BREAKING NEWS

दिल्ली में कोविड-19 के 1163 नए मामले की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 18 हजार को पार◾देशभर में 30 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, 8 जून से रेस्टोरेंट, मॉल और धार्मिक स्थल खोलने की मिली अनुमति ◾लॉकडाउन, अनुच्छेद 370 खत्म करना, राम मंदिर ट्रस्ट बड़ी उपलब्धियों में शामिल : गृह मंत्रालय ◾हिन्दुस्तान में बहुत सारे लोग कष्ट में हैं और भाजपा सरकार जश्न मना रही है : प्रियंका गांधी वाड्रा ◾लद्दाख सीमा तनाव पर रक्षामंत्री बोले- चीन से डिप्लोमैटिक और मिलिट्री लेवल पर चल रही है बातचीत ◾लॉकडाउन 5.0 लागू करने पर पीएमओ में महामंथन, गृहमंत्री अमित शाह ने की पीएम मोदी से मुलाकात◾कोरोना के बढ़ते केसों से घबराएं नहीं, महामारी से चार कदम आगे है आपकी सरकार : CM केजरीवाल◾मोदी सरकार 2.0 की पहली वर्षगांठ पर कांग्रेस ने कसा तंज, ‘बेबस लोग, बेरहम सरकार’ का दिया नारा ◾मोदी जी की इच्छा शक्ति की वजह से सरकार ने साहसिक लड़ाई लड़ी एवं समय पर निर्णय लिये : नड्डा ◾कोविड-19 पर पीएम मोदी का आह्वान - 'लड़ाई लंबी है लेकिन हम विजय पथ पर चल पड़े हैं'◾दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को लेकर कांग्रेस, भाजपा के निशाने पर केजरीवाल सरकार◾राम मंदिर , सीएए, तीन तलाक, धारा 370 जैसे मुद्दों का हल दूसरे कार्यकाल की प्रमुख उपलब्धियां : PM मोदी ◾बीस लाख करोड़ रूपये का आर्थिक पैकेज ‘आत्मनिर्भर भारत’ की दिशा में बड़ा कदम : PM मोदी◾Coronavirus : दुनियाभर में वैश्विक महामारी का खौफ जारी, संक्रमितों की संख्या 60 लाख के करीब ◾कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए◾कोविड-19 : देश में अब तक 5000 के करीब लोगों की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 73 हजार के पार ◾मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक वर्ष पूरे होने पर अमित शाह, नड्डा सहित कई नेताओं ने दी बधाई◾PM मोदी का देश की जनता के नाम पत्र, कहा- कोई संकट भारत का भविष्य निर्धारित नहीं कर सकता ◾लद्दाख के उपराज्यपाल आर के माथुर ने गृहमंत्री से की मुलाकात, कोरोना के हालात की स्थिति से कराया अवगत◾महाराष्ट्र : 24 घंटे में कोरोना से 116 लोगों की मौत, 2,682 नए मामले ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

हज यात्रियों का गाइड था खाजा मोइदीन, बन गया आतंकी सरगना

नई दिल्ली : गिरफ्तार आईएसआईएस आतंकी खाजा मोइदीन कभी हज यात्रियों के गाइड के तौर पर काम करता था। हज जाने वालों को हज की यात्रा में मदद करता था। इसी बीच कुछ आतंकी संगठन समर्थक लोगों के सम्पर्क में आकर वह आतंकी गतिविधियों में संलिप्त हो गया। 

फिर भटके हुए युवाओं को बरगलाकर और उनका माइंडवॉश कर उन्हें आतंकी संगठन से जोड़ने का काम शुरू कर दिया। हालांकि हिन्दू संगठन के एक नेता की हत्या के मामले में उसकी और साथियों की गिरफ्तारी के बाद उसके नेटवर्क कुछ समय के लिए थम गया।

तमिल पुलिस एसआई की हत्या का कनेक्शन...

मुठभेड़ में आईएसआईएस (तमिलनाडु) के तीनों आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद जहां दिल्ली में सुरक्षा एजेंसियों के कान खड़े हो गए हैं, वहीं गिरफ्तार इन आतंकियों का एक नया तमिलनाडु कनेक्शन सामने आ रहा है। बुधवार की रात तमिलनाडु में केरला बॉर्डर के पास पदनथालुमोडू में एक सब इंस्पेक्टर 56 वर्षीय विंसेट विल्सन की गोली मारकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। 

घटना उस समय घटी जब उक्त पुलिसकर्मी चेकपोस्ट पर चेकिंग अभियान चला रहे थे। तभी कार सवार संदिग्धों ने उन्हें गोली मार दी थी। आशंका है कि हत्या के पीछे अब्दुल शमिम और तौफिक दो संदिग्धों का हाथ है जो कन्याकुमारी में एक बीजेपी नेता की हत्या भी शामिल थे और मोइदीन के आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़े हुए हैं। हालांकि अभी पुलिस इस पूरे मामले की बारीकी से जांच कर रही है।

आतंकियों की टीम होनी थी तैयार...

पूछताछ में पता चला कि केपी सुरेश कुमार की हत्या के मामले में बेल पर छूटने के बाद खाजा ने आईएसआईएस के नेटवर्क को अपने सहयोगियों के साथ मिलकर भारत में फैलाने की जिम्मेदारी ली। इसके लिए उसने भारत के विभिन्न जगहों पर कई लोगों के साथ कई बैठकें भी कीं। वह विदेश में बैठे अपने आका के इशारे पर खाजा अपने सहयोगियों सैयद अली नवाज, अब्दुल समद, अब्दुल शमीम, तौफिक और जफ्फर अली के साथ आतंकी नेटवर्क को आगे बढ़ाने की कोशिश करने लगा।

इंटेलिजेंस की मिली थी रिपोर्ट... 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि उन्हें तीनों संदिग्ध आतंकियों के बारे में इनपुट मिली थी। पता चला था कि हिन्दू मुन्नानी नेता केपी सुरेश कुमार की बेरहमी से हत्या करने वाले और आईएस-मॉड्यूल से संबंध रखने वाले तीन संदिग्ध आतंकी हत्या के मामले में बेल मिलने के बाद फरार हो गए हैं और आईएसआईएस आतंकी संगठन से सम्पर्क में हैं। तीनों के बारे में जानकारी जुटाने के दौरान ही पुलिस को पता चला कि तीनों नेपाल के रास्ते पूर्वी उत्तर प्रदेश में दाखिल हो गए हैं। 

वहां से उनके दिल्ली-एनसीआर पहुंचकर किसी बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देने सूचना मिली। साथ ही वे दिल्ली को आतंकी संगठन के लिए बेस बनाना चाहते थे। इंटेलिजेंस के माध्यम से गुरुवार को पुलिस को यह पता लगा कि फरार आतंकी खाजा मोइदीन, सैयद ​नवास और अब्दुल समद नेपाल से दिल्ली में शिफ्ट हो गए हैं और किराए के कमरे में रहकर किसी बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं।

कई को इस्लाम में बदला

पुलिस सूत्रों के मुताबिक मोइदीन गैर-मुस्लिमों का धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बनाने का अभियान भी चलाता था। जिसके लिए वह ट्रेनिंग कैम्प लगाता था। जहां, हथियार और गोला बारूद चलाने की ट्रेनिंग भी दी जाती थी। इसके एक मामले में वर्ष 2004 में पुलिस ने उसे गिरफ्तार भी किया है। इसका साथी अब्दुल समद शातिर है और तकनीक में माहिर है।