BREAKING NEWS

AN-32 रिकवरी ऑपरेशन : दुर्घटना स्थल से 6 वायुसेना कर्मियों के शव बरामद◾राहुल गांधी बोले- मेरा रुख आज भी वही, राफेल सौदे में चोरी हुई◾बिहार में चमकी बुखार से मरने वालों की बढ़ी संख्या, अब तक 135 मासूमों की मौत◾कस्टोडियल डेथ केस : बर्खास्त आईपीएस अधिकारी संजीव भट्ट को उम्रकैद◾सरकार मजबूत, सुरक्षित और समावेशी भारत बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है : राष्ट्रपति कोविंद ◾दाऊद से पूछताछ कर चुके अधिकारी का खुलासा, 'डॉन' ने कुबूल कर लिया था अपराध ◾लखनऊ में बड़ा हादसा : 29 बारातियों से भरा वाहन नहर में गिरा, 7 बच्चे लापता◾तीन दिन बाद फिर घटे डीजल के दाम, पेट्रोल स्थिर !◾PM मोदी पांचवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कल पहुंचेंगे रांची ◾कांग्रेस तथा कुछ अन्य विपक्षी दल नहीं हुए बैठक में शामिल◾AAP ने विधानसभा अध्यक्ष से की BJP में शामिल हुए अपने 2 विधायकों को अयोग्य ठहराने की मांग ◾एक साथ चुनाव कराने पर विचार करने के लिए समिति गठित करेंगे प्रधानमंत्री : सरकार ◾AICC ने कर्नाटक कांग्रेस की वर्तमान कमेटी को भंग करने का किया फैसला - के सी वेणुगोपाल ◾मुखर्जी नगर हमला मामला : केजरीवाल ने उच्च न्यायालय की टिप्पणी का किया स्वागत ◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ का ज्यादातर पार्टियों ने किया समर्थन, वाम दलों और ओवैसी ने किया विरोध ◾मुखर्जी नगर मामले में उच्च न्यायालय ने कहा, दिल्ली पुलिस का हमला बर्बरता का उदाहरण ◾सनी देओल का चुनावी खर्च 70 लाख रूपये की सीमा से ‘ज्यादा’, नोटिस जारी◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ पर समिति बनाएंगे PM मोदी : राजनाथ सिंह◾Top 20 News - 19 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾बच्चों की मौत मामला , हर्षवर्धन ने बिहार में 5 चिकित्सा टीमें भेजी ◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

मुफ्त लैपटॉप की पेशकश करने वाली फर्जी वेबसाइट का संचालक गिरफ्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरें लगा कर कथित तौर पर एक फर्जी वेबसाइट चलाने वाले और ‘‘सरकार के फिर से चुने जाने के अवसर पर मुफ्त लैपटॉप सरकारी योजना’’ के नाम पर लोगों को झांसा देने वाले एक आईआईटी पोस्टग्रेजुएट को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी। 

पुलिस ने बताया कि 2019 बैच के आईआईटी पोस्ट ग्रेजुएट राकेश जांगिड़(23) को राजस्थान के नागौर जिले में स्थित उसके गृह नगर पुंदतोला से गिरफ्तार किया गया।

पुलिस के मुताबिक आरोपी ने वेबसाइट पर लोगों को मुफ्त पंजीकरण कराने के लिए लुभाने को लेकर ‘मेक इन इंडिया’ ‘लोगो’ का इस्तेमाल करते हुए फर्जी प्रमोशनल मल्टीमीडिया मैसेज(एमएमएस) का इस्तेमाल किया।
 
पुलिस ने बताया कि दो दिनों के अंदर ही करीब 15 लाख लोग उसके झांसे में आ गए। फर्जी वेबसाइट की फर्जी योजना व्हाट्सएप पर भी वायरल हो गई। 

उसका इरादा पंजीकरण के बहाने लाखों लोगों की निजी जानकारी हासिल करने और उसके इस्तेमाल से अवैध मौद्रिक लाभ हासिल करने का था। 

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आईटी एक्ट के तहत एक आपराधिक मामला दर्ज किया गया है। मामले की जांच जारी है। इसमें अन्य लोगों की संलिप्तता का पता लगाने की कोशिश की जा रही है।।