BREAKING NEWS

आतंकवाद के कारण विश्व अर्थव्यवस्था को 1,000 अरब डॉलर का नुकसान : PM मोदी◾महाराष्ट्र गतिरोध : कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना में बातचीत, सोनिया से मिल सकते हैं पवार ◾मोदी..शी की ब्राजील में बैठक के बाद भारत, चीन अगले दौर की सीमा वार्ता करने पर हुए सहमत ◾कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान ने भारत से किसी भी समझौते से किया इनकार ◾राफेल के फैसले से JPC की जांच का रास्ता खुला : राहुल गांधी ◾राफेल पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद देवेंद्र फड़णवीस बोले- राहुल गांधी को अब माफी मांगनी चाहिए ◾नोबेल विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा- शुद्ध हवा सुनिश्चित करने के लिए प्रधानमंत्री को ठोस कदम उठाने चाहिए◾TOP 20 NEWS 14 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾RSS-भाजपा को सबरीमाला पर न्यायालय का फैसला मान लेना चाहिए : दिग्विजय सिंह ◾महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने को लेकर CM ममता ने राज्यपाल कोश्यारी पर साधा निशाना ◾प्रधानमंत्री की छवि बिगाड़ने के लिए कांग्रेस ने लगाए थे राफेल सौदे पर भ्रष्टाचार के आरोप : राजनाथ◾राफेल मामले में SC के फैसले को रविशंकर ने बताया सत्य की जीत, राहुल गांधी से की माफी की मांग ◾हरियाणा सरकार के मंत्रीमंडल का हुआ विस्तार, 6 कैबिनेट और 4 राज्यमंत्रियों ने ली शपथ◾अमेठी : अभद्रता का वीडियो वायरल होने के बाद DM पद से हटाए गए प्रशांत शर्मा◾कर्नाटक के अयोग्य घोषित विधायक बीजेपी में हुए शामिल, CM येदियुरप्पा ने किया स्वागत◾शिवसेना के सांसद संजय राउत ने BJP से कहा- हमें डराने या धमकाने की कोशिश न करें ◾अवमानना मामले में राहुल गांधी को मिली राहत, सुप्रीम कोर्ट ने माफीनामा किया स्वीकार◾सबरीमाला मामले में SC ने पुनर्विचार के लिए समीक्षा याचिकाएं 7 न्यायाधीशों की पीठ के पास भेजी◾ब्रिक्स सम्मेलन में बोले PM मोदी- भारत दुनिया की सबसे खुली और निवेश के अनुकूल अर्थव्यवस्था है◾राफेल मामले में केंद्र सरकार को मिली राहत, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की पुनर्विचार याचिका◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

इंटरनेट कंपनियों को ब्लू व्हेल गेम बंद करने को कहा : उच्च न्यायालय

नई दिल्ली : दिल्ली उच्च न्यायालय को आज केंद, सरकार ने सूचित किया है कि उसने इंटरनेट दुनिया की सभी बड़ी कंपनियों गूगल, फेसबुक और याहू को ब्लू व्हेल गेम को बंद करने के निर्देश दिए थे। इस गेम की वजह से दुनिया भर में कई बच्चों ने आत्महत्या कर ली है। केंद, सरकार के वकील ने कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मिथल और न्यायमूर्ति सी हरि शंकर की पीठ को बताया कि इस संबंध में केंद, सरकार ने परामर्श भी जारी किया है।

इंटरनेट कंपनियों को इस गेम से संबंधित किसी भी तरह की चीज को अपलोड करने से रोकने के संबंध में डाली गई याचिका पर केंद, सरकार ने अदालत को सूचित किया है। अदालत ने याचिका को वापस लिया हुआ मानकर इसको खारिज कर दिया क्योंकि याचिकाकर्ता वकील गुरमीत सिंह ने कहा कि उनकी मांग को पहले ही पूरा कर दिया गया है। उच्चतम न्यायालय ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय को स्कूल जाने वाले बच्चों को इस तरह के खतरनाक खेलों के खतरे के प्रति जागरूक करने के लिए सर्कुलर जारी करने को कहा था।

केंद, सरकार के वकील ने उच्च न्यायालय को सूचित किया कि उन्होंने गूगल, फेसबुक, व्हाट्सएप्प, इंस्टाग्राम, माइक्रोसॉफ्ट और याहू जैसी इंटरनेट कंपनियों को यह सुनिश्चित करने को कहा था कि उनके प्लेटफॉर्म से ब्लू व्हेल के लिंक के साथ ही इस तरह के सभी खतरनाक खेलों के लिंक तत्काल हटा लिए जाएं। ब्लू व्हेल चैलेंज गेम कथित तौर पर एक आत्मघाती खेल है। इस खेल में खिलाड़ को कुछ निश्चित तरह के कार्य 50 दिनों के अंदर पूरे करने को कहा जाता है और सबसे अंतिम काम खुद की जान लेना होता है। वहीं खिलाड़ को हर चुनौती को पूरा करने की तस्वीर भी अपलोड करनी होती है। रिपोर्ट के अनुसार भारत में 12-19 साल तक के छह से ज्यादा बच्चों ने इस चैलेंजिंग गेम को खेलते हुए कथित रूप से अपनी जान ले ली।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।