नई दिल्ली : चुनाव में धनबल का इस्तेमाल किया जाता है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि दिल्ली चुनाव आयोग ने मात्र 35 दिनों में 388 करोड़ रुपए की नकदी, ज्वेलरी समेत शराब व नशीला पदार्थ जैसे चीजों को जब्त किया है। दिल्ली चुनाव आयोग ने दिल्ली के सातों लोकसभा क्षेत्रों से एफएसटी/एसएसटी के तहत अब तक 2 करोड़ 40 लाख 22 हजार 850 रुपए पकड़े हैं। वहीं आयकर विभाग ने सर्वाधिक 30 करोड़ 15 लाख 74 हजार 900 रुपए नकद और ज्वेलरी पकड़ी है। इनमें 5 करोड़ 91 लाख की सिर्फ ज्वेलरी है। सबसे बड़ी कामयाबी स्पेशल को लगी।

स्पेशल सेल ने 50 किलो हेरोइन का सबसे बड़ा खेप पकड़ी थी। इसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब 200 करोड़ रुपए आंकी गई थी। दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. रणबीर सिंह ने साप्ताहिक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि स्थिर निगरानी टीम ने 10 मार्च से अब तक 1320 किलो नशीला पदार्थ पकड़ी है। सिंह ने बताया कि दिल्ली में चेकिंग के दौरान एक्साइज एक्ट के तहत अब तक 74 हजार वर्ग लीटर अवैध शराब पकड़ी जा चुकी है।

इसकी बाजार में 2 करोड़ 14 लाख 68 हजार 952 रुपए कीमत आंकी गई है। चुनाव आयोग के ​अनुसार दिल्ली में एक्साइज एक्ट के तहत कुल 856 एफआईआर दर्ज किए गए जबकि 851 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। सिंह ने बताया कि एक्साइड एक्ट तहत अंग्रेजी शराब के 1361 बोतल, 91 हाफ और 1,24,849 क्वार्टर पकड़े हैं। वहीं देश शराब के 804 बोतल, 1095 हाफ व 2,49,020 क्वार्टर व बीयर की 5,831 बोतल जब्त किए गए हैं। मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. रणबीर सिंह ने बताया कि चुनाव में अनहोनी की आशंका के मद्देनजर दिल्ली चुनाव आयोग ने 4 हजार 484 लोगों के हथियार जमा करवा लिए हैं।

उन्होंने बताया कि इस दौरान टीम ने 430 अवैध हथियार पकड़े हैं, जिसे जब्त कर लिया गया है। वही आर्म्स एक्ट के तहत अब तक 316 एफआईआर दर्ज किए गए हैं जबकि पुलिस ने अवैध हथियार रखने के आरोप में 358 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस दौरान 2 हजार 578 जिंदा कारतूस/विस्फोटक भी जब्त किए गए हैं।

हटाए गए 3.5 लाख पोस्टर-बैनर
मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. रणबीर सिंह ने कहा कि पूरी दिल्ली में अवैध तरीके से लगे हुए करीब तीन लाख से ऊपर पोस्टर-बैनर को एमसीडी ने साफ किया है। उन्होंने बताया कि नई दिल्ली नगर पालिका(एनडीएमसी) इलाके से 3,0533, पूर्वी दिल्ली एमसीडी से 43 हजार 75, दिल्ली कैंटोनमेंट बोर्ड से 2,441, साउथ दिल्ली एमसीडी ने 12 लाख 6 हजार 566, नॉर्थ दिल्ली एमसीडी ने अब तक 1 लाख 2 हजार 961 पोस्टर-पैनर हटाए हैं।