BREAKING NEWS

बिहार में 107 बच्चों की मौत, मुजफ्फरपुर में लोगों ने CM नीतीश के विरोध में लगाए नारे ◾उम्मीद है कि कश्मीर में आतंकी हमले रोकने के लिए उचित कार्रवाई होगी : कांग्रेस ◾संसद की रणनीति बनाने सोनिया के आवास पर कांग्रेसी नेताओं की बैठक ◾कोटा के बीजेपी सांसद ओम बिड़ला होंगे लोकसभा के नए स्पीकर◾J&K : अनंतनाग मुठभेड़ में एक जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर ◾अगर तीन दिन से ज्यादा किसी अधिकारी ने रोकी फाइल, तो होगी सख्त कार्रवाई : योगी◾कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त होने के बाद बोले नड्डा- कार्यकर्ता के तौर पर BJP को करुंगा मजबूत◾जम्मू-कश्मीर : अनंतनाग में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुरू◾WORLD CUP 2019, WI VS BAN : साकिब के शतक से बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज को सात विकेट से हराया ◾दिल्ली में बढ़ा हुआ ऑटो किराया मंगलवार से लागू होगा, अधिसूचना जारी ◾मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मुर्सी का अदालत में सुनवाई के दौरान निधन ◾ममता बनर्जी से मिलने के बाद बंगाल के चिकित्सकों ने हड़ताल खत्म की ◾जे पी नड्डा भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किये गये ◾पुलवामा में आतंकवादियों ने किया IED विस्फोट, 5 जवान घायल ◾कांग्रेस ने बिहार में दिमागी बुखार से बच्चों की मौत को लेकर सरकार पर निशाना साधा ◾Top 20 News - 17 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾बैंकों ने जेट एयरवेज को फिर खड़ा करने की कोशिश छोड़ी, मामला दिवाला कार्रवाई के लिए भेजने का फैसला ◾लोकसभा में साध्वी प्रज्ञा के शपथ लेने के दौरान विपक्ष ने किया हंगामा ◾ममता बनर्जी और डॉक्टरों की बैठक को कवर करने के लिए 2 क्षेत्रीय न्यूज चैनलों को मिली अनुमति◾बिहार : बच्चों की मौत मामले में हर्षवर्धन और मंगल पांडेय के खिलाफ मामला दर्ज◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

स्कूल में हिंदू-मुस्लिम छात्रों को अलग बैठाने का आरोप, NMCD ने अधिकारी को जांच के लिए भेजा 

नई दिल्ली : भाजपा के नेतृत्व वाले उत्तर दिल्ली नगर निगम (एनएमसीडी) के शिक्षा विभाग ने बुधवार को एक वरिष्ठ अधिकारी को उन खबरों के बाद वजीराबाद में एक स्कूल का निरीक्षण करने के लिए कहा है जिसमें कहा गया था कि वहां के छात्रों को कथित तौर पर हिंदू और मुसलमान सेक्शनों में बांट दिया गया है। एनएमसीडी के सूत्रों ने बताया कि शीर्ष अधिकारियों ने इस पर संज्ञान लिया और अगर आरोप सही पाए गए तो इसमें शामिल लोगों के खिलाफ शीघ्र कार्रवाई की जाएगी। एक सूत्र ने कहा, ‘‘शिक्षा विभाग के निदेशक ने जोनल कार्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी को स्कूल जाने तथा आरोपों की जांच करने के निर्देश दे दिए हैं।

यह प्राथमिक विद्यालय उत्तरी दिल्ली के वजीराबाद इलाके के तहत आता है और इसका प्रशासन एनएमसीडी के हाथों में है। यह इलाका सिविल लाइंस जोन के तहत आता है।उन्होंने कहा, ‘‘अगर आरोप सही पाए गए तो आज भी कार्रवाई की जा सकती है।’’ दिल्ली में नगर निगम द्वारा चलाए जा रहे सभी स्कूल प्राथमिक विद्यालय हैं और अन्य नगर निगम स्कूलों के शिक्षकों ने इन खबरों पर हैरानी जताई है।

करोल बाग के एक नगर निगम स्कूल में शिक्षक ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘‘एक बच्चे की संतुलित वृद्धि के लिए स्कूलों को राजनीति से दूर रखना चाहिए तथा धर्म और जाति का जिक्र नहीं करना चाहिए। जब एक छात्र स्कूल में प्रवेश करता है तो वह न तो हिंदू होता है, ना मुसलमान, ना सिख और ना ही ईसाई बल्कि वह एक भारतीय होता है और इसी तरह हमें उन्हें पढ़ाना चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर वहां छात्रों को अलग किया गया है तो यह निंदनीय है और हम इसपर कड़ा असंतोष जताते हैं। स्कूलों को एकजुट करना चाहिए और लोगों को बांटना नहीं चाहिए तथा इन बच्चों का दिमाग अभी जल्दी से प्रभावित होने वाला है और यह उनकी वृद्धि के लिए शुभ संकेत नहीं है।’’ मीडिया में बुधवार को प्रकाशित खबरों के अनुसार, स्कूल के छात्रों के अभिभावकों तक को इस बारे में जानकारी नहीं है।