BREAKING NEWS

दिल्ली हिंसा : AAP पार्षद ताहिर हुसैन के घर को किया गया सील, SIT करेगी हिंसा की जांच◾दिल्ली HC में अरविंद केजरीवाल, सिसोदिया के निर्वाचन को दी गई चुनौती◾दिल्ली हिंसा की निष्पक्ष जांच हो, दोषियों को मिले कड़ी से कड़ी सजा -पासवान◾CAA पर पीछे हटने का सवाल नहीं : रविशंकर प्रसाद◾बंगाल नगर निकाय चुनाव 2020 : राज्य निर्वाचन आयुक्त मिले पश्चिम बंगाल के गवर्नर से◾दिल्ली हिंसा : आप पार्षद ताहिर हुसैन के घर से मिले पेट्रोल बम और एसिड, हिंसा भड़काने की थी पूरी तैयारी ◾TOP 20 NEWS 27 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾T20 महिला विश्व कप : भारत ने लगाई जीत की हैट्रिक, शान से पहुंची सेमीफाइनल में ◾पार्षद ताहिर हुसैन पर लगे आरोपों पर बोले केजरीवाल : आप का कोई कार्यकर्ता दोषी है तो दुगनी सजा दो ◾दिल्ली हिंसा में मारे गए लोगों के परिवार को 10-10 लाख का मुआवजा देगी केजरीवाल सरकार◾दिल्ली में हुई हिंसा का राजनीतिकरण कर रही है कांग्रेस और आम आदमी पार्टी : प्रकाश जावड़ेकर ◾दिल्ली हिंसा : केंद्र ने कोर्ट से कहा-सामान्य स्थिति होने तक न्यायिक हस्तक्षेप की जरूरत नहीं ◾ताहिर हुसैन को ना जनता माफ करेगी, ना कानून और ना भगवान : गौतम गंभीर ◾सीएए हिंसा : चांदबाग इलाके में नाले से मिले दो और शव, मरने वालो की संख्या बढ़कर 34 हुई◾दिल्ली हिंसा को लेकर कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन, गृह मंत्री को हटाने की हुई मांग◾न्यायधीश के तबादले पर बोले रणदीप सुरजेवाला : भाजपा की दबाव और बदले की राजनीति का हुआ पर्दाफाश ◾दिल्ली हिंसा : दंगाग्रस्त इलाकों में दुकानें बंद, शांति लेकिन दहशत का माहौल ◾जज मुरलीधर के ट्रांसफर पर बोले रविशंकर- कोलेजियम की सिफारिश पर हुआ तबादला ◾उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सीएए को लेकर हुई हिंसा में मरने वालों का आकंड़ा 32 पहुंचा◾दिल्ली हिंसा : जज मुरलीधर के ट्रांसफर को कांग्रेस ने बताया दुखद और शर्मनाक◾

दिव्यांगों को मिली सुविधा पर कुछ हुए नाराज

नई दिल्ली : दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों के लिए रविवार को हुए मतदान के दौरान दिव्यांगों में खासा जोश देखने को मिला। इस बार चुनाव आयोग के तरफ से दिव्यांगों के लिए विशेष सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई थी। हर स्टेशन पर व्हील चेयर के अलावा उनकी मदद के लिए कर्मचारियों को नियुक्त किया गया था। इसके अलावा उन्हें वोट डालने के दौरान प्राथमिकताएं भी दी गई। हालांकि कुछ जगहों पर दिव्यांगों ने सुविधा न मिलने की शिकायत भी की।

गोल मार्केट में वोट देने आए अजय सिंह ने कहा कि ने कहा कि चुनाव आयोग के तरफ से बेहतर सुविधाएं दी गई थी। वहीं उत्तम नगर के नन्हें पार्क से वोट देने आए एस एस विश्वकर्मा ने कहा कि उन्हें दिखाई नहीं देता। दोनों आंखे खराब हैं लेकिन आयोग के तरफ से सुविधा नहीं मिली। जबकि सूचना दी गई थी कि आयोग की गाड़ी घर से उन्हें वोट करवाने ले जाएगी। जबकि उन्हें खुद ही वोट डालने जाना पड़ा।

लोकसभा चुनाव के दौरान मतदान केन्द्रों पर पहुंचे बुजुर्गों को वोट डलवाने में सरकारी स्कूल के छात्र-छात्राओं और पुलिसकर्मियों ने खूब सहयोग किया। मतदान केन्द्र के गेट से लेकर अंदर तक पुलिसकर्मी और स्कूली बच्चे बुजुर्गों को आगे बढ़कर अपने साथ ले गए। तुगलकाबाद गांव स्थित प्राइमरी स्कूल में भी यही नजारा था, जहां पुलिसकर्मी खुद व्हील चेयर लेकर बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं की मदद को खुद व खुद आगे हो लिए। इसी तरह मीठापुर प्राइमरी स्कूल के बूथ पर व्हील चेयर का प्रबंध किया था।

वोट करेंगे तो सरकार करेगी अच्छे काम नंदनगरी में रहने वाली दिव्यांग संगीता ने काफी उत्साहित होकर वोट किया। उसकी बहन चन्द्रप्रभा उसे मतदान केन्द्र तक व्हीलचेयर पर लेकर पहुंची। संगीता पैरों से चलन में अक्षम है लेकिन वह देखने, सुनने बोलने में अक्षम है। संगीता का कहा कहना है कि यदि हम वोट करते हैं तो सरकार हमारे लिए अच्छे-अच्छे काम करती है।

इन कामों का लाभ समाज के सभी वर्गों को मिलता है। इसीलिए न केवल दिव्यांग बल्कि सामान्य लोगों को भी बढ़चढ़कर वोट करना चाहिए। पोलिंग बूथ पर बुर्जुगों ने भी बढ़ चढ़ कर मतदान किया। इस दौरान दिल्ली चुनाव आयोग की तरफ से पुख्ता इंतजाम किए गए।