम के व्यक्ति के संपर्क में आया और अवैध मादक पदार्थों की तस्करी में शामिल हो गया। रणदीप पंजाब के अमृतसर का रहने वाला है और प्रतिबंधित आतंकी संगठन खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स का सदस्य है। विशेष प्रकोष्ठ के अनुसार, रणदीप, जो 2014 से फरार है और विदेश में छिपा है, एक अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स कार्टेल भी चलाता है और उसे पाकिस्तान का समर्थन प्राप्त है। अधिकारी ने कहा कि रणदीप ने कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या का जिम्मा रोहित चौधरी को सौंपा था जिसने एक अन्य कुख्यात अपराधी जगदीप उर्फ काका को कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या के लिए कुछ लड़कों की व्यवस्था करने के लिए कहा और उसे इस काम के लिए 50 लाख रुपये की पेशकश की। जांच के दौरान पता चला कि जगदीप खुद हत्या को अंजाम देना चाहता था, लेकिन रोहित ने उसे मना किया और कुछ नए चेहरों की व्यवस्था करने को कहा, ताकि किसी भी स्तर पर रोहित को हत्या से जोड़ा न जा सके।

हत्या करने के लिए 10 लाख रुपए देने का किया था वादा : पुलिस 

डीसीपी ने कहा, इस पर जगदीप ने आगे अपने एक पुराने सहयोगी मोहित को कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या के लिए कुछ नए लड़कों की व्यवस्था करने का काम सौंपा। उस समय मोहित पंजाब की फरीदकोट जेल में बंद था और उसने दो लड़कों लखविंदर और लखन की व्यवस्था की थी। पुलिस ने कहा कि उसने उन्हें इस हत्या के लिए 10-10 लाख रुपये देने का वादा किया था। इस साजिश के दौरान हाजी शमीम ने हथियारों का इंतजाम किया था। लखविंदर और लखन दोनों को पिछले साल फरवरी में गिरफ्तार किया गया था। जब हाजी शमीम को दिल्ली पुलिस द्वारा रोहित चौधरी की गिरफ्तारी के बारे में पता चला, तो उसने अग्रिम जमानत लेने की कोशिश की, लेकिन हाईकोर्ट ने उसे आत्मसमर्पण करने का निर्देश दिया। हालांकि वह सरेंडर करने के बजाय फरार हो गया। अधिकारी ने बताया कि विशेष सूचना के आधार पर हाजी शमीम को आखिरकार 19 जनवरी को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से गिरफ्तार कर लिया गया था। अधिकारी ने कहा, उसके घर से प्वाइंट 32 बोर की पांच पिस्तौल और 20 जिंदा कारतूस भी बरामद किए गए थे। उन्होंने कहा कि मामले में अभी भी सभी पिछले और आगे के लिंक की जांच की जा रही है।