BREAKING NEWS

BJP सरकार बनने के बाद गोरखा लोगों की चिंता होगी खत्म, दीदी ने विकास पर लगाया फुल स्टाप : अमित शाह ◾CM येदियुरप्पा ने कर्नाटक में लॉकडाउन पर दिया बड़ा बयान, हाथ जोड़कर लोगों से की ये अपील ◾इन 10 राज्यों में कोरोना की रफ्तार सबसे खतरनाक, 80 प्रतिशत नये मामलों ने बढ़ाया डर◾कोरोना के मद्देनजर CM केजरीवाल की केंद्र से मांग- रद्द की जाएं CBSE की परीक्षाएं◾ममता के बाद BJP उम्मीदवार राहुल सिन्हा पर भी लगी पाबंदी, चुनाव आयोग ने 48 घंटे का लगाया बैन ◾चुनाव आयोग के बैन के खिलाफ ममता का धरना शुरू, रात 8 बजे के बाद दो रैलियों को करेंगी संबोधित ◾राउत ने ममता को बताया ‘बंगाल की शेरनी', कहा-EC ने BJP के कहने पर लगाई प्रचार पर रोक◾देश में कोरोना संक्रमण के करीब 1 लाख 62 हजार नए मामलों की पुष्टि, 879 लोगों ने गंवाई जान ◾विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या 13.64 करोड़ के पार, प्रभावित देशों में भारत दूसरे स्थान पर ◾कोरोना की चौथी लहर से चल रही जंग के बीच CM केजरीवाल ने 14 अस्पतालों को किया कोविड अस्पताल घोषित ◾सोनिया गांधी ने PM मोदी से की मांग,कोरोना की दवाओं को GST से रखा जाए बाहर ◾कोलकाता में अमित शाह जनसंपर्क अभियान की करेंगे शुरुआत, नुक्कड़ सभाओं का किया जाएगा आयोजन ◾निर्वाचन आयोग के फैसले पर भड़की TMC, ममता बनर्जी आज कोलकाता में देंगी धरना ◾निर्वाचन आयोग की ममता पर बड़ी कार्रवाई, 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार करने पर लगाया प्रतिबंध◾‘स्पूतनिक वी’ के इमरजेंसी उपयोग को लेकर कांग्रेस का कटाक्ष: ‘अयोग्य’ सरकार ने कुछ सीख तो ली◾आंशिक लॉकडाउन का सिलसिला जारी, हरियाणा सरकार ने आज रात से नाइट कर्फ्यू लगाने का किया ऐलान◾क्या कोविड वैक्सीन लगवा चुके लोग दूसरों को कर सकते हैं संक्रमित, जानिये क्या है विशेषज्ञों की राय ◾100 करोड़ उगाही मामले में CBI ने महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को पूछताछ के लिए बुलाया ◾‘लोकतंत्र को लूटने’ की साजिश कर रही हैं ममता बनर्जी, बंगाल ने किया संकल्प 'दो मई, दीदी गई' : मोदी ◾कोरोना मरीजों से भरे हॉस्पिटल, 17 बड़े प्राइवेट अस्पतालों में एक भी बेड खाली नहीं◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बाटला हाउस एनकाउंटर मामले में इंडियन मुजाहिदीन आरिज खान दोषी करार, 15 मार्च को सजा सुनाएगी कोर्ट

दिल्ली की साकेत कोर्ट ने सोमवार को 2008 के बाटला हाउस एनकाउंटर से जुड़े एक मामले में इंडियन मुजाहिदीन के एक आतंकवादी आरिज खान को दोषी ठहराया है। बाटला हाउस में एल-18 में मुठभेड़ के बाद कथित रूप से भागने के एक दशक बाद फरवरी 2018 में आरिज खान को गिरफ्तार किया गया था।

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संदीप यादव ने कहा कि आरिज खान ने अपने साथियों के साथ, जानबूझकर इनकाउंटर स्पेस्लिस्ट और इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा की हत्या कर दी और हेड कांस्टेबल बलवंत सिंह और राजबीर सिंह को चोट पहुंचाई। जज ने कहा, "आरिज खान को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और शस्त्र अधिनियम के तहत दोषी ठहराया गया।"

अदालत 15 मार्च को दोपहर 12 बजे सजा के बिंदुओं पर दलील सुनेगी। भारतीय दंड संहिता की धारा 186, 333, 353, 302, 307, 174 (ए) और 34 के तहत और आर्म्स एक्ट की धारा 27 के तहत दोषी ठहराया गया है। 19 सितंबर 2008 को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जामिया नगर के बाटला हाउस में एक मुठभेड़ को अंजाम दिया था, जिसमें इंडियन मुजाहिदीन के दो संदिग्ध आतंकवादी मारे गए थे।

मुठभेड़ से छह दिन पहले दिल्ली में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में संदिग्ध आईएम के गुर्गो के शामिल होने की बात कही गई थी। एनकाउंटर स्पेशलिस्ट और इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा, जिन्होंने पुलिस की कार्रवाई की अगुवाई की, ऑपरेशन के दौरान मारे गए। आरिज कथित रूप से आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिदीन से जुड़ा है। पुलिस ने दावा किया कि वह चार अन्य लोगों के साथ बाटला हाउस में मौजूद था, और मुठभेड़ के दौरान पुलिस से बचने में कामयाब रहा।

2018 में खान की गिरफ्तारी के दौरान जारी बयानों के अनुसार, पुलिस ने कहा था कि खान एक विशेषज्ञ बम निर्माता और साजिशकर्ता है। दिल्ली, जयपुर, अहमदाबाद और उत्तर प्रदेश में विभिन्न बम विस्फोट मामलों में उसकी तलाश थी। अतिरिक्त लोक अभियोजक (एपीपी) ए.टी. अंसारी ने दिल्ली पुलिस का प्रतिनिधित्व किया, जबकि अधिवक्ता एम.एस. खान ने मामले में मुकदमे की कार्यवाही के दौरान आरिज खान का प्रतिनिधित्व किया।

बाटला हाउस में अपार्टमेंट में रहने वाले पांच लोगों में से, मोहम्मद साजिद और आतिफ अमीन मुठभेड़ के दौरान मारे गए, जुनैद और शहजाद अहमद भाग गए और सालों बाद पकड़े गए थे, जबकि मोहम्मद सैफ ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था। एक ट्रायल कोर्ट ने जुलाई, 2013 में इंडियन मुजाहिदीन के आतंकवादी शहजाद अहमद को मामले के सिलसिले में उम्रकैद की सजा सुनाई थी।

बिहार विधान परिषद में गुस्से में दिखे CM नीतीश, RJD एमएलसी को कहा- 'पहले नियम जान लो'