BREAKING NEWS

केजरीवाल ने दी निजी अस्पतालों को चेतावनी, कहा- राजनितिक पार्टियों के दम पर मरीजों के इलाज से न करें आनाकानी◾ED ऑफिस तक पहुंचा कोरोना, 5 अधिकारी कोविड-19 से संक्रमित पाए जाने के बाद 48 घंटो के लिए मुख्यालय सील ◾लद्दाख LAC विवाद : भारत-चीन सैन्य अधिकारियों के बीच बैठक जारी◾राहुल गांधी का केंद्र पर वार- लोगों को नकद सहयोग नहीं देकर अर्थव्यवस्था बर्बाद कर रही है सरकार◾वंदे भारत मिशन -3 के तहत अब तक 22000 टिकटें की हो चुकी है बुकिंग◾अमरनाथ यात्रा 21 जुलाई से होगी शुरू,15 दिनों तक जारी रहेगी यात्रा, भक्तों के लिए होगा आरती का लाइव टेलिकास्ट◾World Corona : वैश्विक महामारी से दुनियाभर में हाहाकार, संक्रमितों की संख्या 67 लाख के पार◾CM अमरिंदर सिंह ने केंद्र पर साधा निशाना,कहा- कोरोना संकट के बीच राज्यों को मदद देने में विफल रही है सरकार◾UP में कोरोना संक्रमितों की संख्या में सबसे बड़ा उछाल, पॉजिटिव मामलों का आंकड़ा दस हजार के करीब ◾कोरोना वायरस : देश में महामारी से संक्रमितों का आंकड़ा 2 लाख 36 हजार के पार, अब तक 6642 लोगों की मौत ◾प्रियंका गांधी ने लॉकडाउन के दौरान यूपी में 44,000 से अधिक प्रवासियों को घर पहुंचने में मदद की ◾वैश्विक महामारी से निपटने में महत्त्वपूर्ण हो सकती है ‘आयुष्मान भारत’ योजना: डब्ल्यूएचओ ◾लद्दाख LAC विवाद : भारत और चीन वार्ता के जरिये मतभेदों को दूर करने पर हुए सहमत◾बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 1330 नए मामले आए सामने , मौत का आंकड़ा 708 पहुंचा ◾हथिनी की मौत पर विवादित बयान देने पर केरल पुलिस ने मेनका गांधी के खिलाफ दर्ज की FIR◾दिल्ली हिंसा: पिंजरा तोड़ ग्रुप की सदस्य और JNU स्टूडेंट के खिलाफ यूएपीए के तहत मामला दर्ज◾राहुल गांधी ने लॉकडाउन को फिर बताया फेल, ट्विटर पर शेयर किया ग्राफ ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, आज सामने आए 2,436 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 80 हजार के पार◾लद्दाख तनाव : कल सुबह 9 बजे मालदो में होगी भारत और चीन के बीच ले. जनरल स्तरीय बातचीत ◾पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा : मुंह में गहरे घावों के कारण दो हफ्ते भूखी थी गर्भवती हथिनी, हुई दर्दनाक मौत◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

निर्भया कांड : कोर्ट के फैसले के बाद केजरीवाल सहित इन नेताओ ने दी अपनी प्रतिक्रिया

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया मामले के चारों दोषियों को डेथ वारंट जारी करते हुए 22 जनवरी बुधवार को सुबह 7:00 फांसी तय की है। तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक, चारों को तिहाड़ के जेल नंबर-3 में एक साथ फांसी पर लटकाया जाएगा। पटियाला हाउस कोर्ट का फैसला आने के बाद सभी मंत्रियो ने अपनी प्रतिक्रिया दी।

सीएम ने किया कोर्ट के निर्णय का स्वागत

निर्भया मामले के दोषियों के खिलाफ अदालत द्वारा मौत का फरमान जारी किए जाने का दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वागत किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि निर्भया रेप के दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी होने पर लोगों को कुछ संतोष हुआ है। लेकिन इसमें सात साल लग गए इसीलिए इस व्यवस्था को बदलना होगा। 

ऐसी व्यवस्था लागू करनी होगी कि बलात्कारियों को 6 महीनों में फांसी हो जाये। उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोगों की वर्षों पुरानी मंशा पूरी हुई है। यह उन लोगों के लिए एक सबक होगा जो महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार करते हैं। 

यह कानून की जीत है

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि देश भर के लोग इसका इंतजार कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पूरे देश के लोग इसका इंतजार कर रहे थे। यह कानून की जीत है। मुझे खुशी है कि निर्भया के परिवार, वकीलों की मेहनत रंग लाई। गौरतलब है कि मंगलवार को अदालत ने ​​निर्भया के दोषियों को फांसी की तारीख मुकर्रर कर दी है। इससे माना जा रहा है कि लोगों में कानून के ​प्रति विश्वास बढ़ेगा और ऐसे अपराधों पर लगाम लगेगी। 

Nirbhaya Case : क्या होता है डेथ वारंट

ये कार्ट व समाज की जीत है : मीनाक्षी लेखी

न्यायालय ने निर्भया मामले में डेथ वारंट जारी कर दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी सरकार ने इस मामले में भी देरी करने की कोशिश की और हैदराबाद में हुई घटना के बाद ही उन्हें यह अहसास हुआ कि इसमें विलंब होने से दिल्ली सरकार पर सवाल उठेंगे। यह भारत की न्यायालय और समाज की सामूहिक जीत है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि 'यतो धर्मः ततो जयः', जहां धर्म है वहां जय (जीत) है।

निर्भया के दोषियों को मिली सजा : मनोज तिवारी

निर्भया के दोषियों को सजा मिल गई है। कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं। निर्भया के भाई के रूप में मुझे बहुत मन की शांति मिल रही है। निर्भया के माता-पिता और उसके परिवार के लोग सबके साथ खड़ा हूं। ऐसे दरिंदों को फांसी पर लटकाना ही जरूरी था। 

कोर्ट के फैसले का स्वागत : गौतम गंभीर

आखिरकार देश की बेटी निर्भया को इंसाफ मिल गया है। मैं कोर्ट के इस फैसले का काफी जोरदार तरीके से स्वागत करता हूं। सभी को फांसी देना ही एक मात्र विकल्प था। 

कोर्ट के फैसले का करती हूं स्वागत : स्वाती मालीवाल

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने निर्भया केस मामले में आए कोर्ट के फैसले का जोरदार स्वागत किया है। उन्होंने कहा यह इस देश में रहने वाले सभी 'निर्भया' की जीत है। मैं निर्भया के माता-पिता को सलाम करती हूं, जिन्होंने 7 साल तक लड़ाई लड़ी। 

हालांकि वहीं उन्होंने कहा कि इन लोगों को सजा देने में 7 साल क्यों लगे? इस समय अवधि को कम क्यों नहीं किया जा सकता है? सरकार अगर जल्द से जल्द दुष्कर्मियों को सजा देने प्रावधान लेकर आती है तो महिलाओं के साथ ऐसी घटनाएं कम होगी। क्योंकि सजा मिलने के बाद लोगों में खौफ का माहौल उत्पन्न होगा।