BREAKING NEWS

अखिलेश का भाजपा पर जोरदार हमला, बोले- सरकार ने किसानों को पूरी तरह हाशिये पर रख दिया है◾मप्र में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, बड़वाह से विधायक ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की ◾उपचुनाव से पहले RJD- कांग्रेस में टूट! जानें लालू ने क्यों कहा ताकि कांग्रेस वहां से अपनी जमानत भी गंवा सके?◾एमपी: दिग्विजय ने साधा निशाना, बोले- उपचुनाव में मतदाता मोदी और शिवराज को सबक सिखा सकते हैं◾आर्यन ड्रग्स केस को लेकर NCB पर हमलावर शिवसेना-NCP, राउत ने शेयर किया VIDEO, मलिक बोले- 'सत्यमेव जयते'◾जम्मू-कश्मीर में बोले अमित शाह- विकास में युवा शामिल होंगे, तो आतंकवादियों के नापाक मंसूबे विफल हो जायेंगे◾संजय राउत ने 100 करोड़ टीकाकरण के दावे को ‘झूठा’ करार दिया, पूछा- ‘‘किसने इसकी गिनती की है?’’◾'प्रतिबंध' पर महबूबा ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- स्थिति से निपटने के लिए सरकार के पास ही एकमात्र तरीका है 'दमन'◾नवजोत सिंह सिद्धू का Tweet, लिखा-'असली मुद्दों पर डटा रहूंगा, नहीं हटने दूंगा ध्यान' ◾भारत Vs पाक मैच के खिलाफ बाबा रामदेव, बोले-आतंकवाद और क्रिकेट एक साथ नहीं चल सकता◾PM मोदी जी-20 शिखर सम्मेलन में अफगान संकट पर संयुक्त दृष्टिकोण अपनाने का कर सकते हैं आह्वान ◾अमित शाह के दौरे के बीच शोपियां में आम नागरिक की गोली मारकर की हत्या◾ईंधन के दामों में बढ़ोतरी को लेकर प्रियंका का मोदी सरकार पर तंज, 'जनता को कष्ट देने के बनाए हैं रिकॉर्ड' ◾मन की बात में बोले मोदी- वैक्सीन की 100 करोड़ खुराक के बाद देश नए उत्साह, नयी ऊर्जा से आगे बढ़ रहा है◾जम्मू-कश्मीर के पुंछ ऑपरेशन में 2 पुलिसकर्मी समेत एक सैनिक घायल◾वोट देना हो तो दो, वर्ना....................! किसानों से बोले योगी के मंत्री, वायरल हुआ Video◾हेयर स्टाइल के बाद जिम में पसीना बहा रहे लालू के लाल तेज प्रताप, फोटो सांझा करते हुए दिया यह खास मैसेज ◾Coronavirus : भारत में पिछले 24 घंटे में 15 हजार से अधिक नए मामलों की पुष्टि, 561 लोगों ने गंवाई जान◾अगर शाहरुख खान बीजेपी में शामिल हो जाएं, तो 'मादक पदार्थ शक्कर' बन जाएंगे : छगन भुजबल ◾World Corona Update : महामारी की चपेट में अब तक 24.33 करोड़ लोग, 6.78 अरब का हुआ टीकाकरण◾

केजरीवाल सरकार को दिल्ली हाई कोर्ट का सुझाव, कोरोना के लिए बढ़ाई जाए RT/PCR जांच

कोरोना वायरस से जूझ रही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में संक्रमण का पता लगाने के लिए हाई कोर्ट ने बुधवार को केजरीवाल सरकार को आरटी/पीसीआर जांच यथासंभव बढ़ाने का सुझाव दिया है। हाई कोर्ट के अनुसार ‘‘रैपिड एंटीजन टेस्ट’’के नतीजे महज 60 प्रतिशत ही सही आए हैं। 

दिल्ली हाई कोर्ट ने उपराज्यपाल द्वारा गठित एक विशेषज्ञ समिति को प्राथमिकता आधार पर एक बैठक बुलाने को कहा, जिसमें यह विचार किया जाए कि किस हद तक आरटी/पीसीआर जांच में वृद्धि की जानी चाहिए। वर्तमान में दिल्ली में आरटी/पीसीआर जांच की मंजूरी प्राप्त क्षमता 14,000 जांच प्रतिदिन है। 

हाई कोर्ट ने कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ने को लेकर चिंता प्रकट की। मंगलवार को 4,500 नए मामले सामने आए थे। न्यायमूर्ति हीमा कोहली और न्यायमूर्ति सुब्रमण्यम प्रसाद की पीठ ने कहा, ‘‘रैपिड एंटीजन टेस्ट के नतीजे 60 प्रतिशत ही सही आने के चलते (कोविड-19 के) बगैर लक्षण वाले मरीजों में संक्रमण के बारे में गंभीर संदेह रह जाता है, ऐसे में हमारा यह दृढ़ विचार है कि आरटी/पीसीआर पर आगे बढ़ना चाहिए। ’’ 

पीइ ने कहा, ‘‘हमारे विचार से, दिल्ली सरकार को आरटी/पीसीआर के जरिए जांच बढ़ाने पर ध्यान देना चाहिए ताकि आरटी/पीसीआर के जरिये जांच यथासंभव बढ़ सके।’’ कोर्ट ने दिल्ली सरकार को इस सिलसिले में कमेटी की रिपोर्ट के साथ एक स्थिति रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया और विषय की अगली सुनवाई 30 सितंबर के लिए सूचीबद्ध कर दी। 

पीठ ने इस बात का भी जिक्र किया कि दिल्ली सरकार सुनवाई की अगली तारीख से पहले सितंबर में किए गए तीसरे सीरो सर्वे के नतीजे पिछले दो सर्वे की तुलना रिपोर्टों के साथ पेश करे। कोर्ट को यह बताया गया कि दिल्ली में 435 मोहल्ला क्लीनिकों में से 400 संचालित हो रहे हैं और उनमें से 50-60 क्लीनिक ओपीडी सेवा के बाद कोविड-19 की जांच भी कर रहे हैं। 

पीठ ने कहा कि न सिर्फ मोहल्ला क्लीनिक बल्कि सामुदायिक केंद्रों को को जांच सुविधाएं प्रदान करने के काम में लगाया जाना चाहिए। सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार के वकील सत्यकाम ने अदालत को आश्वस्त किया कि अधिकारी आरटी/पीसीआर के जरिए जांच बढ़ाने पर विचार करेंगे लेकिन उन्होंने रैपिड एंटीजन टेस्ट का यह कहते हुए बचाव किया कि ये शीघ्र नतीजे देते हैं। 

इस पर कोर्ट ने कहा कि रैपिड एंटीजन टेस्ट ज्यादातर गलत नेगेटिव रिपोर्ट देते हैं, फिर सरकार को इसके लिए क्यों इंतजार करना चाहिए, इसके बजाय आरटी/पीसीआर की क्षमता बढ़ानी चाहिए। कोर्ट अधिवक्ता राकेश मल्होत्रा की एक जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही है।