BREAKING NEWS

सचिन पायलट ने 30 विधायकों के समर्थन का दावा किया, कांग्रेस बोली- सुरक्षित है गहलोत सरकार ◾विकास दुबे के लिए मुखबिरी करने के आरोपी पुलिसकर्मी को खुद के एनकाउंटर का डर, SC में दी याचिका◾सचिन पायलट की खुली बगावत, विधायक दल की बैठक में नहीं होंगे शामिल, बोले- अल्पमत में है गहलोत सरकार◾राजस्थान में गुटबाजी के संकट को टालने के लिये अजय माकन और रणदीप सुरजेवाला जयपुर भेजे गए ◾राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच, सिंधिया का ट्वीट, बोले- कांग्रेस पार्टी में प्रतिभा और क्षमता का स्थान नहीं◾नहीं थम रहा महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट, बीते 24 घंटे में 7,827 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 2.54 लाख के पार◾राजस्थान सियासी संकट के बीच, ज्योतिरादित्य सिंधिया से मिले सचिन पायलट ◾सियासी घमासान के बीच, मुख्यमंत्री गहलोत ने सोमवार सुबह 10:30 बजे बुलाई कांग्रेस विधायक दल की बैठक◾दिल्ली में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में 1,573 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.12 लाख के पार◾राजस्थान घमासान पर सिब्बल ने जताई चिंता, कहा - क्या घोड़ों के अस्तबल से निकलने के बाद ही हम जागेंगे?◾विकास दुबे प्रकरण की जांच के लिए आयोग गठित, रिटायर जज शशि कांत अग्रवाल होंगे अध्यक्ष ◾सरकार पर संकट के बीच CM गहलोत ने आज रात 9 बजे बुलाई विधायकों की बैठक◾राजस्थान सरकार संकट : विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में SOG के नोटिस को CM गहलोत ने बताया सामान्य ◾अमिताभ-अभिषेक के बाद ऐश्वर्या और आराध्या भी कोरोना पॉजिटिव ◾PAK ने फिर शुरू किए आतंकी सरगना हाफिज सईद समेत JuD के नेताओं के बैंक अकाउंट◾राजस्थान में गहलोत सरकार पर संकट, सचिन पायलट विधायकों के साथ दिल्ली पहुंचे ◾कोरोना से निपटने के लिए UP में अब होगा वीकेंड लॉकडाउन, हर शनिवार और रविवार बंद रहेंगे बाजार ◾अनुपम खेर का भी परिवार आया कोरोना की चपेट में, मां समेत 4 सदस्य पॉजिटिव ◾अमित शाह बोले-कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं सुरक्षा बल◾राहुल ने किया ट्वीट- ऐसा क्या हुआ कि मोदी जी के रहते भारत माता की पवित्र जमीन को चीन ने छीन लिया?◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कांग्रेस सदस्यों के हंगामे के कारण राज्यसभा स्थगित

एक बार के स्थगन के बाद दोपहर 12 बजे बैठक शुरू होने पर भी सदन में कांग्रेस सदस्यों का हंगामा जारी रहा। पार्टी के वरिष्ठ सदस्य आनंद शर्मा ने एक बार फिर मनमोहन सिंह के खिलाफ टिप्पणी का मुद्दा उठाने का प्रयास किया। शर्मा ने मांग की कि प्रधानमंत्री मोदी को सदन में आकर स्पष्टीकरण देना चाहिए क्योंकि पूर्व प्रधानमंत्री के खिलाफ टिप्पणी की गयी है और वह इस सदन के सदस्य भी हैं। यह सदस्य के विशेषाधिकार से जुड़ा मामला है।

सभापति एम वेंकैया नायडू ने उन्हें यह मुद्दा उठाने की अनुमति नहीं दी और कहा कि यह समय प्रश्नकाल का है। उन्होंने सदस्यों से सवाल किया कि वे प्रश्नकाल चाहते हैं या नहीं। नायडू ने कहा कि नियम 267 के तहत दिए गए नोटिस पर उन्होंने गौर किया तथा उसे खारिज कर दिया है। उन्होंने कांग्रेस सदस्यों से कहा कि उन्हें उपयुक्त नोटिस देना चाहिए। लेकिन सदन में कांग्रेस सदस्यों का हंगामा जारी रहा। इसके जवाब में भाजपा के कुछ सदस्यों ने खड़े होकर सदन में प्रश्नकाल चलने देने की मांग उठायी।

