BREAKING NEWS

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने कहा- 'ग्लोबल वार्मिंग, जलवायु परिवर्तन से निपटने एकजुट हों जी-20 सदस्य देश'◾सुशील मोदी ने नीतीश पर कसा तंज- इनके समय था रेलवे का ‘पैसेंजर ट्रेन काल‘, अब विकास बुलेट गति से होगा ◾ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की मुश्किलें बढ़ी ◾आम आदमी पार्टी ने की वित्तमंत्री की आलोचना, करोड़ो का कर चुकाने के बावजूद दिल्ली को मिला मात्र 325 करोड़◾CM योगी आदित्यनाथ ने कहा- सरकारी योजनाएं महज वोटबैंक के लिए नहीं होतीं◾UP Politics: केशव प्रसाद मौर्य का ये बयान यूपी की राजनीति में मचा सकता है हलचल◾समाधान यात्रा के दौरान लोगों से नहीं मिले नीतीश कुमार, गुस्साए लोगों ने की आगजनी। ◾भारत-ब्रिटेन सुरक्षा संवाद में शामिल होकर ऋषि सुनक ने दिया ‘विशेष संकेत’◾GL ने बेबुनियादी आधार पर 244 प्रधानाचार्यों की नियुक्ति रोकी : सिसोदिया◾भारत सरकार ने चीन को फिर दिया झटका, एक साथ ब्लॉक किए 232 मोबाइल ऐप्स ◾देशद्रोह के लिए सजा-ए-मौत पाने वाले पाकिस्तान के पहले सैन्य शासक मुशर्रफ थे◾ TMC नेता सायोनी ने BJP सांसद सौमित्र को भेजा कानूनी नोटिस, लगाया ये बड़ा आरोप ◾लोन के लिए बार-बार करता था फोन, परेशान होकर कर्मचारी को जड़ दिए लात-घूंसे◾एलन मस्क ने उठाया बड़ा कदम, कारोबारियों के गोल्ड बैज के लिए ट्विटर प्रति माह 1,000 डॉलर करेगा चार्ज◾उत्तर प्रदेश : माघी पूर्णिमा पर लाखों श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा में डुबकी, हर-हर महादेव के उद्घोष से गूंजा संगम तट ◾असम : बाल विवाह पर सरकार सख्त, माता-पिता पर हो रही कार्रवाई, खौफ से बच्चियां खुद की ले रही जान ! ◾Tripura Assembly Election: अमित शाह सोमवार को त्रिपुरा में दो चुनावी रैलियों को करेंगे संबोधित◾ पति की संपत्ति के लिए 2 पत्नियों का सड़क के बीच मारपीट, स्थानिय लोगों ने कहा कलयुग है ◾दिल्ली में 1397 जगहों पर हाईटेक और मॉडर्न बस क्यू शेल्टर बनाने का लिया गया फैसला◾अडाणी मामले का भारतीय अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा दीर्घकालीन प्रभाव : मायावती ◾

सिंघु बॉर्डर की रेड लाइट पर बैठे किसानों पर महामारी एक्ट के तहत दर्ज हुई FIR

कृषि कानूनों के खिलाफ सिंघु बॉर्डर की रेड लाइट पर बैठकर आंदोलन कर रहे किसानों पर एफआईआर दर्ज की गई है। किसानों पर कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना करने और महामारी एक्ट और अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। आंदोलनकारी किसानों को दिल्ली की सीमाओं पर डेट हुए दो हफ्ते से अधिक का समय हो चुका है। 

ये किसान 29 नवम्बर को लामपुर बॉर्डर से जबरन दिल्ली की सीमा में घुस आए थे और सिंघु बॉर्डर की रेड लाइट पर धरने पर बैठ गए थे, तब से अब तक वहां किसान ऐसे ही रोड ब्लॉक कर बैठे हैं। 7 दिसम्बर को भी पुलिस ने अलीपुर थाने में किसानों के खिलाफ FIR दर्ज की थी।

12-14 दिसंबर के प्रदर्शन की रणनीति के साथ तैयार किसान, टिकैत बोले- पहले सरकार हटे पीछे

कृषि कानूनों पर सरकार और किसानों के बीच तकरार तेज होती जा रही है। जहां एक और किसान अपनी मांगों को लेकर टस से मस नहीं हो रही वहीं कानूनों को लेकर केंद्र सरकार भी अपना रुख स्पष्ट कर चुकी है। दोनों पक्ष अपने-अपने रुख पर अड़े हैं, जिसके कारण टकराव बढ़ता जा रहा है।

किसान संगठनों ने मांगें नहीं माने जाने पर देश के विभिन्न रेलमार्गों और राजमार्गों को अवरुद्ध करने की चेतावनी दी है। विभिन्न राज्यों के हजारों किसान पिछले करीब दो हफ्ते से दिल्ली के सिंघू, टिकरी, गाजीपुर और चिल्ला (दिल्ली-नोएडा) बार्डर पर प्रदर्शन कर रहे हैं।