BREAKING NEWS

करनाल से बीजेपी के पूर्व सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा के निधन पर राजनाथ सिंह समेत इन नेताओं ने जताया शोक ◾अश्विनी कुमार की लेगब्रेक गेंदबाजी के दीवाने थे टॉप क्रिकेटर◾खामोश हो गई वरिष्ठ पत्रकार अश्वनी कुमार चोपड़ा जी की आवाज, कल होगा अंतिम संस्कार◾PM मोदी ने वरिष्ठ पत्रकार और पूर्व सांसद अश्विनी चोपड़ा के निधन पर शोक प्रकट किया ◾पंजाब केसरी दिल्ली के मुख्य संपादक और पूर्व भाजपा सांसद श्री अश्विनी कुमार जी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि ◾निर्भया गैंगरेप: अपराध के समय दोषी पवन नाबलिग था या नहीं? 20 जनवरी को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾सीएए पर प्रदर्शनों के बीच CJI बोबड़े ने कहा- यूनिवर्सिटी सिर्फ ईंट और गारे की इमारतें नहीं◾कमलनाथ सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे MLA मुन्नालाल गोयल, घोषणा पत्र में किए गए वादों को पूरा नहीं करने का लगाया आरोप ◾नवाब मलिक बोले- अगर भागवत जबरदस्ती पुरुष की नसबंदी कराना चाहते हैं तो मोदी जी ऐसा कानून बनाए◾संजय राउत ने सावरकर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना, बोले- विरोध करने वालों को भेजो जेल, तब सावरकर को समझेंगे'◾दोषियों को माफ करने की इंदिरा जयसिंह की अपील पर भड़कीं निर्भया की मां, बोलीं- ऐसे ही लोगों की वजह से बच जाते हैं बलात्कारी◾पाकिस्‍तान: सुप्रीम कोर्ट ने देशद्रोह मामले में फैसले के खिलाफ मुशर्रफ की याचिका पर सुनवाई से किया इनकार ◾सीएए और एनआरसी के खिलाफ लखनऊ में महिलाओं का प्रदर्शन जारी◾NIA ने संभाली आतंकियों के साथ पकड़े गए DSP दविंदर सिंह मामले की जांच की जिम्मेदारी◾वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां से अपील, बोलीं- सोनिया गांधी की तरह दोषियों को माफ कर दें◾ट्रंप ने ईरान के 'सुप्रीम लीडर' को दी संभल कर बात करने की नसीहत◾ राजधानी में छाया कोहरा, दिल्ली आने वाली 20 ट्रेनें 2 से 5 घंटे तक लेट◾निर्भया : घटना के दिन नाबालिग होने का दावा करते हुए पवन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट◾PM मोदी ने मंत्रियों से कहा, कश्मीर में विकास का संदेश फैलाएं और गांवों का दौरा करें ◾भाजपा ने अब तक 8 पूर्वांचलियों पर लगाया दांव◾

हे गंगा मईया तोहे पियरी चढ़ईबो भोजपुरी के मान्यता दिलाइ द

नई दिल्ली : हे गंगा मईया तोहे पियरी चढ़ईबो, भोजपुरी के मान्यता दिलाइ द। गोरखपुर से भाजपा सांसद एवं फिल्म स्टार रवि किशन ने जब जोशीले अंदाज में यह गीता गाया तो पूरा सभागार तालियों की गडग़ड़हट से गूंज उठा। उन्होंने कहा कि इस गाने के बोल के जरिए जब संसद में भोजपुरी को आठवीं अनुसूची में शामिल करने का बिल रखा तो कुछ लोगों को ठीक नहीं लगा, अगर भोजपुरी को मान्यता मिले तो वह नाचने को भी तैयार है। उन्होंने कहा कि भोजपुरी हमरे माई की भाषा बा, आजतक मेरी जो भी पहचान है वह केवल भोजपुरी की वजह से है। इसके सम्मान के लिए मैं हरसंभव प्रयास करूंगा। दरअसल ये मौका था भोजपुरी भाषी क्षेत्रों के सांसदों के अभिनंदन का। 

दिल्ली फ्लाइंग क्लब के सम्मेलन कक्ष में बुधवार की रात विश्व भोजपुरी सम्मेलन की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम भोजपुरी भाषी क्षेत्रों के दो दर्जन से अधिक नवनिर्वाचित सांसदों ने एकजुटता दिखाई। इस मौके पर केन्द्रीय मन्त्री अश्विनी कुमार चौबे, अर्जुनराम मेघवाल, सांसद आर के सिन्हा, मनोज तिवारी, वीरेन्द्र सिंह मस्त, जगदम्बिका पाल, रवि किशन, हरीश द्विवेदी, संगम लाल गुप्ता, पकौड़ी लाल,  छेदी पासवान, प्रवीण निषाद, सुब्रत पाठक, कृपा लाल मल्लाह, कमलेश पासवान, जनार्दन सिंह सिग्रिवाल, अर्जुन सिंह, पंकज चौधरी आदि सांसदों ने एक स्वर में कहा कि भोजपुरी को सम्मान दिलाने के लिए सब मिलकर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करेंगे। 

इस अवसर विश्व भोजपुरी सम्मेलन संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजीत दुबे ने अपनी पीड़ा बयां करते हुए कहा कि नेपाल और मॉरीशस जैसे देशों मे भोजपुरी भाषा को मान्यता मिली हुई है वहीं अपने ही देश भारत में भोजपुरी वर्षों से अपने वाजिब हक के इंतजार में है। इस अवसर पर सम्मेलन के राष्ट्रीय महामंत्री डॉ. अशोक सिंह, दिल्ली अध्यक्ष विनयमणि त्रिपाठी सहित तमाम अधिकारी और नेता मौजूद रहे।

भोजपुरी भाषियों का सपना होगा पूरा

राजस्थानी भाषा आन्दोलन के केन्द्र बिन्दु माने जाने वाले केन्द्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि मान्यता संबंधित लगभग सारी बाधाएं दूर कर ली गई है। एक बार सामूहिक तौर पर और प्रयास करना है फिर हमारा काम हो जाएगा। उन्होंने कहा कि मातृभाषाओं का संरक्षण करना बहुत जरूरी है। मेघवाल ने कहा कि उम्मीद है इस बार की लोकसभा में भोजपुरी भाषियों का सपना पूरा होगा। इसके साथ ही राजस्थानी भाषा को भी मान्यता मिलेगी।

तिवारी ने की पंजाब केसरी की सराहना

दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष व सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि भोजपुरी की देश के बाहर भी अमिट छाप है एवं हम सबको अपने समृद्ध साहित्य को और समृद्ध बनाने की दिशा में लगातार काम करने की जरूरत है। यूपी, बिहार, दिल्ली से लेकर आसाम के साथ भोजपुरी विदेशों में भी छाई हुई है। उन्होंने आगे कहा कि भोजपुरी की लड़ाई को और आगे बढ़ाने में पंजाब केसरी अखबार का भी बड़ा योगदान है, इसकी जितनी सराहना की जाए वो कम है।