BREAKING NEWS

T20 World Cup : 6 अक्टूबर को ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना होगा भारत◾PM मोदी ने देरी से पहुंचने की वजह से जनसभा को नहीं किया संबोधित◾PM मोदी ने दादा साहब फाल्के पुरस्कार मिलने पर आशा पारेख को दी बधाई ◾तरंगा-आबू रोड रेल लाइन की योजना 1930 में बनाई गई थी लेकिन दशकों तक ठंडे बस्ते में पड़ी रही : PM मोदी◾पुतिन ने यूक्रेन के इलाकों को रूस का हिस्सा किया घोषित , कीव और पश्चिमी देशों ने किया खारिज , EU ने कहा -कभी मान्यता नहीं देंगे ◾आखिर ! क्या होगा सोनिया का फैसला ?, अब सब की निगाहें राजस्थान पर◾PM मोदी ने अंबाजी मंदिर में प्रार्थना की, गब्बर तीर्थ में ‘महा आरती’ में हुए शामिल◾Maharashtra: महाराष्ट्र में कोविड-19 के 459 नए मामले, 5 मरीजों की मौत◾शाह के दौरे से पहले कश्मीर को दहलाना चाहते थे आतंकी, सुरक्षाबलों ने बरामद किया जखीरा ◾भाजपा ने थरूर को घोषणापत्र में भारत का विकृत नक्शा दिखाने पर लिया आड़े हाथ, जानें क्या कहा ... ◾कार्यकर्ताओं से थरूर का वादा - बंद करूंगा एक लाइन की पंरपरा, क्षत्रपों को दूंगा बढ़ावा ◾कांग्रेस का अध्यक्ष मैं हूं? थरूर बोले- पार्टी को लेकर मेरा अपना दृष्टिकोण.... मैं हूं शशि पीछे नहीं हटूंगा ◾KCR द्वारा राष्ट्रीय पार्टी की औपचारिक घोषणा के बाद विमान खरीदेगा टीआरएस ◾अफगानिस्तान : धमाके में बिखर गए मासूमों के शरीर, काबुल के स्कूल में फिदायीन हमला ◾ अफगानिस्तान : धमाके में बिखर गए मासूमों के शरीर, काबूल के स्कूल में फिदायीन हमला ◾पंजाब : कांग्रेस ने भगवंत मान पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप, पूछा- क्या हुआ उन उपदेशों का ?◾CDS जनरल चौहान ने कार्यभार संभालने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से की मुलाकात ◾कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में नामांकन कर सबको चौंकाने वाले केएन त्रिपाठी कौन ? चुनाव को लेकर कितने गंभीर ◾इलाहाबाद HC ने मुख्यमंत्री योगी द्वारा दिए गए राजस्थान में आपत्तिजनक भाषण पर दायर याचिका को खारिज किया ◾खड़गे vs थरूर! कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर बोले मल्लिकार्जुन- मुझे पूरा विश्वास... मैं ही जीतूंगा◾

Delhi Violence News: दिल्ली दंगे मामले का आरोपी रहमान की जमानत याचिका पर लगा प्रश्न चिंह, पुलिस को भेजा नोटिस

 दिल्ली उच्च न्यायालय ने एल्युमिनी एसोसिएशन जामिया मिल्लिया इस्लामिया (एएजेएमआई) के अध्यक्ष शिफा-उर-रहमान की ओर से दाखिल जमानत याचिका पर दिल्ली पुलिस से शुक्रवार को अपना रुख स्पष्ट करने को कहा। रहमान के खिलाफ दिल्ली में फरवरी 2020 में हुए दंगों की व्यापक साजिश रचने के आरोप में गैरकानूनी गतिविधियां (निषेध) अधिनियम (यूएपीए) के तहत मामला दर्ज किया गया था।

पीठ ने निर्देश दिया कि मामले को उस पीठ के समक्ष

 जानकारी के मुताबिक  न्यायमूर्ति मुक्ता गुप्ता और न्यायमूर्ति अनीश दयाल की पीठ ने रहमान की जमानत याचिका को खारिज करने के निचली अदालत के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका पर नोटिस जारी किया। पीठ ने निर्देश दिया कि मामले को उस पीठ के समक्ष सूचीबद्ध किया जाए, जो इस मामले के अन्य आरोपियों की जमानत याचिका पर सुनवाई कर रही है। पीठ ने कहा, ‘‘याचिका को न्यायमूर्ति सिद्धार्थ मृदुल और न्यायमूर्ति रजनीश भटनागर की पीठ के समक्ष सूचीबद्ध किया जाए। इस बीच, स्थिति रिपोर्ट दाखिल की जाए।’’ विशेष सरकारी वकील अमित प्रसाद ने अदालत को सूचित किया कि इसी साजिश से जुड़ी जमानत याचिकाएं अन्य पीठ के समक्ष लंबित हैं।

आईपीसी के तहत दर्ज हुआ था मामला

अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक  शिफा-उर-रहमान और कई अन्य के खिलाफ फरवरी 2020 में हुए दंगों के ‘मुख्य साजिशकर्ता’’ होने के आरोप में आतंकवाद निषेध कानून यूएपीए तथा भारतीय दंड़ संहिता (आईपीसी) की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। इन दंगों में 53 लोगों की मौत हो गई थी और 700 से अधिक अन्य घायल हो गए थे। ये दंगे नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के विरोध में हुए प्रदर्शनों के दौरान भड़के थे। रहमान के अलावा पुलिस ने इस मामले में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद, शरजील इमाम, यूनाइटेड अगेंस्ट हेट के कार्यकर्ता खालिद सैफी, कांग्रेस की पूर्व पार्षद इशरत जहां, पिंजरा तोड़ की कार्यकर्ता गुलफिशा फातिमा, सफूरा जरगर, नताशा नरवाल, देवांगना कलिता और आम आदमी पार्टी (आप) के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन के खिलाफ भी आरोपपत्र दाखिल किए हैं।