BREAKING NEWS

अखिलेश के राज में बिजली ही नहीं आती थी, आज वो फ्री बिजली देने की बात कर रहे हैंः सीएम योगी ◾नेताजी जयंती : PM मोदी ने किया सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण, सम्मान में कही ये बात ◾दिल्ली : बीते 24 घंटों में आए कोरोना के 9 हजार से अधिक मामलें, इतने मरीजों की हुई मौत ◾पीएम की सुरक्षा चूक को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर ◾ 10 मार्च को अखिलेश यादव कहेंगे- ईवीएम बेवफा है: अनुराग ठाकुर◾SC एवं ST की बदौलत हम न सिर्फ चुनाव जीतेंगे बल्कि यूपी में सरकार भी बनायेंगेः चंद्रशेखर ◾ उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू हुए दूसरी बार कोरोना संक्रमित, खुद को किया आइसोलेट◾UP: एक और विधायक ने छोड़ा BJP का साथ, बताई यह वजह..., जानें अब तक किन नेताओं ने दिया इस्तीफा ◾नकवी ने मोदी और योगी को बताया 'एम-वाई' फैक्टर, कहा- 3B 'बलवाई, बाहुबली, बेईमानी’ का 'ब्रदरहुड' बेचैन ◾ भाजपा के सहयोगी अपना दल सोनेलाल ने किया मुस्लिम उम्मीदवार का एलान,आजम खान के बेटे के खिलाफ ठोकेंगे ताल◾दिल्ली : गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली में तैनात हुए 27 हजार से अधिक जवान, कमिश्नर ने दी जानकारी ◾हिंदुओं को जलसे की इजाजत दी तो..विवादित बोल पर बवाल, सिद्धू के सलाहकार मुस्तफा ने धर्म विशेष के खिलाफ उगला जहर ◾बेरोजगारी पर राहुल ने किया केंद्र का घेराव, कहा- सरकार कर रही पूंजीपतियों का विकास, सिर्फ ‘हमारे दो’... ◾PLC ने 22 उम्मीदवारों की पहली सूची की जारी, इस शहर से चुनाव लड़ेंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह◾अपर्णा यादव ने बांधे BJP की तारीफों के पुल, कहा- राष्ट्र को बचाने के लिए पार्टी की सत्ता में वापसी बहुत जरूरी ◾BJP में शामिल हुई अदिति सिंह ने प्रियंका को दी चुनाव लड़ने की चुनौती, कहा- रायबरेली अब कांग्रेस का गढ़ नहीं ◾SP ने जारी की पहली स्टार प्रचारकों की लिस्ट, मुलायम और अखिलेश समेत मौर्य का भी नाम, जानें पूरी सूची ◾अरविंद केजरीवाल का केंद्र पर बड़ा आरोप, बोले- सत्येंद्र जैन को गिरफ्तार कर सकती है ED◾चीनी PLA ने अरुणाचल से 'लापता' लड़के का लगाया पता, भारतीय सेना को किया सूचित, जानें क्या कहा?◾UP: केशव प्रसाद मौर्य ने विरोधियों पर बोला हमला, कहा- 10 मार्च को सपा, बसपा और कांग्रेस का होगा सूपड़ा साफ◾

नाले की सफाई को लेकर सरकार को फटकार

नई दिल्ली: दक्षिण दिल्ली के नाले की सफाई के मामले में हाईकोर्ट ने बुधवार को दिल्ली सरकार को फटकार लगायी। नाले से निकाले गए कचरे को साफ नहीं करने पर अदालत ने कहा कि घोर अक्षमता और लापरवाही के कारण दिल्ली सरकार नागरिकों के प्रति क्रूर है। नालों की सफाई की वार्षिक योजना नहीं रहने और मानसून के पहले महज खानापूर्ति के लिए दिल्ली सरकार के लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी)को फटकार लगाते हुए अदालत ने कहा, बाबुओं को समूचे शहर का काम करने के लिए वर्ष भर पैसा मिला है। न्यायमूर्ति मनमोहन और न्यायमूर्ति योगेश खन्ना की पीठ साउथ एक्सटेंशन-दो के निकट कुशक नाले में मलबे की सफाई के मुद्दे पर सुनवाई कर रही थी । नाले की सफाई 26 जून तक कर लेने का वादा किया गया था। पीठ ने कहा, नालियों (गंदा पानी और जल-मल)की सफाई के लिए आपके पास मास्टर प्लान होना चाहिए। आप खानापूर्ति वाला जवाब नहीं दे सकते ।

आपके पास समग्र दृष्टि होनी चाहिए। तथ्य है कि कोई योजना ही नहीं है। पीठ ने कहा, हर साल राजधानी में जलभराव होता है। चीजें भयानक रूप में है । पूरे साल कुछ नहीं होता और मलबा गिराया जाता है। फिर आप मानसून आने के पांच दिन पहले सफाई की कोशिश करते हैं । नाला में जमा कचरा महामारी होने का इंतजार कर रहा था। जवाब में पीडब्ल्यूडी ने कहा कि कुशक नाला से मानसून के दौरान बारिश का पानी निकल सकता है। इस पर अदालत ने कहा कि आप हफनामा दे कि मॉनसून के दौरान इस वर्ष यहां जलभराव नहीं होगा। इस प्रश्र पर विभाग के अधिकारी मौन हो गए।

पीडब्ल्यूडी और जल बोर्ड ने अदालत से कहा कि बारिश के पानी की निकासी संबंधी नालियों की देखरेख नगर निगम के अधीन है। इसपर अदालत ने कहा कि राजधानी में मल्टिप्लिसिटी ऑफ अथॉरिटी की बड़ी समस्या है। एक विभाग दूसरे पर अपनी जिम्मेदारी डालते हैं। हालांकि अदालत ने पीडब्ल्यूडी, के सचिव, जल बोर्ड के सीईओ और दक्षिण दिल्ली नगर निगम के कमिश्रर को निर्देश दिया है कि वह क्षेत्र का मुआयना करे और यह सुनिश्चित करें कि कुशक नाला में बेरोकटोक पानी का बहाव यमुना नदी में हो। वहीं अदालत ने अगली सुनवाई 12 जुलाई से पूर्व इन्हें स्टेटस रिपोर्ट भी सौंपने के आदेश दिए हैं।