BREAKING NEWS

MSME और बैंकों की स्थिति को लेकर राहुल ने BJP पर साधा निशाना, कहा- पहले ही दी थी चेतावनी◾कानपुर एनकाउंटर : हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर इनाम राशि को बढ़ाकर किया गया 5 लाख रुपए◾राजीव गांधी फाउंडेशन समेत तीन ट्रस्ट की फंडिंग की जांच के लिए MHA ने बनाई कमेटी◾विकास दुबे के खिलाफ पुलिस का एक्शन सख्त, 25 हजार का इनामी बदमाश श्यामू बाजपेयी गिरफ्तार ◾चीनी सैनिकों की वापसी का सिलसिला जारी, लद्दाख में 3 प्वाइंट्स पर पीछे हटी चीन◾देश में कोरोना से संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े सात लाख के करीब, 20 हजार 500 से अधिक लोगों की मौत ◾World Corona : दुनियाभर में लगभग साढ़े पांच लाख लोगों की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 17 लाख के पार ◾कानपुर एनकाउंटर : गैंगस्टर विकास दुबे का करीबी अमर दुबे मुठभेड़ में मारा गया◾आर्थिक कुप्रबंधन लाखों लोगों को कर देगा तबाह, अब यह त्रासदी स्वीकार नहीं : राहुल गांधी◾योगी सरकार का बड़ा फैसला : डीआईजी एसटीएफ अनंत देव का हुआ ट्रांसफर◾ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो पाए गए कोरोना पॉजिटिव◾महाराष्ट्र : 24 घंटे में कोरोना से 224 लोगों की मौत, 5134 नये मामले ◾दिल्ली में कोरोना का कोहराम जारी, बीते 24 घंटे में 2008 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1,02,831 तक पहुंचा◾पश्चिम बंगाल: कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते कोलकाता में फिर से लग सकता है लॉकडाउन ◾CBSE का बड़ा ऐलान, अगले साल 9वीं से 12वीं क्लास के सिलेबस में 30 फीसदी की होगी कटौती, बोर्ड ने ट्वीट कर दी जानकारी◾भारत में कोरोना टेस्टिंग का आंकड़ा पहुंचा 1 करोड़ के पार, मृत्यु दर दुनिया में सबसे कम : स्वास्थ्य मंत्रालय◾राहुल के आरोपों पर AgVa कंपनी का जवाब, कहा- वह डॉक्टर नहीं है, दावा करने से पहले करनी चाहिए थी पड़ताल◾यथास्थिति बहाल होने तक LAC से भारत को एक इंच भी पीछे नहीं हटना चाहिए : कांग्रेस◾राहुल का केंद्र सरकार से सवाल, कहा- भारतीय जमीन पर निहत्थे जवानों की हत्या को कैसे सही ठहरा रहा चीन?◾भारत-चीन बॉर्डर पर IAF ने दिखाया अपना दम, चिनूक और अपाचे हेलीकॉप्टर ने रात में भरी उड़ान◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जीएसटी आयुक्त कार्यालय ने दिल्ली में फर्जी बिलों का गोरखधंधा पकड़ा

नयी दिल्ली : केन्द्रीय जीएसटी दिल्ली के पश्चिम आयुक्त कार्यालय ने फर्जी बिल जारी करने के गोरखधंधे का भंडाफोड़ किया है। इस तरह के फर्जी बिलों के जरिये सरकारी खजाने को 108 करोड़ रुपये का चूना लगाया गया है। एक आधिकारिक विज्ञप्ति में शनिवार को यह जानकारी दी गई। माल और सेवाओं की आपूर्ति किये बिना ही ये फर्जी बिल कथित तौर पर रॉयल सेल्स इंडिया और उसकी 27 अन्य बनावटी कंपनियों द्वारा जारी की जा रही थी। 

इस मामले में दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। एक स्थानीय अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि आरोपी व्यक्ति 28 फर्जी कंपनियां चला रहे थे और इन कंपनियों के जरिये धोखाधड़ी कर इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) लिया जा रहा था। इससे सरकारी खजाने को चूना लगाया गया। इसमें कहा गया है, ‘‘शुरुआती तौर पर इस धोखाधड़ी के तहत 900 करोड़ रुपये के फर्जी बिलों के जरिये करीब 108 करोड़ रुपये का आईटीसी लिया गया। इस मामले में अंतिम शुल्क का पता जांच के बाद चलेगा।’’ 

अब तक 15 खरीदार कंपनियां इस मामले में स्वैच्छिक वक्तव्य जारी कर अपनी देनदारी को स्वीकार कर चुकी हैं और उन्होंने गलत तरीके से लिये गये आईटीसी, ब्याज और जुर्माने के बदले 1.30 करोड़ रुपये स्वैच्छिक तरीके से जमा कराये हैं। इसके अलावा इन फर्जी कंपनियों के बैंक खातों में रखे 1.58 करोड़ रुपये की निकासी पर रोक लगा दी गई है और आगे की जांच जारी है।