BREAKING NEWS

दिल्ली में महामारी का कहर : अरविंद केजरीवाल की पत्नी कोरोना पॉजिटिव, होम क्वारंटाइन में गए CM◾UP में वीकेंड लॉकडाउन का ऐलान, शुक्रवार रात से लगातार 35 घंटे तक जारी रहेगा कोरोना कर्फ्यू◾राहुल समेत दिग्गज कांग्रेस नेताओं का आरोप - टीकाकरण को लेकर सरकार की रणनीति भेदभाव वाली◾केजरीवाल ने लोगों से की अपील, कहा- लॉकडाउन आपकी सुरक्षा के लिए लगाया गया, संक्रमण से बचकर रहें◾UP के पांच शहरों में लॉकडाउन लगाने के इलाहबाद HC के फैसले पर SC ने लगाई रोक◾सिब्बल का वार-चुनाव जीतने के लिए PM अपनी सभी शक्तियों का कर रहे हैं प्रयोग लेकिन कोविड के लिए नहीं◾5 शहरों में लॉकडाउन लगाने के इलाहाबाद HC के आदेश के खिलाफ SC पहुंची योगी सरकार◾राहुल ने केंद्र को याद दिलाई जिम्मेदारी, कहा- प्रवासी मजदूरों के खातों में रुपये जमा करे सरकार◾देशभर में बेकाबू हुआ कोरोना, मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा कोरोना से संक्रमित ◾कोरोना : ICSE ने कैंसिल की 10वीं बोर्ड की परीक्षा, बाद में एग्जाम का विकल्प भी लिया वापस ◾देश में कोरोना संक्रमण के 2 लाख 59 हजार नए मामलों की पुष्टि, पिछले 24 घंटे में 1761 लोगों की मौत ◾दिल्ली में लॉकडाउन के बीच पलायन करने के लिए मजबूर हुए प्रवासी मजदूर, आनंद विहार बस स्टैंड पर लगी भीड़ ◾विश्व में कोरोना महामारी का प्रकोप जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 14.18 करोड़ के पार◾विदेश मंत्री जयशंकर और टोनी ब्लिंकन ने अफगानिस्तान, म्यांमा में सुरक्षा संबंधी मामलों पर चर्चा की◾कोरोना वैक्सीन की कमी के बीच पंजाब सरकार ने केंद्र से तत्काल आपूर्ति करने का किया अनुरोध ◾गुजरात में सामने आये कोविड-19 के सर्वाधिक 11,403 मामले आए◾उत्तर प्रदेश : पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 167 मरीजों की मौत, 28287 नए केस ◾1 मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोग लगवा सकते हैं कोरोना वैक्सीन, खुले बाजार में भी बिकेगी वैक्सीन◾विदेश मंत्री जयशंकर ने कोविड-19 रोधी टीके के निर्यात पर आलोचनाओं को किया खारिज◾पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कोविड से हुए संक्रमित, एम्स में भर्ती ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दिल्ली HC में दायर हुई याचिका, कोविड-19 जागरुकता वाली अमिताभ की कॉलर ट्यून हटाने की मांग

दिल्ली हाई कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है जिसमें कोरोना वायरस के खिलाफ सावधानियों को लेकर मेगास्टार अमिताभ बच्चन की आवाज वाली कॉलर ट्यून हटाने का अनुरोध किया गया है। याचिका में कहा गया है कि वह खुद और उनके परिवार के कुछ सदस्य इस वायरस से संक्रमित हुए थे। यह याचिका मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ के समक्ष गुरुवार को सुनवाई के लिए लायी गयी। याचिका में कहा गया है कि कुछ प्रसिद्ध कोरोना योद्धा मुफ्त में अपनी सेवाएं देने को इच्छुक थे।

पीठ ने इसे 18 जनवरी के लिए सूचीबद्ध किया क्योंकि याचिकाकर्ता के वकील ने भौतिक सुनवाई के लिए पेश होने में असमर्थता जताई। दिल्ली निवासी और सामाजिक कार्यकर्ता राकेश की ओर से दायर याचिका में कहा गया है कि सरकार ने कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए निवारक उपायों के बारे में लोगों को जागरूक करने की खातिर अमिताभ बच्चन की आवाज का इस्तेमाल किया जबकि सुपरस्टार के साथ-साथ उनके परिवार के अन्य सदस्य भी इससे बच नहीं सके।

अधिवक्ताओं एके दुबे और पवन कुमार के माध्यम से दायर याचिका में कहा गया है, भारत सरकार कॉलर-ट्यून पर निवारक उपायों के संबंध में आवाज देने के लिए अमिताभ बच्चन को भुगतान कर रही है।’’ याचिका में कहा गया है, कुछ कोरोना योद्धा हैं जो राष्ट्र की सेवा कर रहे हैं और इस कठिन समय में गरीब और जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं और साथ ही उन्हें भोजन, कपड़ा और आश्रय प्रदान कर रहे हैं तथा यह उल्लेख करना अपरिहार्य है कि कुछ कोरोना योद्धाओं ने अपनी कम आय को भी गरीब और जरूरतमंद लोगों में बांट दिया।”

इसमें कहा गया है कि कुछ प्रसिद्ध कोरोना योद्धा अब भी बिना किसी भुगतान के अपनी सेवाएं देने और राष्ट्र की सेवा के लिए तैयार हैं। विभिन्न अदालतों में उनके खिलाफ लंबित कई मामलों का जिक्र करते हुए याचिका में आरोप लगाया गया है, अमिताभ बच्चन का इतिहास बहुत साफ नहीं है और साथ ही वह सामाजिक कार्यकर्ता होने के नाते राष्ट्र की सेवा नहीं कर रहे हैं।”याचिकाकर्ता ने कहा कि उन्होंने नवंबर 2020 में अधिकारियों को ज्ञापन दिया लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं दिया गया जिसके बाद उन्होंने अपनी शिकायत लेकर अदालत का दरवाजा खटखटाया।