BREAKING NEWS

CM गहलोत का दावा- सरकार गिराने के लिए हुई खरीद-फरोख्त, हमारे पास है प्रूफ◾रक्षा मंत्री दो दिन के दौरे पर जाएंगे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख, सेना प्रमुख भी होंगे साथ ◾CBSE Results 2020 : लाखों स्टूडेंट का इंतजार हुआ खत्म, 10वीं क्लास के एग्जाम का रिजल्ट जारी ◾World Youth Skills Day : PM मोदी बोले-कौशल के प्रति आकर्षण देता है जीने की ताकत◾भारत की वैश्विक रणनीति हो रही फेल, केंद्र सरकार की नीतियों के कारण घट रहा देश का सम्मान : राहुल◾देहरादून के चुक्खूवाला क्षेत्र में तेज बारिश से ढहा मकान, 3 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या 9 लाख 36 हजार के पार, 3 लाख 20 हजार एक्टिव केस◾भाजपा में नहीं जाऊंगा, उनके खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी है : सचिन पायलट ◾भारत-EU शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे PM मोदी, कोरोना संकट पर रहेगा फोकस◾World Corona : दुनियाभर में पॉजिटिव मामलों की संख्या 1 करोड़ 33 लाख के करीब, अब तक 577843 लोगों की मौत ◾LAC विवाद : भारत-चीन के बीच करीब 14 घंटे तक चली कमांडर लेवल बैठक, तनाव कम करने पर हुई बात◾US ने चीन को दिया झटका, हांगकांग को तरजीह देने वाले आदेश पर डोनाल्ड ट्रंप ने किये हस्ताक्षर◾असम में बाढ़ की स्थिति गंभीर, अबतक 85 मौतें, 33 लाख लोग हुए प्रभावित ◾दिल्ली : 24 घंटे में कोरोना से 35 लोगों की मौत, 1606 नए मामले◾राजस्थान में सियासी घमासान के बीच पायलट ने कहा-राम राम सा! तो विश्वेंद्र व मीणा ने पूछा क्या गलती की?◾राजस्थान: सियासी उठापटक के बीच कल सुबह दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे सचिन पायलट ◾महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 2.67 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 6,741 नए केस◾कानपुर शूटआउट : गिरफ्तार शशिकांत पांडेय का खुलासा, विकास के कहने पर ही हुई 8 पुलिसकर्मियों की हत्या◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में कोरोना के 50 फीसदी मामले महाराष्ट्र और तमिलनाडु से◾बिहार में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए 16 से 31 जुलाई तक लगाया गया लॉकडाउन ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

नॉर्थ एमसीडी को याद आई बच्चों की सुरक्षा

नई दिल्ली : बच्चों की सुरक्षा को लेकर नॉर्थ एमसीडी का एजुकेशन डिपार्टमेंट बेहद चिंतित नजर आ रहा है। इसी के मद्देनजर सुरक्षा संबंधी एडवाइजरी जारी की गई है। इस एडवाइजरी में कुल 116 प्वाइंट दिए गए हैं जिसमें स्कूलों के लिए सुरक्षा संबंधी मानकों की चेक लिस्ट दी गई है। 

यह आदेश एजुकेशन डायरेक्टर मिलिंद महादेव डुम्ब्रे द्वारा जारी किए गए हैं। इसमें कहा गया है कि इन सुरक्षा संबंधी मानकों का पालन न करने पर जीरो टॉलरेंस नीति अपनाई जाएगी। यह आदेश सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूलों पर लागू होंगे। हर स्कूल को स्कूल सेफ्टी कमेटी का गठन करना होगा। 

6 सदस्यों वाली इस कमेटी में स्कूल प्रिंसिपल, एक टीचर और चार अभिभावक कमेटी के सदस्य होंगे। इस कमेटी की अध्यक्षता स्कूल प्रिंसिपल को करनी होगी। सेफ्टी कमेटी में महिला मेंबरों को प्रतिनिधित्व दिया जाएगा व इसकी प्रतिमाह मीटिंग होगी।

15 दिन में कमेटी का गठन अनिवार्य

सर्कुलर के अनुसार इस आदेश के जारी होने के 15 दिनों के भीतर स्कूल सेफ्टी कमिटी का गठन किया जाना अनिवार्य होगा। ये स्कूल सेफ्टी कमिटी प्रतिमाह मंथली सेफ्टी वॉक के तहत स्कूलों का निरीक्षण करेगी तथा बताए गए 116 प्वाइंट को चेक करेगी। इस चेकिंग के दौरान दो अभिभावक सदस्यों का होना अनिवार्य होगा। 

स्पेशल टास्क फोर्स का होगा गठन

बच्चों की सुरक्षा को और सुदृढ़ करने के लिए हर स्कूल में सुरक्षा सुझाव शिकायत पेटियां लगाई जाएंगी और प्रत्येक 15 दिन के बाद उनकी पेटियों को खोलकर उनका निरीक्षण किया जाएगा। डिपार्टमेंट द्वारा जारी की गई एडवाइजरी के पालन की सुरक्षा करने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स बनाई जाएगी। इसके चेयरपर्सन डीडीई/एडीई होंगे। कमेटी में स्कूल  इंस्पेक्टर, एग्जीक्यूटिव इंजीनियर(सिविल) और एग्जीक्यूटिव इंजीनियर (इलेक्ट्रिकल) सदस्य होंगे। 

सीसीटीवी से निगरानी पर जोर

दिल्ली सरकार की सीसीटीवी योजना से सबक लेते हुए निगम प्रशासन भी सीसीटीवी सर्विलांस पर विशेष ध्यान दे रहा है। इसी के चलते स्कूल की बाहरी चारदिवारी, ग्रिल को सीसीटीवी सर्विलांस के अंतर्गत निगरानी में रखे जाने की बात इन चेक प्वाइंट्स में की गई है। चेक लिस्ट में स्कूल के मेन गेट पार्किंग एरिया को भी सीसीटीवी सर्विलांस में रखने की बात की गई है। बता दें कि स्कूलों को साउथ एमसीडी 417 स्कूलों को सीसीटीवी से लैस कर चुकी है। 

साउथ एमसीडी एजुकेशन डिपार्टमेंट के अनुसार 17 और स्कूलों में सीसीटीवी लगाया जाना बाकी है। इसे 30 जून तक पूरा किया जाना है। जबकि जर्जर बिल्डिंग और बच्चों की कम संख्या का हवाला देकर 12 स्कूलों को सीसीटीवी प्लान से बाहर रखा गया है। साउथ एमसीडी ने इस प्लान पर 4 करोड़ 65 लाख खर्च किया है। 


- राजेश रंजन सिंह