BREAKING NEWS

दिल्ली : सरिता विहार और जसोला में शाहीन बाग प्रदर्शन के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग◾पहले शाहीन बाग, फिर जाफराबाद और अब चांद बाग में CAA के खिलाफ धरने पर बैठे प्रदर्शनकारी ◾ट्रम्प की भारत यात्रा पहले से मोदी ने किया ट्वीट, लिखा- अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत करने के लिए उत्साहित है भारत◾सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसलों ने देश के कानूनी और संवैधानिक ढांचे को किया मजबूत : राष्ट्रपति कोविंद ◾Coronavirus के प्रकोप से चीन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 2400 पार ◾शाहीन बाग प्रदर्शन को लेकर वार्ताकार ने SC में दायर किया हलफनामा, धरने को बताया शांतिपूर्ण◾मन की बात में बोले PM मोदी- देश की बेटियां नकारात्मक बंधनों को तोड़ बढ़ रही हैं आगे◾बिहार में बेरोजगारी हटाओ यात्रा के खिलाफ लगे पोस्टर, लिखा-हाइटैक बस तैयार, अतिपिछड़ा शिकार◾भारत दौरे से पहले दिखा राष्ट्रपति ट्रंप का बाहुबली अवतार, शेयर किया Video◾CAA के विरोध में दिल्ली के जाफराबाद में प्रदर्शन जारी, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात ◾जाफराबाद में CAA के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर कपिल मिश्रा का ट्वीट, लिखा-मोदी जी ने सही कहा था◾US में निवेश कर रहे भारतीय निवेशकों से मुलाकात करेंगे Trump◾कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पाक राष्ट्रपति आरिफ अल्वी से की मुलाकात◾J&K के तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों की जल्द रिहाई के लिए प्रार्थना करता हूं : राजनाथ सिंह◾1 मार्च से नहीं मिलेंगे 2000 रुपये के नोट, इस सरकारी बैंक ने लिया बड़ा फैसला !◾इलाहाबाद रेलवे डिवीजन हुआ प्रयागराज रेलवे डिवीजन ◾GSI ने सोनभद्र को लेकर किया खुलासा , कहा - 3 हजार टन नहीं, 160 किलो सोना निकलने की संभावना◾कांग्रेस के शीर्ष नेता, पार्टी का बड़ा वर्ग चाहता है कि राहुल फिर बनें अध्यक्ष : सलमान खुर्शीद◾मायावती ने Modi सरकार पर बोला हमला, कहा - आरक्षण को ‘धीमी मौत’ दे रही है BJP◾देश के 20 राज्यों में AAP पार्टी शुरू करेगी राष्ट्र निर्माण अभियान◾

जेएनयू : यूजीबीएम में फैसला, जारी रहेगी हड़ताल

नई दिल्ली : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में विद्यार्थियों का आंदोलन जारी है। बीते एक महीने से ज्यादा समय बीत जाने के बाद भी विद्यार्थी अपनी मांगों से पीछे हटने के मूड में फिलहाल दिखाई नहीं दे रहे हैं। जेएनयू में पढ़ाई ठप है, विद्यार्थी शैक्षणिक गतिविधियां जैसे असाइनमेंट व परीक्षा आदि का बहिष्कार करने के मूड में हैं। 

दरअसल इस संदर्भ में विश्वविद्यालय आम सभा (यूजीबीएम) में चर्चा की गई। जिसके बाद यह निर्णय लिया गया है कि विद्यार्थी हड़ताल जारी रखेंगे। गुरुवार को जेएनयू छात्र संघ की ओर से जारी एक बयान के अनुसार चार दिसंबर को आयोजित हुई यूजीबीएम में सभी विद्यार्थियों ने एक मत से निर्णय किया कि जब तक जेएनयू प्रशासन छात्रावास की नई नियमावली और शुल्क बढ़ोतरी को वापस नहीं लेता है तब तक आंदोलन जारी रहेगा। 

यह भी कहा गया है कि विश्वविद्यालय में अकादमिक गतिविधियों की देरी के लिए जेएनयू प्रशासन पूरी तरह से जिम्मेदार है। छात्रों के हित में उनके लिए राहत भरा फैसला किया जाए। उन्हें छात्र संघ के चुने हुए प्रतिनिधियों से बातचीत करनी चाहिए, हम अपनी-अपनी कक्षाओं में जाने को तैयार हैं।

नौ दिसंबर को पदयात्रा... उधर यूजीबीएम में यह भी निर्णय किया गया कि अगामी 9 दिसंबर को विश्वविद्यालय से राष्ट्रपति भवन तक 'शिक्षा बचाओ' पदयात्रा निकाली जाएगी। बाद में विद्यार्थियों द्वारा राष्ट्रपति को अपनी मांगों का पत्र सौंपेंगे। यूजीबीएम में यह फैसला भी किया गया कि अन्य विश्वविद्यालयों के साथ मिलकर सस्ती और सुलभ शिक्षा का आंदोलन आगे बढ़ाया जाएगा। इसके लिए आईआईटी, आईआईएमसी, आंबेडकर विश्वविद्यालय आदि को आंदोलन से जुड़ने के लिए कहा गया है।


फीस वृद्धिः आईआईएमसी का प्रदर्शन जारी...

उधर भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के विद्यार्थियों का भी फीस वृद्धि के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थियों ने संस्थान के पूर्व विद्यार्थियों से 8 दिसंबर को संस्थान परिसर पहुंचने की अपील की है ताकि संस्थान को बचाया जा सके।