BREAKING NEWS

दिल्ली पुलिस ने कोर्ट से कहा : प्रधानमंत्री के खिलाफ महज ‘अपमानजनक’ शब्द का इस्तेमाल राजद्रोह नहीं ◾वित्त मंत्री सीतारमण बोली- कर्ज देने के लिये NBFC के साथ 400 जिलों में खुली बैठकें करेंगे बैंक◾यादवपुर विश्वविद्यालय में बाबुल सुप्रियो के साथ धक्का-मुक्की, राज्यपाल परिसर में पहुंचे ◾आरकेएस भदौरिया अगले होंगे एयरफोर्स चीफ◾चंद्रयान- 2 : नासा को मिली विक्रम लैंडर की अहम तस्वीरें, जल्द मिलेगी बड़ी खबर◾डेविड कैमरन का खुलासा : भारत के पूर्व प्रधानमंत्री ने PAK के खिलाफ सैन्य कार्रवाई के बारे में बताया था ◾TOP 20 NEWS 19 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ढाई साल में ढाई कोस भी नहीं चल पाई योगी सरकार : अखिलेश यादव◾अमेरिका में संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे PM मोदी : विजय गोखले◾नासिक में बोले मोदी-राम मंदिर का मामला जब सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है तो न्याय प्रणाली पर भरोसा रखें◾INX मीडिया : 3 अक्टूबर तक बढ़ाई गई चिदंबरम की न्यायिक हिरासत◾CM ममता ने गृह मंत्री अमित शाह से की मुलाकात, NRC मुद्दे पर की चर्चा ◾'हाउडी मोदी' के लिए उत्साहित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, कर सकते है हिंदुस्तान के लिए बड़ा ऐलान ◾प्रियंका गांधी बोली - चिन्मयानंद मामले में भी उन्नाव की तरह आरोपी को संरक्षण दे रही भाजपा सरकार◾रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने तेजस में भरी उड़ान, कहा- मेरे लिए गर्व की बात◾UP : योगी सरकार के ढाई वर्ष पूरे, प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मुख्यमंत्री ने गिनाई उपलब्धियां◾झारखंड कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व प्रमुख अजय कुमार AAP में हुए शामिल ◾राहुल और सोनिया के खिलाफ सावरकर के पोते की शिकायत पर कोर्ट ने दिए जांच के आदेश◾चिन्मयानंद मामला : पीड़ित छात्रा की चेतावनी, कहा-गिरफ्तारी नहीं हुई तो कर लूंगी आत्महत्या◾UP : योगी सरकार के ढाई साल पूरे, आज कर सकते है नई योजनाओ का अनावरण ◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

कॉल रिसीव न करने पर गुस्से में कराया था झूठा रेप केस, होगी कार्रवाई

पूर्वी दिल्ली : क्या वाकई कोई महिला महज कॉल रिसीव न करने पर अपने प्रेमी के खिलाफ रेप जैसा संगीन  केस दर्ज करा सकती है?, अगर नहीं तो आपको बता दें कि एक महिला ऐसा किया है। घटना ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के गाजीपुर इलाके की है। खास बात ये रही कि केस दर्ज कराने के बाद महिला ने मजिस्ट्रेट के सामने दिए 164 के बयान में कबूल किया कि उसने झूठा केस दर्ज कराया था। इसके बाद मामले की कड़कड़डूमा कोर्ट में सुनवाई हुई तो एडिशनल सेशन जज (ईस्ट) सुरेंद्र कुमार शर्मा ने 25 वर्षीय आरोपी युवक को जमानत दे दी है। उधर, मामले की जांच अधिकारी ने केस दर्ज  कराने वाली महिला के खिलाफ आईपीसी 182 के तहत कार्रवाई करने की बात कही है।

जानकारी के मुताबिक, वर्ष 2017 में गाजीपुर इलाके में एक 35 वर्षीय हिंदू महिला की 25 वर्षीय मुस्लिम युवक से दोस्ती हुई थी। कुछ ही समय बाद दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई थी और दोनों के बीच जिस्मानी रिश्ते भी बनने लगे थे। मगर अब महिला ने युवक से शादी की बात की तो युवक ने मजहब (धर्म) अलग होने की बात कहकर शादी करने से इंकार कर दिया। इस पर महिला ने गत 26 जून को युवक के खिलाफ थाने में शिकायत दे दी थी। पुलिस ने बुधवार को रेप समेत विभिन्न संबंधित धाराओं में केस दर्ज आरोपी को अरेस्ट कर लिया था। 

इसके बाद आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया था, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था। आरोपी के एडवोकेट आर.के  चौधरी ने बताया कि इसके बाद महिला के मजिस्ट्रेट के सामने 164 के बयान हुए थे तो उसने वहां बताया था कि आरोपी पिछले दो वर्षों से उसका अच्छा दोस्त था और वह दोनों रिलेशनशिप में थे। मगर अब आरोपी ने उसकी कॉल रिसीव नहीं की थी तो उसने उसने उसके खिलाफ झूठा केस दर्ज करा दिया था। इस आधार पर उन्होंने अपने मुवक्किल की जमानत याचिका कोर्ट में दायक की थी।