BREAKING NEWS

भारत में क्यों हुआ कोरोना महामारी का भयावह विस्फोट, जानिए WHO द्वारा बताई गई यह वजहें ◾कौन बनेगा असम का मुख्यमंत्री ? आज विधायक दल की बैठक में BJP नए नेता की घोषणा करेगी ◾दुनिया में कोरोना मामलों की संख्या 15.72 करोड़ के पार, 32.7 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾आईएमए ने केंद्र से की मांग- देश में पूर्ण लॉकडाउन की जरूरत, स्वास्थ्य मंत्रालय को ‘जाग’ जाना चाहिए ◾अब तक महाराष्ट्र में कोरोना से 75 हजार से ज्यादा मौत, संक्रमितों की संख्या 50 लाख के पार ◾फड़णवीस ने CM ठाकरे को लिखा पत्र, कहा- बीएमसी कोरोना से हुई मौत के मामलों को छिपा रही है ◾महामारी में कालाबाजारी: दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर के नाम पर फायर एंस्टीग्यूशर बेचने का खेल◾कोरोना महामारी के संकट में प्रधानमंत्री मोदी की यूरोपीय संघ से अपील, वैक्सीन के पेटेंट पर दें छूट ◾वैक्सीन की भारी मांग को पूरा करने के लिए प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, कच्चे माल की आपूर्ति जरूरी : भारत बायोटेक◾महामारी के प्रकोप के चलते केरल और तमिलनाडु में लगा संपूर्ण लॉकडाउन, पूर्वोत्तर के राज्यों ने भी कड़े किए प्रतिबंध◾केंद्र सरकार का बड़ा फैसला : अस्पताल में भर्ती होने के लिए कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट अनिवार्य नहीं ◾क्या बंगाल BJP नेतृत्व में पड़ी दरार, 77 विधायकों और 18 सांसदों के TMC से संपर्क में होने का दावा ◾PM मोदी विशेष आमंत्रित के रूप में भारत-यूरोपीय परिषद की बैठक में हुए शामिल, स्वास्थ्य संबंधी तैयारी पर हुई चर्चा ◾पप्पू यादव ने वीडियो जारी कर किया दावा - बिहार में मरीजों की बजाय बालू ढो रही है BJP सांसद की एंबुलेंस◾बेहतर ऑक्सीजन आवंटन के लिए सुप्रीम कोर्ट ने नेशनल टास्क फोर्स का गठन किया, जानिये कौन-कौन है शामिल ◾कांग्रेस की अपील : देश में संपूर्ण लॉकडाउन लगाए केंद्र सरकार और गरीबों की करे आर्थिक मदद◾महाराष्ट्र में कहां हो रही है चूक, प्रतिबंधों के बावजूद औसतन 50,000 से अधिक दैनिक मामले आ रहे◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया, देश में ऑक्सीजन सपोर्ट और वेंटिलेटर पर कितने मरीज◾दिल्ली में कोविड के 17 हजार से अधिक नए मामले, 332 मौतें लेकिन संक्रमण दर में गिरावट जारी◾असम में CM के लिए हाई प्रोफाइल बनाम लो प्रोफाइल की लड़ाई, BJP कल कर सकती है नए मुख्यमंत्री की घोषणा◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

निर्भया दोषी के मानसिक बीमारी के दावे पर जेल प्रशासन का बयान- ‘तोड़े मरोड़े गए तथ्यों का पुलिंदा’

निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले के दोषियों के खिलाफ अदालत ने 17 फरवरी को नया डेथ वारंट जारी किया था। इस वारंट के तहत चारों दोषियों को 3  मार्च की सुबह 6  बजे फांसी होना है। तिहाड़ जेल प्रशासन इस फांसी को लेकर एक बार फिर तैयारी में जूट चुकी है। निर्भया के चार दोषियों में से विनय शर्मा के मानसिक बीमारी से जूझने के दावे को तिहाड़ जेल प्रशासन ने शनिवार को ‘‘तोड़े मरोड़े गए तथ्यों का पुलिंदा’’ बताया है।

जेल अधिकारियों ने अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा को बताया कि सीसीटीवी फुटेज से साबित हुआ है कि दोषी विनय कुमार शर्मा ने चेहरे को खुद ही जख्मी कर लिया और वह किसी मनोवैज्ञानिक विकार से ग्रस्त नहीं है। अदालत ने शर्मा की याचिका पर अपना आदेश सुरक्षित रख लिया और जल्द ही फैसला सुनाए जाने की संभावना है। दोषी ने मानसिक बीमारी के आधार पर राहत का अनुरोध किया है । जेल प्रशासन की ओर से पेश लोक अभियोजक ने कहा, ‘‘सभी दोषियों के दावे तोड़े मरोड़े गए तथ्यों का पुलिंदा है।

डॉक्टर ने उसकी जांच की थी और जख्म के निशान मिले थे और उन्होंने उसे दवा दी। सभी जख्म उसने खुद ही बनाए हैं और ये दिखावटी हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘चिकित्सा रिकार्ड कहते हैं कि वह किसी तरह की भी मानसिक बीमारी से ग्रस्त नहीं है और किसी अस्पताल में उसकी जांच कराने की कोई जरूरत नहीं है। जेल के डॉक्टर नियमित तौर पर उसकी जांच कर रहे हैं।’’ जेल की तरफ से पेश मनोचिकित्सक ने कहा कि रोजाना आधार पर सभी चारों दोषियों की चिकित्सा जांच की गयी और सभी ठीक हैं ।

अभियोजक ने आगे कहा, ‘‘वह अपनी मां और वकील से बात करता है। इसलिए यह कहना गलत होगा कि वह किसी को पहचान नहीं रहा है।’’ वहीं बचाव पक्ष के वकील ने कहा कि दोषी के हाथ पर प्लास्टर है। यह दिखाता है कि वह चोटिल है और उसने खुद से जख्म नहीं बनाए हैं। दोषी की ओर से पेश वकील ए पी सिंह ने कहा, ‘‘जेल उसके बारे में अदालत में तथ्य क्यों छिपा रहा है ? दस्तावेज क्यों नहीं दाखिल किए जा रहे हैं। ’’ वैसे तिहाड़ के अधिकारियों ने कहा कि यह कहना गलत होगा कि उसकी बांह पर प्लास्टर है। बांह टूटी हुई नहीं है सिर्फ हाथ पर एक पट्टी है।

बता दें अपनी याचिका में विनय ने कथित मानसिक बीमारी सिजोफ्रेनिया तथा मस्तिष्क और बांह पर चोट के लिए बेहतर उपचार कराए जाने की मांग की है । जेल अधिकारियों के मुताबिक, तिहाड़ जेल में अपनी कोठरी में सिर मारकर खुद को उसने जख्मी कर लिया था।

डोनाल्ड ट्रम्प के स्वागत के लिए जयपुर में तैयार किये गए सोने और चांदी की खास कटलरी

याचिका में दावा किया गया है कि शर्मा के परिवारवालों के आग्रह पर उसके वकील जेल में देखने गए तो उन्होंने देखा कि उसके माथे पर गहरी चोट है, दायीं बांह टूटी हुई है और उसपर प्लास्टर है। वह मानसिक बीमारी और सिजोफ्रेनिया से ग्रस्त है । याचिका में कहा गया कि शर्मा जेल में अपने वकील और अपनी मां को नहीं पहचान सका।