BREAKING NEWS

दिल्ली में 445 लोग COVID-19 से संक्रमित, और बढ़ सकते हैं मामलें : CM केजरीवाल◾तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद ने क्राइम ब्रांच को भेजा जवाब, कहा- अभी सेल्फ क्वारनटीन में हूं, बाकी सवाल बाद में◾स्वास्थ्य मंत्रालय का बयान : देश के कुल कोरोना संक्रमित मामलों में 30 फीसदी तबलीगी जमात के लोग◾राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾कोविड-19 पर सरकार ने जारी किया परामर्श, चेहरे और मुंह के बचाव के लिए घर में बने सुरक्षा कवर का करे प्रयोग◾जानिये क्यों, पीएम की 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील के बाद अलर्ट मोड पर है बिजली विभाग की कंपनियां◾तबलीगी जमातियों पर भड़के राज ठाकरे,कहा- ऐसे लोगों को गोली मार देनी चाहिए ◾PM मोदी ने अटल बिहारी बाजपेयी की कविता को शेयर करते हुए कहा- आओ दीया जलाएं◾देश में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, गौतम बुद्ध नगर में वायरस के 5 नए मामले आए सामने ◾PM मोदी की दीया अपील पर महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री ने दी प्रतिक्रिया, कहा- दोबारा सोचने की है जरुरत ◾बिजनौर के आइसोलेशन वार्ड में रखे गए जमातियों ने किया हंगामा, अंडे और बिरयानी की फरमाइश की◾दिल्ली : कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए गंगाराम अस्पताल के 108 स्वास्थ्यकर्मियों को किया गया क्वारनटीन◾प्रियंका ने किया योगी सरकार पर वार, कहा- स्वास्थ्यकर्मियों को सबसे ज्यादा सहयोग की है जरूरत◾देश में 2900 से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित, अब तक 68 की मौत◾कोविड-19 : अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 1,480 लोगों की मौत, इराक में 820 पॉजिटिव मामलों की पुष्टि◾राजस्थान : कोरोना संक्रमित 60 वर्षीय महिला की मौत, संक्रमण के 191 मामलों की पुष्टि◾जम्मू-कश्मीर में सेना के जवानों ने मुठभेड़ में 2 आतंकवादियों को मार गिराया, ऑपरेशन जारी◾कर्नाटक में कोरोना वायरस से 75 वर्षीय बुजुर्ग की मौत, राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 4 हुई ◾कोरोना वायरस दिल्ली में नहीं फैला, घबराने की जरूरत नहीं: केजरीवाल ◾कोविड-19 : राज्यों में संक्रमण के 500 से ज्यादा मामले आये सामने , इसके साथ ही संक्रमित लोगों की संख्या 3,000 पार ◾

दिल्ली हिंसा : आप पार्षद ताहिर हुसैन के घर से मिले पेट्रोल बम और एसिड, हिंसा भड़काने की थी पूरी तैयारी

 उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसाग्रस्त क्षेत्र नेहरू विहार से आम आदमी पार्टी (आप) के नगर पार्षद ताहिर हुसैन के चांद बाग स्थित घर के अंदर व छत पर अभी भी कई पेट्रोल बम की बोतलें, एसिड पाउच और पत्थर बिखरे पड़े हैं। 

हुसैन का घर उस समय सवालों व जांच के घेरे में आ गया, जब सोमवार और मंगलवार की दोपहर सोशल मीडिया पर कई ऐसे वीडियो देखे गए, जिसमें 100 से 150 लोग पथराव करने के साथ ही पेट्रोल बम व तेजाब फेंकते नजर आए। 

इसके बाद भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने गुरुवार को आप प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर पलटवार किया। मिश्रा इससे पहले बैकफुट पर थे, क्योंकि उनके कथित भड़काऊ वीडियो के लिए दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को उन पर मुकदमा दर्ज करने को कहा था। 

मिश्रा ने गुरुवार को एक ट्वीट में कहा, "डंके की चोट पर कह रहा हूं। अगर दंगों के दिनों की ताहिर हुसैन के फोन के कॉल डिटेल्स खुल गई तो दंगों में और अंकित शर्मा की हत्या में संजय सिंह और केजरीवाल दोनों की भूमिका सामने आ जाएगी।"


खुफिया ब्यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा का शव बुधवार को दंगा प्रभावित इलाके में एक नाले से बरामद किया गया था। आईबी के कर्मचारी के परिजनों ने कथित तौर पर हुसैन पर शर्मा की मौत की साजिश रचने का आरोप लगाया है। 

हालांकि आप नेता हुसैन ने एक वीडियो साझा कर दावा किया है कि उन पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं और वह दो दिनों तक अपने घर में मौजूद नहीं थे। 

हुसैन के घर के बाहर का दृश्य बड़ा सुनसान नजर आ रहा है, जहां ईंट-पत्थरों के साथ ही धातु की छड़ें, लकड़ी, फर्नीचर और रेफ्रिजरेटर आदि जले पड़े हैं। हुसैन के घर के आसपास के क्षेत्र में सोमवार और रविवार को हुई हिंसा के दौरान पथराव किया गया और पेट्रोल बमों से घर और दुकानों को जला दिया गया था। घर की दूसरी मंजिल पर 10 से 15 पेट्रोल बम और इतने ही एसिड के पाउच मिले हैं। 

यहां तक कि इमारत की चार मंजिला छत पर कई पेट्रोल बम पाए गए, जो कि एक गुलेल के साथ रखे थे, जिनका इस्तेमाल आसपास के घरों पर पेट्रोल बम और पत्थर फेंकने के लिए किया गया था। 

कई वीडियो में यह साफ तौर पर देखा गया कि लोग उनके घर से पत्थर और पेट्रोल बम फेंक रहे हैं। इसके बाद हुसैन ने एक वीडियो के जरिए दावा किया कि वह खुद पूर्वोत्तर दिल्ली के कई हिस्सों में हुई हिंसा का शिकार हैं। अंकित शर्मा की मौत के बाद जब उन पर उंगली उठी तो हुसैन की यह टिप्पणी सामने आई है। 

पूर्वोत्तर दिल्ली में इस हफ्ते हुई भीषण हिंसा में अब तक कम से कम 34 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं। यहां नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के समर्थक और विरोधी प्रदर्शनकारियों के बीच रविवार को पहली बार संघर्ष हुआ था, जिसके बाद हिंसा बढ़ती चली गई। 

दिल्ली हिंसा : SIT करेगी हिंसा की जांच, मामला अपराध शाखा को भेजा गया