BREAKING NEWS

PM मोदी फ्रांस,UAE और बहरीन की यात्रा पर रवाना, कहा-सदाबहार मित्रों के साथ संबंध मजबूत होंगे ◾LIVE : ED दफ्तर पहुंचे राज ठाकरे, धारा 144 लागू◾LIVE : सीबीआई ने चिदंबरम से की पूछताछ शुरू , 2 बजे होगी कोर्ट में पेशी◾चिदंबरम की गिरफ्तारी पर बोली कांग्रेस, लोकतंत्र और कानून व्यवस्था की दिन दहाड़े हुई हत्या ◾पिता पी. चिदंबरम की गिरफ्तारी के विरोध में जंतर-मंतर पर धरना देंगे कार्ति ◾रविदास मंदिर को लेकर प्रियंका का BJP पर निशाना, कहा-दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जा सकता◾कार्ति चिदंबरम बोले- राजनीतिक बदले की भावना से हुई मेरे पिता की गिरफ्तारी◾उत्तर प्रदेश सरकार के 4 मंत्रियों से यूं ही नहीं लिए गए इस्तीफे ◾LIVE : सीबीआई ने पी चिदंबरम को किया गिरफ्तार, CBI मुख्यालय में हो रही पूछताछ !◾ED ने चिदंबरम के खिलाफ जांच का दायरा बढ़ाया ◾वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्द्धमान ने मिग 21 उड़ाना किया शुरू◾मैं कानून से छिप नहीं रहा था, आशा है कि एजेंसियां कानून का सम्मान करेंगी : चिदंबरम◾राजनीतिक प्रतिशोध के तहत हो रही है कार्रवाई : कार्ती चिदंबरम ◾चिदंबरम पर उसी मामले में लटक रही है तलवार जिसमें उनके बेटे को जाना पड़ा था जेल◾चिदंबरम ईमानदार हैं तो भाग क्यों रहे हैं : श्रीकांत◾पी चिदंबरम मामले पर बोले अखिलेश : सरकार से लड़ना है तो कागज की लड़ाई जीतनी पड़ेगी ◾Modi सरकार की कंपनियों को बड़ी राहत, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दी इसकी जानकारी !◾अनुच्छेद 370 हटने से पाक अधिकृत कश्मीर लेना आसान नहीं : अखिलेश◾प्रियंका ने PM मोदी पर साधा निशाना , कहा - सरकार के दावों की पोल खोल रहे हैं औद्योगिक संस्थाओं के विज्ञापन◾TOP 20 NEWS 21 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

राहुल ने चाको से तो शीला ने कमेटी से मांगी रिपोर्ट

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव-2019 में हुई हार से कांग्रेस सीख लेना चाहती है। तभी तो अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी हो या फिर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी दोनों ही इस हार के तमाम कारणों को जानना चाहती है ताकी विधानसभा चुनाव में उनको सुधारा जा सके। इसके लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हार की वजह जानने के लिए हर बूथ तक जाना चाहते हैं और यही वजह है कि उन्होंने बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से बातचीत कर हार की कारणों का पता लगाने के लिए राज्य प्रभारियों से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। इसमें दिल्ली भी शामिल हैं। 

राहुल ने सभी राज्यों के प्रभारियों से हार के कारणों की जानकारी के लिए रिपोर्ट तैयार करके सौंपने को कहा है। माना जा रहा है कि इस रिपोर्ट के आने के बाद ही पार्टी की कार्यशैली और संगठन स्तर पर बदलाव किए जाएंगे। दूसरी तरफ दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित ने भी हार की समीक्षा के लिए एक पांच सदस्यीय कमेटी का गठन एक हफ्ते पहले ही कर दिया था। लेकिन इस कमेटी को लेकर भी पार्टी के भीतर विवाद हो गया। 

पहले तो प्रदेश प्रभारी पीसी चाको ने ही इस कमेटी पर सवाल खड़े कर​ दिए थे। कमेटी सभी सातों प्रत्याशियों के साथ बैठक तय की, लेकिन इसमें सिर्फ दो प्रत्याशी विजेन्द्र सिंह व राजेश लिलोठिया ही पहुंचे। सूत्रों का कहना था कि इसमें सिर्फ पवन खेड़ा ही वरिष्ठ थे। दूसरी तरफ ​कमेटी ने सभी जिलाध्यक्षों को भी बुलाया लेकिन 14 में 11 ही जिलाध्यक्षों ने अभी तक अपनी बात कही है। 

विस प्रभारी नियुक्त कर सकती है कांग्रेस

जिस तरह लोकसभा चुनावों के दौरान देखने को मिला कि ​नामांकन के अंतिम दिन ही प्रत्याशियों के नामों की घोषणा हुई, इससे कांग्रेस को खासा नुकसान उठाना पड़ा। अब विधानसभा चुनाव में कांग्रेस इस गलती को नहीं दोहराना चाहती है। सूत्र बताते हैं कि कांग्रेस पहले से ही प्रत्याशी के रूप में विधानसभा प्रभारी नियुक्त सकती है। अगर उस विधानसभा प्रभारी का काम अच्छा होगा तो उन्हें ही टिकट दे दिया जाएगा, नहीं होगा तो उनका टिकट बदल दिया जाएगा। 

पार्टी को विश्वास है कि इससे विधानसभा तैयारी में कांग्रेस के प्रत्याशी को काफी समय मिल जाएगा। इसके अलावा कांग्रेस इस बार सख्ती से विधानसभा के प्रत्याशियों के लिए नियम लागू करने वाली है। जो प्रत्याशी दो बार विधानसभा का चुनाव हार चुके हैं, पार्टी उन्हें टिकट नहीं देगी।