दिल्ली दिवाली के दो दिन बाद भी स्मॉग की चादर में लिपटी रही। शुक्रवार को दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स खतरनाक श्रेणी को पार करते हुए 453 के स्तर तक पहुंच गया। मिनिस्ट्री ऑफ अर्थ एंड साइंस के सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ल में एयरपोर्ट, मथुरा रोड, पूसा, पीतमपुरा, दिल्ली यूनिवर्सिटी, आयानगर, चांदनी चौक में पीएम 2.5 का स्तर 450 से ऊपर रहा।

वहीं पीएम 10 का स्तर भी 299 से लेकर 460 पर बना रहा। इंवायरमेंट एक्सपर्टस का कहना है कि स्थिति में धीरे-धीरे सुधार होगा। लेकिन अभी एक सप्ताह तक हालात ऐसे ही बने रहने के आसार हैं। इसका असर दिल्ली में विजिबिलिटी पर भी पड़ रहा है। एक्सपर्टस का यह भी कहना है कि ऐसे हालात से तुरंत निजात पाने के लिए बारिश की जरूरत है। लेकिन फिलहाल दिल्ली में बारिश होने की भी कोई संभावना नहीं है। लिहाजा तेज हवाओं के चलने के बाद ही इससे छुटकारा संभव है।

केजरीवाल सरकार वायु प्रदूषण पर ‘श्वेतपत्र’ लाये – BJP