BREAKING NEWS

कोरोना वायरस : देश में महामारी से संक्रमितों का आंकड़ा 2 लाख 36 हजार के पार, अब तक 6642 लोगों की मौत ◾प्रियंका गांधी ने लॉकडाउन के दौरान यूपी में 44,000 से अधिक प्रवासियों को घर पहुंचने में मदद की ◾वैश्विक महामारी से निपटने में महत्त्वपूर्ण हो सकती है ‘आयुष्मान भारत’ योजना: डब्ल्यूएचओ ◾लद्दाख LAC विवाद : भारत और चीन वार्ता के जरिये मतभेदों को दूर करने पर हुए सहमत◾बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 1330 नए मामले आए सामने , मौत का आंकड़ा 708 पहुंचा ◾हथिनी की मौत पर विवादित बयान देने पर केरल पुलिस ने मेनका गांधी के खिलाफ दर्ज की FIR◾दिल्ली हिंसा: पिंजरा तोड़ ग्रुप की सदस्य और JNU स्टूडेंट के खिलाफ यूएपीए के तहत मामला दर्ज◾राहुल गांधी ने लॉकडाउन को फिर बताया फेल, ट्विटर पर शेयर किया ग्राफ ◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, आज सामने आए 2,436 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा 80 हजार के पार◾लद्दाख तनाव : कल सुबह 9 बजे मालदो में होगी भारत और चीन के बीच ले. जनरल स्तरीय बातचीत ◾पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा : मुंह में गहरे घावों के कारण दो हफ्ते भूखी थी गर्भवती हथिनी, हुई दर्दनाक मौत◾केंद्रीय गृह मंत्रालय की मीडिया विंग में भारी फेरबदल, नितिन वाकणकर नये प्रवक्ता नियुक्त किये गए ◾भाजपा नेता और टिक टोक स्टार सोनाली फोगाट ने हिसार मंडी समिति के सचिव को पीटा , वीडियो वायरल ◾सैन्य बातचीत से पहले बोला चीन-भारत के साथ सीमा विवाद को उचित ढंग से सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध◾PM मोदी के 'आत्मनिर्भर भारत' के ऐलान को कपिल सिब्बल ने बताया 'जुमला'◾दिल्ली के पीतमपुरा में एक मेड से 20 लोगों को हुआ कोरोना, 750 से ज्यादा लोग हुए सेल्फ क्वारंटाइन◾कोरोना संकट पर मोदी सरकार का बड़ा फैसला, नई योजनाओं पर मार्च 2021 तक लगी रोक◾गुजरात में कांग्रेस को तीसरा झटका, एक और विधायक ने दिया इस्तीफा◾दिल्ली मेट्रो में हुई कोरोना की एंट्री, 20 कर्मचारियों में संक्रमण की पुष्टि◾'विश्व पर्यावरण दिवस' पर PM मोदी का खास सन्देश, कहा- जैव विविधता को संरक्षित रखने का संकल्प दोहराएं◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जेएनयू के ​इतिहास में पहली बार पुलिस ने लिया स्वत: संज्ञान

दक्षिणी दिल्ली : जेएनयू में छात्रों के दो गुटों के बीच हुए बवाल ने जेएनयू का इतिहास ही बदल दिया। पहली बार हंगामे के बीच दिल्ली पुलिस ने स्वत: संज्ञान लेते हुए सोमवार को एफआईआर कर किया है। इस एफआईआर में किसी को भी नामजद नहीं किया गया है। 

हालांकि केस दर्ज करने के साथ ही केस की जांच की जिम्मेदारी क्राइम ब्रांच की टीम को सौंप दी गई है। इतना ही नहीं क्राइम ब्रांच के जांच में सहयोग करने और सच्चाई का पता लगाने के लिए पश्चिमी रेंज की संयुक्त पुलिस आयुक्त शालिनी सिंह की निगरानी में भी पुलिस टीम का गठन किया गया है। 

सोमवार को वसंतकुंज नॉर्थ थाने में पुलिस ने जो एफआईआर दर्ज की है, उसमें आईपीसी की पांच धाराओं के अलावा सरकारी सम्पति को नुकसान पहुंचाने संबंधित धाराओं के अंतर्गत केस दर्ज किया गया है। केस को आईपीसी की धारा 145/147/148/149 व 151 व सरकारी प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने में तीन मामले दर्ज किए गए हैं।

जेएनयू प्रशासन ने पुलिस को लिखा पत्र...

पुलिस सूत्रों ने बताया कि हॉस्टल में मारपीट और तोड़फोड़ की घटना के दौरान जेएनयू प्रशासन की तरफ से पुलिस को पत्र लिखकर परिसर में हो रही हिंसा और कानून व्यवस्था को काबू करने के​ लिए आग्रह किया। जिसके बाद पुलिस ने परिसर में अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया और स्थिति को नियंत्रित करने की कोशिश की गई। 

इस दौरान पुलिस बार-बार छात्रों से शांति बनाए रखने की अपील करती रही है और शाम के समय जेएनयू कैम्पस में फ्लैग मार्च किया गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि जेएनयू में फीस की बढ़ोतरी व अन्य मांगों को लेकर यूनिवर्सिटी के अंदर छात्रों का एक गुट पिछले कुछ दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहा था। 

इसी कड़ी में हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान उच्च न्यायालय ने एक आदेश में जेएनयू कैम्पस के प्रशासनिक ब्लॉक के 100 मीटर के क्षेत्र में किसी भी प्रकार का विरोध प्रदर्शन या छात्रों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध लगा दिया था। पुलिस की मानें रविवार शाम करीब पौने चार बजे के आसपास पुलिस को सूचना मिली थी कि जेएनयू के पेरियार हॉस्टल परिसर में कुछ छात्र एकत्रित होकर मारपीट और तोड़-फोड़ कर रहे हैं। 

तत्काल पुलिस की टीम उक्त हॉस्टल के पास पहुंची जहां पुलिस ने देखा कि 40-50 की संख्या में कुछ अंजान और नकाबपोश लोग हाथों में रॉड और डंडे लेकर मारपीट और तोड़-फोड़ कर रहे थे। जो पुलिस को देखते ही मौके से भाग गए।