BREAKING NEWS

PAK में गुतारेस की J&K पर की गई टिप्पणी के बाद भारत ने कहा - जम्मू कश्मीर देश का अभिन्न हिस्सा ◾मतभेदों को सुलझाने के लिए कमलनाथ और सिंधिया इस हफ्ते कर सकते है मुलाकात◾अमेरिका राष्ट्रपति की अहमदाबाद यात्रा से पहले AIMC ने जारी किये ‘नमस्ते ट्रंप’ वाले पोस्टर ◾इस साल राज्यसभा में विपक्षी ताकत होगी कम ◾23 फरवरी से 23 मार्च तक उनका दल चलाएगा देशव्यापी अभियान - गोपाल राय◾पश्चिम बंगाल में निर्माणाधीन पुल का गर्डर ढहने से दो की मौत, सात जख्मी ◾कच्चे तेल पर कोरोना वायरस का असर, और घट सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम◾बाबूलाल मरांडी सोमवार को BJP होंगे शामिल, कई वरिष्ठ भाजपा नेता समारोह में हो सकते हैं उपस्थित◾लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर भीषण हादसा , ट्रक और वैन में टक्कर के बाद लगी आग , 7 लोग जिंदा जले◾वित्त मंत्रालय ने व्यापार पर कोरोना वायरस के असर के आकलन के लिये मंगलवार को बुलायी बैठक ◾कोरोना वायरस मामले को लेकर भारतीय राजदूत ने कहा - चीन की हरसंभव मदद करेगा भारत◾NIA को मिली बड़ी कामयाबी : सीमा पार कारोबार के जरिए आतंकवाद के वित्तपोषण के मिले सबूत◾दिल्ली CM शपथ ग्रहण समारोह दिखे कई ‘‘लिटिल केजरीवाल’’◾TOP 20 NEWS 16 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में समर्थकों ने कहा : देश की राजनीति में बदलाव का होना चाहिए◾PM मोदी ने काशी महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखा कर रवाना, जानिये इस ट्रेन की खासियतें ◾PM मोदी ने वाराणसी में 'काशी एक रूप अनेक' कार्यक्रम का किया शुभारंभ◾CAA को लेकर प्रधानमंत्री का बड़ा बयान, बोले-दबावों के बावजूद हम कायम हैं और रहेंगे◾PM मोदी के काफिले को सपा कार्यकर्ता ने दिखाया काला झंडा◾प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में करीब 12 सौ करोड़ रुपये की 50 विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया◾

मोदी को ‘रीयल लाइफ’ में जेटली ने बनाया हीरो

नई दिल्ली : 2019 के चुनाव के दौरान खूब चर्चित रही फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' की तरह 'मेकिंग ऑफ मोदी' जैसी कोई डॉक्युमेंट्री बने तो संभव है कि उसमें पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बराबर ही स्क्रीन स्पेस मिले। क्योंकि 'मोदी' को 'प्रधानमंत्री' बनाने वालों में अरुण जेटली नाम टॉप-टेन की लिस्ट में पहले पायदान पर आता है। 

इसीलिए अगर सिल्वर स्क्रीन पर मोदी की 'रील लाइफ' को ओमंग कुमार ने निर्देशित किया है तो 'रीयल लाइफ' में अरुण जेटली ने मोदी को महानपुरुष के रूप में दुनिया के सामने लाकर हीरो बनाया। वह उनके हर एक फैसले के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहे। अरुण जेटली की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अहमदाबाद गुजरात से दिल्ली तक आने में अहम भूमिका रही। वह मोदी के ऐसे सारथी थे, जिसने हर सुख-दुख में उनका साथ दिया है।

 

हर सांस पार्टी के लिए थी समर्पित... 

वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता बताते हैं कि अरुण जेटली की हर सांस पार्टी के लिए समर्पित थी। जब भी पार्टी दो लाग साथ होते तो पार्टी और कार्यकर्ताओं के लिए ही बात करते। सन् 2014 के आम चुनाव में भाजपा से बतौर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम सामने लाने में जहां राजनाथ फ्रंट पर थे, वहीं अरुण जेटली पीछे से नरेंद्र मोदी के नाम पर सभी की सहमती के लिए काम कर रहे थे। 

विपक्ष में भी अहम भूमिका 

वर्ष 2009-2014 तक पार्टी को प्रासंगिक बनाए रखा। कैबिनेट में भी अरुण जेटली अगर फ्रंट सीट पर बैठे या अक्सर फाइटर पायलट की भूमिका में देखे जाते रहे। सुषमा स्वराज बैक सीट पर बैठे मोदी सरकार का मददगार और मानवीय पक्ष लोगों के बीच लाती रहीं। 

2014 से पहले पांच साल तक दिल्ली में बीजेपी को प्रासंगिक बनाए रखने में जो दो नेता अग्रणी भूमिका में रहे वे अरुण जेटली और सुषमा स्वराज ही थे। अरुण जेटली राज्य सभा में तो सुषमा स्वराज लोक सभा में बड़ी ही मजबूती के यूपीए-2 सरकार का सामना किया।