BREAKING NEWS

भाजपा के नकारेपन के चलते जीतेंगे झारखंड : कांग्रेस◾UP में मुआवजे के लिए किसानों का प्रदर्शन हुआ उग्र ◾भाजपा के नकारेपन के चलते जीतेंगे झारखंड : कांग्रेस◾अयोध्या फैसले पर बोले यशवंत सिन्हा, कहा- इस फैसले में कुछ खामियां हैं, लेकिन हमें आगे बढ़ने की जरूरत◾UEA के नागरिकों को अब भारत आने पर सीधे मिलेगा वीजा◾महाराष्ट्र सरकार गठन : सोमवार को पवार सोनिया गांधी से करेंगे मुलाकात ◾विपक्ष ने संसद में अपनी संख्या बढ़ाई ◾बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर तेज हुई राजनीति◾PM मोदी ने राजपक्षे को भारत आने का दिया निमंत्रण◾प्रदूषण के मुद्दे पर केंद्र सोमवार को उत्तरी राज्यों के अधिकारियों के साथ करेगा उच्च स्तरीय बैठक ◾कर्नाटक उपचुनावों में उम्मीदवारों को भविष्य के मंत्री के तौर पर पेश कर रही है भाजपा ◾किसानो पर पुलिस बर्बरता शर्मनाक : प्रियंका◾नागरिकता विधेयक से लेकर आर्थिक सुस्ती पर विपक्ष के विरोध से शीतकालीन सत्र के गर्माने की संभावना ◾TOP 20 NEWS 17 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾मंत्री स्वाती सिंह के कथित आडियो पर प्रियंका गांधी ने सरकार को घेरा ◾अयोध्या मामले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड◾उपभोक्ता खर्च के आंकड़े छिपाने के आरोपों में चिदंबरम का केंद्र सरकार पर निशाना◾प्रियंका गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वास्तविक मुद्दों पर फोकस करने का दिया निर्देश ◾सर्वदलीय बैठक में बोले PM मोदी- सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए हैं तैयार ◾गोताबेया राजपक्षे ने जीता श्रीलंका के राष्ट्रपति का चुनाव, PM मोदी ने दी बधाई◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

रडार सेंसर से होगी गाड़ियों की प्रदूषण जांच

नई दिल्ली: वाहनों के प्रदूषण से परेशान दिल्ली में जल्द ही राहत मिल सकती है। परिवहन विभाग चलती प्रदूषण को मापने के लिए रडार सेंसर खरीदने की तैयारी कर रहा है। योजना है कि दिल्ली में भीड़-भाड़ और अत्यधिक प्रदूषण वाले जगहों पर इन रडार सेंसरों को लगाया जाएगा। सेंसरों के माध्यम से उन वाहनों को पकड़ा जाएगा जो अत्यधिक प्रदूषण फैला रहे हैं। परिवहन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि विभाग जल्द रडार सेंसर खरीद रहा है। पायलेट प्राजेक्ट के तौर पर इन रडार सेंसरों को पूर्वी दिल्ली में लगाया जाएगा। अधिकतर वाहन प्रदूषण फैलाने वाले हैं लेकिन पकड़ में न आने के कारण इनका चालान नहीं हो पाता। 19 से 30 जनवरी के मध्य दिल्ली में होने वाले आशियान सम्‍मेलन को लेकर सीपीसीबी ने कोयला आधारित उद्योग को बंद करने की सिफारिश की है। गुरुवार को टास्क फोर्स की बैठक हुई थी।

तकनीकी समस्या... रडार सेंसर को लेकर तकनीकी समस्या है। विभाग के अधिकारी ने बताया कि पहले भी ऐसे सेंसर लगाने का प्रयास किया गया था लेकिन इनसे मिलने वाले आकड़ों के आधार पर चालान करना संभव नहीं। चालान के लिए प्रदूषण जांच की एक विशेष विधि होती है। हालांकि परिवाहन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी का दावा है कि इस रडार सेंसरों के माध्यमों से वाहनों की पहचान के बाद अन्य तकनीक के माध्यम से प्रदूषण की फिर से जांच हो जाएगी। इस सेंसरों के माध्यम से महज गाड़ियों की पहचान होगी।

आठ माह बाद नहीं दिखेगी पुरानी गाड़ी... दिल्ली में प्रदूषण फैला रहे पुराने वाहन आठ माह के बाद दिल्ली में नहीं दिखेंगे। परिवहन विभाग ने बताया कि डीजल की 10 साल पुरानी और पेट्रोल की 15 साल पुरानी वाहनों को आठ माह बाद दिल्ली की सड़कों से बारह कर दिया जाएगा। दिल्ली में ऐसी गाड़ियों की संख्या दो लाख से ज्यादा है।

पारा गिरा, प्रदूषण बढ़ा... पहाड़ों पर हुई बर्फबारी के कारण दिल्ली का पारा सामान्य से चार डिग्री नीचे चला गया है। वहीं प्रदूषण भी गंभीर स्थिति में बना है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार गुरुवार को दिल्ली में पीएम 10 और पीएम 2.5 का स्तर 14 नवंबर के स्तर को छू गया। पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में प्रदूषण के स्तर में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है। गुरुवार को पीएम 10 का स्तर बढ़कर 492 और पीएम 2.5 का स्तर 320 पर पहुंच गया। बोर्ड के अनुसार दिल्ली में प्रदूषण का स्तर अतिगंभीर स्थिति में बना हुआ है। वहीं भारतीय मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान 25.2 और न्यूनतम तापमान 12 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से चार डिग्री कम है।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।

- राकेश शर्मा