BREAKING NEWS

भारत, फिलीपीन ने आतंकवाद से लड़ाई में सहयोग जारी रखने की प्रतिबद्धता जतायी ◾एनएससीएन (आईएम) ने मोदी पर जताया भरोसा◾पवार का दावा, इंदापुर सीट पर हर्षवर्धन को मनाने की कोशिश की ◾PM मोदी ने बॉलीवुड कलाकारों और फिल्म निर्माताओं से की मुलाकात◾18 राज्यों की 51 विधानसभा सीटों और दो लोकसभा सीटों पर 21 अक्टूबर को होगी वोटिंग◾कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना - UP में 'जगंल राज', तिवारी की हत्या के मामले में हो कार्रवाई◾मोदी लोगों को बताएं, किसने पाकिस्तान को दो भागों में बांटा : कांग्रेस◾हरियाणा चुनाव के मद्देनजर दिल्ली में सुरक्षा चुस्त ◾महाराष्ट्र, हरियाणा में फीका रहा कांग्रेस का चुनाव प्रचार ◾कांग्रेस की गलत नीतियों ने देश को कर दिया बर्बाद : PM मोदी◾हरियाणा ,महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव के लिए थमा चुनाव प्रचार, 21 अक्टूबर को होगा मतदान , मतगणना 24 अक्टूबर को◾हरियाणा चुनाव 2019 : गोपाल कांडा के भाई के समर्थन में उतरीं सपना चौधरी, भाजपा नाराज◾सीतारमण बोली- सुस्ती के प्रभाव को कम करने के लिए सम्मलित प्रयास हो ◾TOP 20 NEWS 19 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रेवाड़ी में बोले मोदी- कांग्रेस 1964 में वादा करने के बावजूद अनुच्छेद 370 समाप्त करने में नाकाम रही◾कमलेश तिवारी हत्याकांड: CM योगी बोले- इस मामले में शामिल आरोपियों को नहीं छोड़ेंगे◾प्रधानमंत्री जनता से बोलें कि कांग्रेस सरकार ने पाकिस्तान के दो टुकड़े किए : कपिल सिब्बल◾अमित शाह की राहुल को चुनौती, बोले- घोषणा करें कि सत्ता में वापसी के बाद अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को करेंगे लागू◾हरियाणा चुनाव: PM मोदी बोले- कांग्रेस ने अपनी गलत नीतियों से देश को किया बर्बाद ◾प्रियंका का तंज- भाजपा के मंत्रियों का काम अर्थव्यवस्था सुधारना है, 'कॉमेडी सर्कस' चलाना नहीं◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

भत्ते छोड़ो सैलरी समय पर मिल जाए तो बड़ी बात होगी....

नई दिल्ली: उत्तरी दिल्ली नगर निगम का शिक्षकों ने पिछले सालों की भांति एक बार फिर तनख्वाह के लिए तरस रहे हैं। अक्टूबर, नवंबर माह की सेलरी उन्हें नहीं मिली है। इसके अतिरिक्त शिक्षक पिछले कई सालों से अटके अपने एरियर और अलाउंस मांग रहे हैं। शिक्षकों का कहना है कि उन्हें हमेशा सिर्फ आश्वासन ही दिए जाते हैं असल काम कभी नहीं होता है। परेशान होकर शिक्षक कह रहे हैं कि हमारे एरियर, अलाउंस तो दूर की बात है यहां हमें सैलरी समय पर मिल जाए तो बहुत बड़ी बात होगी। पिछली ​दिवाली का हाफ बोनस एरियर और इस बार दीवाली का बोनस नहीं मिला, पिछले 3 बार का डीए का एरियर नहीं , 3 साल से चिल्ड्रन अलाउंस नहीं मिला, 7वें पे कमिश्न का एरियर नहीं मिला अब तक।

नगर निगम शिक्षक संघ के महासचिव रामनिवास सोलंकी ने बताया कि दिल्ली सरकार के स्कूलों में शिक्षकों और स्कूलों को जो सुविधाएं दी जा रही हैं वही सुविधाएं निगम शिक्षकों और स्कूलों को भी दी जाएं या फिर निगम स्कूलों को दिल्ली सरकार के अधीन कर दिया जाना चाहिए। निगम अधिकारियों के आये दिन होने वाले तबादलों से काम प्रभावित हो रहा है, बनी बनाई व्यवस्था अपने लालच में निगम नेताओं ने दाव पर लगा दी है। रामनिवास सोलंकी ने बताया कि चुनाव के समय भाजपा ने वादा किया था कि जल्द से जल्द तीनों नगर निगमों को एक कर सैलरी और एरियर संबंधि समस्याओं को जल्द से जल्द सुलझा लिया जाएगा, लेकिन चुनाव खत्म होते ही भाजपा अपने इस वादे को भूल गई है।

उन्होंने बताया कि निगम के स्कूलों में बच्चों के बैठने के लिए अकेले रोहिणी ज़ोन में 12000 से ज्यादा डेस्कों की कमी है। वर्तमान निगम के नेताओं को कई बार बताने के बावजूद नेतागण तबादलों और पसन्दीदा अफसरों को मनचाही सीट देने में मशगूल हैं पर किसी का ध्यान इन आधारभूत समस्याओं पर नहीं जाता। दिल्ली नगर निगम शिक्षक संघ (प्रोग्रेसिव,उदारवादी रिपब्लिकन, डेमोक्रेटिक) तीनो धड़े, अखिल दिल्ली प्राथमिक शिक्षक संघ, पीएसकेबी यूनियन, दिल्ली अध्यापक परिषद, सभी का यही कहना है अगर यही हालत रहे तो शिक्षकों के पास अब हड़ताल करने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा है क्योंकि निगम अधिकारियों ने शिक्षकों की आवाज को दबाने के लिए पिछले 2 साल से सिर्फ शिक्षकों की ही यूनियनों की मान्यता खत्म कर रखी है जिससे हमें कोई भी अधिकारी वैधानिक नहीं मानता यह सरासर हमारी आवाज को दबा कर अपना उल्लू सीधा कर रहे हैं। विक्रम यादव प्रोग्रेसिव पार्टी नगर निगम शिक्षक संघ से, कुलदीप खत्री उदारवादी रिपब्लिकन पार्टी पैनल नगर निगम शिक्षक संघ के साथ-साथ सभी यूनीयन के अधिकारियों ने समय पर सैलरी ने मिलने पर आंदोलन करने की बात कही है। शिक्षकों का कहना है कि हमें हमारा घर चलाना मुश्किल हो रहा है।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।