BREAKING NEWS

CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान, बोले-पानी और सीवर के नए कनेक्शन पर देने होंगे 2,310 रुपये ◾NCP ने ली भाजपा की चुटकी, कहा- 'शरद पवार ने राजनीति के चाणक्य को दी मात'◾महाराष्ट्र : सरकार गठन को लेकर मुंबई में शाम 4 बजे होगी शिवसेना, NCP और कांग्रेस की बैठक◾संसद परिसर में कांग्रेस ने 'Electoral Bond' के खिलाफ किया प्रदर्शन◾गठबंधन पर संजय निरुपम तंज, कहा- 'तीन तिगाड़े काम बिगाड़े' वाली सरकार चलेगी कब तक?◾महाराष्ट्र में 5 साल के लिए शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री : संजय राउत◾इजराइल के PM बेंजामिन नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और विश्वासघात मामले में आरोप तय◾सत्यपाल मलिक बोले- अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर में केवट-शबरी की भी हों मूर्तियां, ट्रस्ट को लिखूंगा चिट्ठी◾झारखंड चुनाव: भाजपा के 'बागी' सरयू राय के बहाने नीतीश ने 'तीर' से साधे कई निशाने◾अयोध्या विवाद पर आए फैसले पर दूसरे देशों से संवाद बहुत सफल रहा : विदेश मंत्रालय◾झारखंड विधानसभा चुनाव : दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों पर 260 प्रत्याशी आजमाएंगे किस्मत◾उद्धव ठाकरे और आदित्य ने मुंबई में शरद पवार से की मुलाकात ◾सोनिया ने शिवसेना संग गठबंधन के लिए सीडब्ल्यूसी का सुरक्षित रास्ता चुना ◾श्रीलंका की नई सरकार के साथ करीब से मिलकर काम करने को तैयार : भारत◾महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के गठन के आसार बढे , शुक्रवार को हो सकती है इस बारे में घोषणा◾चुनावी बांड से चुनावी राजनीति में साफ धन आया : भाजपा ◾SPG सुरक्षा हटाए जाने पर बोलीं प्रियंका - यह राजनीति है ◾सेना ने मुख्यमंत्री पद के लिए नए नाम सुझाए, राकांपा ने उद्धव पर दिया जोर◾ED ने कश्मीर में आतंकवादियों से संबंधित छह संपत्तियां जब्त की ◾प्रदूषण पर राज्यसभा में भाजपा और आप में तकरार, केंद्र ने कहा ‘अच्छे’ दिन बढे◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

गोयल ने उठाया एमआरपी का मुद्दा

 vijay goel

नई दिल्ली : राज्यसभा में उपभोक्ता संरक्षण विधेयक पर अपने विचार रखते हुए मंगलवार को सांसद और वरिष्ठ भाजपा नेता विजय गोयल ने कहा कि विधेयक में एमआरपी पर कुछ नहीं कहा गया है, जबकि बाजार में एमआरपी सबसे बड़ी लूट का केंद्र बन रहा है। उन्होंने कहा कि बेहतर होगा यदि उत्पादों पर अधिकतम खुदरा मूल्य की बजाय न्यूनतम खुदरा मूल्य बताया जाए क्योंकि जो दाम बताए जा रहे हैं वे तीन से चार गुना ज्यादा हैं।

एमआरपी पर कठोर कदम उठाने की मांग करते हुए गोयल ने कहा कि जागो ग्राहक जागो अभियान के तहत एक विज्ञापन में ग्राहकों से एमआरपी से अधिक दाम पर कोई भी उत्पाद न खरीदने की अपील होती है, वहीं दूसरे विज्ञापन में ग्राहकों से एमआरपी पर मोल-भाव करने को कहा जाता है। तीन दशक पुराने विधेयक को हटाकर, उपभोक्ताओं को ज्यादा अधिकार देने हेतु नए बिल लाने पर उन्होंने उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान का धन्यवाद भी किया।

गोयल ने कहा कि सरकार उपभोक्ताओं की भलाई के लिए नए कानून लाए यह अच्छी बात है, लेकिन साथ ही जागरूकता, धर्म और नैतिकता पर भी ध्यान दे। ग्राहकों की जागरूकता पर सरकार हर साल 62 करोड़ रूपये खर्च करती है, लेकिन उससे केवल दो से तीन फीसद लोगों तक ही अपना सन्देश पहुंचा पाती है। उन्होंने सुझाव दिया की अथॉरिटी और काउंसिल के नाम एक जैसे हैं। 

इसलिए यदि सेंट्रल कंज्यूमर प्रोटेक्शन काउंसिल के काम की प्रकृति को देखकर इसका नाम एडवाइजरी काउंसिल रखा जाता तो ग्राहकों को अपनी शिकायतें दर्ज कराने में कोई कन्फ्यूजन नहीं होगा। उन्होंने आगे कहा कि ग्राहकों की शिकायतों का निपटान और उनकी जागरूकता पर सरकार को काफी काम करने की जरुरत है। हर साल 1.5 लाख उपभोक्ता फोरम में अपनी शिकायतें दर्ज कराते हैं, और आने वाले समय में यह संख्या बढ़नी ही है। पहले से इन उपभोक्ता फोरम में पांच लाख शिकायतें लंबित हैं।