BREAKING NEWS

केजरीवाल ने LG से बात की, शांति बहाल करने के लिए हरसंभव कदम उठाने का किया अनुरोध◾ग्रेटर नोएडा में बिरयानी विक्रेता की पिटाई, सभी आरोपी गिरफ्तार ◾नागरिकता कानून का विरोध : दिल्ली में आगजनी, हिंसा : पुलिसकर्मी जख्मी, बसों में आग लगाई◾केजरीवाल ने नागरिकता अधिनियम पर शांति की अपील की ◾TOP 20 NEWS 15 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾गुवाहाटी में पुलिस गोलीबारी में घायल हुए 2 और लोगों की हुई मौत, अब तक 4 की गई जान◾नागपुर में बोले फडणवीस- सावरकर पर टिप्पणी के लिए माफी मांगें राहुल गांधी◾कांग्रेस ने नागरिकता कानून को लेकर बवाल खड़ा किया : PM मोदी◾महाराष्ट्र: प्रदर्शन के बाद PMC के जमाकर्ता हिरासत में, CM उद्घव ने मदद का दिलाया भरोसा◾नागरिकता कानून वापस लेने के लिए याचिका दायर करेगी BJP की सहयोगी असम गण परिषद◾वीर सावरकर पर बयान देकर मुश्किल में फंसे राहुल, पोते रंजीत ने की कार्रवाई की मांग◾सावरकर वाले बयान पर कांग्रेस पर हमलावर हुई मायावती, कहा- अब भी शिवसेना के साथ क्यों, यह आपका दोहरा चरित्र नहीं?◾नेपाल के सिंधुपलचौक में यात्रियों से भरी बस दुर्घटनाग्रस्त, 14 लोगों की दर्दनाक मौत◾भारतीय मुसलमान घुसपैठिए और शरणार्थी नहीं, डरना नहीं चाहिए : रिजवी◾निर्भया के दोषियों को फांसी देना चाहती हैं इंटरनेशनल शूटर वर्तिका, अमित शाह को खून से लिखा खत ◾पश्चिम बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन, कई स्थानों पर सड़कें अवरुद्ध◾नागरिकता संशोधन बिल में बदलाव को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने दिए संकेत◾अनशन पर बैठीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल हुईं बेहोश, LNJP अस्पताल में भर्ती◾CAB के खिलाफ प्रदर्शनों के बाद आज गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू में ढील◾झारखंड विधानसभा चुनाव: देवघर में प्रत्याशियों की आस्था दांव पर◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

डीएसजीएमसी के शिक्षण संस्थानों के निजीकरण पर सियासी बवाल

 dsgmc

नई दिल्ली : दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के ऊपर विरोधी पार्टी शिरोमणी अकाली दल दिल्ली के प्रधान परमजीत सिंह सरना ने एक बड़ा आरोप लगाया है। सरना का कहना है कि दिल्ली कमेटी ने पूर्वी दिल्ली स्थित हरगोबिंद एन्क्लेव में चल रहे गुरु हरगोबिंद इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी को एक निजी गैर सिख संस्था को तीन वर्षों की लीज पर दे दिया है। 

आरोप यह भी है कि यहां के कर्मचारियों को गत कई महीनों से वेतन नहीं दिया गया है। साथ ही यहां कोर्स कर रहे करीब 70 छात्रों को पंजाबी बाग स्थित इंस्टीट्यूट जाने की बात कही गई है। सरना का कहना है कि उक्त इंस्टीट्यूट में एम कॉम, बी कॉम, बीसीए, बीबीए जैसे मैनेजमेंट कोर्स कराये जाते थे। बी कॉम में दाखिले के लिए दिल्ली के बच्चे अन्य विश्वविद्यालयों में धक्के खाते हैं, लेकिन कमेटी ने इस इंस्टीट्यूट को बंद कर दिया है। 

सरना ने दिल्ली कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये लोग धीरे-धीरे कमेटी के अधिन चल रहे सभी इंस्टीट्यूट्स को बंद करवा देंगे। चूंकि डेढ़ एकड़ की यह जमीन सिख विरासत की है, इसलिए वह इसे निजी हाथों में नहीं जाने देंगे फिर चाहे इसके लिए उन्हें कानूनी व राजनीतिक कदम क्यों न उठाने पड़े।

क्यों हुआ विवाद... सरना बंधुओं का कहना है कि गुरुद्वारा कमेटी की कोई भी प्रॉपर्टी किसी निजी हाथों में नहीं सौंपी जा सकती। उनका आरोप है कि सिरसा ने इस लीज के लिए न तो डीडीए से सहमति ली है और न ही दिल्ली कमेटी की कार्यकारिणी में इसकी चर्चा की है। 

उनका आरोप है कि सिरसा ने भी पूर्व प्रधान जीके की राह पर चलना शुरू कर दिया है। उन्होंने इस संबंध में अकाल तख्त के जत्थेदार को भी शिकायत देते हुए मामले पर संज्ञान लेने की मांग की है। सरना ने कहा कि बालाजी अस्पताल मामले में सिरसा व उसके लोग मुझ पर कई आरोप लगा चुके हैं जबकि अस्पताल मामले में एक समझौते के तहत कार्य किया गया था। यह मामला पूरी तरह से गोपनीय है। अब कुलदीप सिंह भोगल व अन्य लोग चुप क्यों हैं?