दिल्ली पुलिस के एक उपायुक्त ने एक ट्वीट में कहा कि उन्होंने कभी इस बात की कल्पना नहीं की थी कि कोई पटाखा फोड़ने की वजह से जेल जाएगा। हालांकि, इस ट्वीट के वायरल होने के बाद उन्होंने इसे डिलीट कर दिया। दिल्ली पुलिस ने हालांकि शुक्रवार को कहा कि उसका इस ट्वीट से कोई लेना-देना नहीं है क्योंकि अधिकारी ने इसे अपने निजी ट्विटर हैंडल से पोस्ट किया है।

दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के पुलिस उपायुक्त देवेंद्र आर्य ने हिंदी में ट्वीट किया, “पटाखा फोड़ना आपको जेल में पहुंचा सकता है। कभी कल्पना नहीं की थी कि ऐसा भी होगा। क्या मैं अपने देश, भारत में हूं? जय श्री राम। जय हिंद।” बाद में उन्होंने ट्वीट डिलीट कर दिया। शुक्रवार को अधिकारी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “यह मेरे हिस्से से हुई लापरवाही थी। यह किसी तरह का विचार या बयान नहीं दिखलाता है। मैं इस लापरवाही के लिए माफी मांगता हूं।”

पटाखे फोड़ने पर हुईं 562 एफआईआर, 310 लोग अरेस्ट