BREAKING NEWS

महाराष्ट्र : कांग्रेस के साथ संयुक्त बैठक से पहले NCP नेताओं की बैठक ◾अमित शाह ने झारखंड में चुनावी रैली को किया संबोधित, राम मंदिर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना◾लोकसभा में कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने उठाया चुनावी बॉन्ड का मुद्दा◾साध्वी प्रज्ञा को रक्षा मंत्रालय की समिति में मिली जगह, कांग्रेस ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण◾दिल्ली : महाराष्ट्र में शिवसेना संग गठबंधन पर सीडब्ल्यूसी ने लगाई मुहर ◾महाराष्ट्र में सरकार गठन की प्रकिया 1 दिसंबर से पहले हो जाएगी पूरी : संजय राउत ◾दिल्ली : सोनिया गांधी के आवास पर सीडब्ल्यूसी की बैठक, महाराष्ट्र पर चर्चा की संभावना◾झारखंड विधानसभा चुनाव : पहले चरण में भाजपा के लिए सीटें बचाना हुआ मुश्किल , 'अपने' दे रहे कड़ी टक्कर ◾पेट्रोल, डीजल के दाम में वृद्धि पर लगा ब्रेक, देखें पूरी लिस्ट◾भारत को सौंपे गए तीन और राफेल विमान, पायलट-टेक्नीशियंस का प्रशिक्षण शुरू : सरकार◾भारत को सौंपे गए तीन और राफेल विमान, पायलट-टेक्नीशियंस का प्रशिक्षण शुरू : सरकार◾दिल्ली में निशुल्क यात्रा की योजना लागू होने के बाद से महिला यात्रियों की हिस्सेदारी 10 फीसदी बढ़ी ◾तीसहजारी कांड : दिल्ली पुलिस ने अदालत में दाखिल की प्रगति रिपोर्ट, SIT जांच में मांगा सहयोग◾लोकसभा से चिट फंड संशोधन विधेयक 2019 को मंजूरी◾महाराष्ट्र की राजनीतिक तस्वीर साफ हुई, जल्द बन सकती है शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस की सरकार ◾मंत्रिमंडल ने 1.2 लाख टन प्याज आयात की मंजूरी दी : सीतारमण◾NC, PDP ने कश्मीर में सामान्य हालात बताने पर केंद्र की आलोचना की◾पृथ्वी-2 मिसाइल का रात के समय सफलतापूर्वक परीक्षण ◾महाराष्ट्र में सरकार गठन पर जल्द मिलेगी गुड न्यूज : राउत ◾सकारात्मक चर्चा हुई, जल्द सरकार बनेगी : चव्हाण◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

नवंबर में खराब हो सकती है दिल्ली की हवा

 delhi pollution

नई दिल्ली : राजधानी में नवंबर-दिसंबर में प्रदूषण का स्तर खराब होने की संभावना है। हालांकि दिल्ली में पिछले दिनों हुई हल्की बारिश व अन्य कारणों से प्रदूषण का स्तर काफी बेहतर है, लेकिन पर्यावरण विभाग आने वाले दिनों को लेकर सख्त हो गया है। 

अधिकारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में पराली जलाई जाएगी। इसके अलावा अन्य कारक भी प्रदूषण बढ़ा सकते हैं। जिन्हें देखते हुए विभाग प्रयास कर रहा है। फिलहाल दिल्ली में पीएम 2.5 का स्तर 50 से कम और पीएम 10 का स्तर 100 से कम है जो बेहतर माना जाता है।

जल्द जारी होंगे निर्देश  

सर्दी बढ़ने के साथ प्रदूषण का स्तर बढ़ने की संभावना को देखते हुए दिल्ली सरकार के पर्यावरण विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी है। विभाग जल्द ही निर्देश जारी कर सकता है। इसमें खुले में कचरे को जलाना, निर्माण कार्य सहित अन्य को रोकना शामिल है। विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली में बदलते पर्यावरण पर नजर बनाए हुए हैं। यदि विभाग का लगता है कि दिल्ली में प्रदूषण का स्तर ज्यादा खराब होता है तो ज्यादा कठोर कदम उठाए जाएंगे।

26 केंद्रों पर हो रही जांच 

दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (डीपीसीसी) द्वारा राजधानी में 26 जगहों पर केंद्र स्थापित किए गए हैं। इन सभी केंद्रों से रोजाना प्रदूषण के स्तर की जांच हो रही है। डीपीसीसी अधिकारियों ने बताया कि आने वाले दिनों में ठंड का स्तर बढ़ने के साथ प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी दर्ज की जाएगी। इस दौरान प्रदूषण के कण निचले स्तर पर ही घूमते रहते हैं। 

ऐसे में पीएम 10 और पीएम 2.5 सहित अन्य प्रदूषण कणों की जांच के लिए डीपीसीसी ने पूठ खुर्द, बवाना, नेहरू नगर, जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, डॉ कर्णी सिंह शूटिंग रेंज, मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम, पटपड़गंज, विवेक विहार, सोनिया विहार, नरेला, नजफगढ़, रोहिणी, ओखला चरण -2, अशोक विहार, वजीरपुर, जहांगीरपुरी, द्वारका, सेक्टर 8, अलीपुर, पूसा, अरबिंदो मार्ग, मुंडका, आनंद विहार, मंदिर मार्ग, पंजाबी बाग, आर.के. पुरम, आईजीआई एयरपोर्ट और सिविल लाइंस में केंद्र बनाए गए हैं। इन सभी केंद्रों पर दैनिक आधार पर डाटा एकत्रित किया जा रहा है।