BREAKING NEWS

पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद◾प्रियंका गांधी बोलीं- देश में 'भयंकर मंदी' लेकिन सरकार के लोग खामोश◾ मायावती का ट्वीट- देश में आर्थिक मंदी का खतरा, इसे गंभीरता से लें केंद्र◾AAP के पूर्व विधायक कपिल मिश्रा भाजपा में शामिल◾चिदंबरम बोले- मीर को नजरबंद करना गैरकानूनी, नागरिकों की स्वतंत्रता सुनिश्चित करें अदालतें◾राजनाथ के आवास पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक शुरू, शाह समेत कई मंत्री मौजूद◾भूटान पहुंचे मोदी का PM लोटे ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत, दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर◾शरद पवार बोले- पता नहीं राणे का कांग्रेस में शामिल होने का फैसला गलत था या बड़ी भूल◾उत्तर कोरिया ने किया नए हथियार का परीक्षण, किम ने जताया संतोष◾12 दिन बाद आज से घाटी में फोन और जम्मू समेत कई इलाकों में 2G इंटरनेट सेवा बहाल◾राम माधव बोले- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को मिलेगा देश के कानूनों के अनुसार लाभ◾वित्त मंत्रालय के अधिकारियों संग PMO की बैठक आज, इन मुद्दों पर होगी चर्चा◾कोविंद, शाह और योगी जेटली को देखने AIIMS पहुंचे, जेटली की हालत नाजुक : सूत्र ◾आर्टिकल 370 : UNSC में Pak को बड़ा झटका, कश्मीर मामले पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में पाकिस्तान को सिर्फ चीन का मिला समर्थन◾जम्मू में हमारे ''नेताओं की गिरफ्तारी'' निंदनीय, आखिर यह पागलपन कब खत्म होगा : राहुल ◾परमाणु हथियार के पहले प्रयोग न करने की नीति पर बोले राजनाथ: परिस्थितियों पर निर्भर करेगा फैसला◾कश्मीर में किसी की जान नहीं गई, कुछ दिनों में हालात होंगे सामान्य◾कश्मीर मुद्दे पर UNSC में बोले अकबरुद्दीन- जेहाद के नाम पर हिंसा फैला रहा है PAK◾भूटान की यात्रा समय की कसौटी पर खरी उतरने वाली मित्रता को और मजबूत करेगी : PM मोदी◾बाबरी मस्जिद से पहले उस जगह राम मंदिर मौजूद था : रामलला◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

डीएसजीएमसी के शिक्षण संस्थानों के निजीकरण पर सियासी बवाल

नई दिल्ली : दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के ऊपर विरोधी पार्टी शिरोमणी अकाली दल दिल्ली के प्रधान परमजीत सिंह सरना ने एक बड़ा आरोप लगाया है। सरना का कहना है कि दिल्ली कमेटी ने पूर्वी दिल्ली स्थित हरगोबिंद एन्क्लेव में चल रहे गुरु हरगोबिंद इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी को एक निजी गैर सिख संस्था को तीन वर्षों की लीज पर दे दिया है। 

आरोप यह भी है कि यहां के कर्मचारियों को गत कई महीनों से वेतन नहीं दिया गया है। साथ ही यहां कोर्स कर रहे करीब 70 छात्रों को पंजाबी बाग स्थित इंस्टीट्यूट जाने की बात कही गई है। सरना का कहना है कि उक्त इंस्टीट्यूट में एम कॉम, बी कॉम, बीसीए, बीबीए जैसे मैनेजमेंट कोर्स कराये जाते थे। बी कॉम में दाखिले के लिए दिल्ली के बच्चे अन्य विश्वविद्यालयों में धक्के खाते हैं, लेकिन कमेटी ने इस इंस्टीट्यूट को बंद कर दिया है। 

सरना ने दिल्ली कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये लोग धीरे-धीरे कमेटी के अधिन चल रहे सभी इंस्टीट्यूट्स को बंद करवा देंगे। चूंकि डेढ़ एकड़ की यह जमीन सिख विरासत की है, इसलिए वह इसे निजी हाथों में नहीं जाने देंगे फिर चाहे इसके लिए उन्हें कानूनी व राजनीतिक कदम क्यों न उठाने पड़े।

क्यों हुआ विवाद... सरना बंधुओं का कहना है कि गुरुद्वारा कमेटी की कोई भी प्रॉपर्टी किसी निजी हाथों में नहीं सौंपी जा सकती। उनका आरोप है कि सिरसा ने इस लीज के लिए न तो डीडीए से सहमति ली है और न ही दिल्ली कमेटी की कार्यकारिणी में इसकी चर्चा की है। 

उनका आरोप है कि सिरसा ने भी पूर्व प्रधान जीके की राह पर चलना शुरू कर दिया है। उन्होंने इस संबंध में अकाल तख्त के जत्थेदार को भी शिकायत देते हुए मामले पर संज्ञान लेने की मांग की है। सरना ने कहा कि बालाजी अस्पताल मामले में सिरसा व उसके लोग मुझ पर कई आरोप लगा चुके हैं जबकि अस्पताल मामले में एक समझौते के तहत कार्य किया गया था। यह मामला पूरी तरह से गोपनीय है। अब कुलदीप सिंह भोगल व अन्य लोग चुप क्यों हैं?