नायडू ने सदन में हंगामे पर आपत्ति जताते हुए सदस्यों से बैठ जाने की अपील की। उन्होंने कहा कि पूरा देश हमें और सदन को देख रहा है और ऐसा आचरण शोभा नहीं देता है। उन्होंने कहा कि संसद में नारेबाजी की अनुमति नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि सदन में हंगामे से बाहर गलत संदेश जाएगा। इसके बाद उन्होंने बैठक को पूरे दिन के लिए स्थगित कर दिया।

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपने पूर्ववर्ती मनमोहन सिंह के खिलाफ की गई कथित टिप्पणी को लेकर आज राज्यसभा में भारी हंगामा किया जिसकी वजह से सदन की बैठक शुरू होने के करीब 15 मिनट बाद ही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। हंगामे की वजह से सदन में शून्यकाल नहीं हो पाया। सदन में आवश्यक दस्तावेज पटल पर रखवाने के बाद उप सभापति पी जे कुरियन ने जैसे ही शून्यकाल शुरू करने को कहा, कांग्रेस सदस्यों ने प्रधानमंत्री द्वारा गुजरात में सिंह के खिलाफ की गई टिप्पणी का मुद्दा उठाया और उनसे स्पष्टीकरण की मांग की।

प्रधानमंत्री से माफी की मांग करते हुए सदन में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा विपक्ष की आवाज को दबाया नहीं जा सकता। अगर हम यहां जनता से जुड़े मुद्दे नहीं उठा सकते तो हमारे यहां आने का मतलब ही क्या है? आजाद ने कहा पूर्व प्रधानमंत्री पर आरोप लगाये गये हैं जो कि इस सदन के सदस्य हैं। प्रधानमंत्री को सदन में आ कर स्पष्टीकरण देना चाहिए और माफी मांगना चाहिए। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने मोदी का नाम लिए बिना कहा आप क्या वोट की खातिर कोई भी आरोप लगा देंगे ? आप देश के प्रति जवाबदेह हैं। आपको आरोप साबित करना चाहिए।

उनकी पार्टी के अन्य सदस्यों ने आजाद की बात का समर्थन किया और आसन के समक्ष आ कर नारे लगाने लगे। हंगामे की वजह से उप सभापति पी जे कुरियन ने 11 बज कर करीब 15 मिनट पर बैठक दोपहर बारह बजे तक के लिए स्थगित कर दी। इससे पहले बैठक शुरू होने पर कुरियन ने आवश्यक दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाए। इसी बीच, कांग्रेस के सदस्य और कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा ने कहा कि उन्होंने नियम 267 के तहत सदन का कामकाज स्थगित करने के लिए नोटिस दिया है। पूर्व प्रधानमंत्री पर लगाए गए आरोपों को गंभीर बताते हुए आजाद ने मांग की कि सदन की भावना को देखते हुए इस मुद्दे पर सदन में एक प्रस्ताव पेश करने की अनुमति दी जानी चाहिए।

उप सभापति ने कहा कि आसन को शर्मा की ओर से, सपा के नरेश अग्रवाल की ओर से और तृणमूल कांग्रेस के सुखेन्दु शेखर राय की ओर से नियम 267 के तहत नोटिस मिले हैं लेकिन सभापति ने इन नोटिसों को अस्वीकार कर दिया है। कुरियन ने कहा कि अगर सदस्य कोई मुद्दा उठाना चाहते हैं तो वे शून्यकाल के तहत निर्धारित तीन मिनट की अवधि में अपने मुद्दे उठा सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अगर सदस्य इस व्यवस्था से संतुष्ट नहीं हैं तो वे सभापति से इस बारे में विचार विमर्श कर सकते हैं। इस पर विपक्षी सदस्यों ने गहरी नाराजगी जाहिर की। आजाद ने कहा कि हर दिन नोटिस खारिज किए जा रहे हैं जो स्वीकार्य नहीं है।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।