BREAKING NEWS

Coronavirus : देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 26 हजार से अधिक मामले आये सामने ◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 23.18 करोड़ के करीब, 47.4 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾किसानों के भारत बंद के मद्देनजर दिल्ली में मेट्रो स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ी,पुलिस अलर्ट पर ◾भारत बंद : कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर बॉर्डर समेत दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाइवे को किसानों ने किया जाम◾दस साल तक प्रदर्शन के लिए तैयार हैं, लेकिन कृषि कानूनों को लागू नहीं होने देंगे : राकेश टिकैत◾संयुक्त किसान मोर्चा की सोमवार को भारत बंद के दौरान शांति की अपील, कई राजनीतिक दलों ने दिया समर्थन◾मंत्रिमंडल विस्तार में भाजपा ने विधानसभा चुनाव को लक्ष्य कर जातीय और क्षेत्रीय समीकरण साधा◾दिग्विजय सिंह ने RSS संचालित सरस्वती शिशु मंदिर के खिलाफ दिया विवादित बयान◾PM मोदी ने नए संसद भवन के निर्माण स्थल का किया दौरा ◾RCB vs MI : पटेल की हैट्रिक और मैक्सवेल के शानदार प्रदर्शन से आरसीबी ने मुंबई इंडियंस को 54 से हराया◾अर्थव्यवस्था की जरूरतों को पूरा करने के लिए भारत को ‘एसबीआई जैसे’ 4-5 बैंकों की जरूरत : सीतारमण◾आरएसएस से जुड़ी साप्ताहिक पत्रिका 'पांचजन्य' ने अमेजन को 'ईस्ट इंडिया कंपनी 2.0' बताया◾‘भारत बंद’ से पहले दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों में पुलिस ने गश्त बढ़ायी, अतिरिक्त कर्मियों की तैनाती की◾गन्ना खरीद मूल्य 350 रुपये किए जाने पर प्रियंका का CM योगी पर तंज, कहा- किसानों के साथ किया धोखा◾पारंपरिक पोशाक पहनने वालों को प्रवेश नहीं देने वाले रेस्तरां के खिलाफ हो कार्रवाई : कांग्रेस◾बिहार : CM नीतीश कुमार बोले- राष्ट्र हित में है जातिगत जनगणना◾UP: योगी कैबिनेट में शामिल हुए 7 नए मंत्री, इन विधायकों ने ली शपथ◾पंजाब : चन्नी कैबिनेट में शामिल हुए 15 नए चेहरे, जाने किसको मिली जगह तो किसका कटा पत्ता ◾योगी सरकार का किसानो के लिए बड़ा फैसला, गन्ने का समर्थन मूल्य 325 रूपए से बढ़ाकर 350 किया ◾MP में एक व्यक्ति की अजीबोगरीब मांग, कहा- प्रधानमंत्री की मौजूदगी में ही लगवाउंगा वैक्सीन ◾

दिल्ली-एनसीआर में सुबह से बारिश का सिलसिला जारी, IMD ने जारी किया ओरेंज अलर्ट

बुधवार सुबह से दिल्ली-एनसीआर बारिश हो रही है। भारतीय मौसम विभाग ने ‘‘मध्यम से भारी’’ बारिश की संभावना जताते हुए ओरेंज अलर्ट जारी किया है तथा यातायात बाधित होने और निचले इलाकों में जलभराव की चेतावनी दी है। मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में मानसून के कारण एक हफ्ते तक ‘‘हल्की से मध्यम’’ बारिश हो सकती है।

गौरतलब है कि 15 मिलीमीटर से कम की बारिश को हल्की, 15 से 64.5 मिमी के बीच को मध्यम, 64.5 से 115.5 मिमी के बीच को भारी, 115.6 से 204.4 मिमी के बीच को बहुत भारी बारिश माना जाता है। वहीं 204.4 मिमी से अधिक की बारिश को अत्यधिक भारी बारिश माना जाता है। राजधानी में इस महीने अभी तक 386.3 मिमी तक बारिश हुई है जो सामान्य 190.4 मिमी बारिश से 103 प्रतिशत अधिक है। यह 2003 के बाद से जुलाई में हुई सर्वाधिक बारिश है तथा अब तक की दूसरी सबसे अधिक बारिश है।

मंगलवार सुबह (साढ़े आठ बजे से पहले) सफदरजंग वेधशाला ने महज तीन घंटों में 100 मिमी बारिश दर्ज की। उसने बुधवार को साढ़े आठ बजे तक पिछले 24 घंटों में 5.4 मिमी बारिश दर्ज की। पालम, रिज और आयानगर मौसम केंद्रों ने क्रमश: 68.7 मिमी, 13 मिमी और 29.1 मिमी बारिश दर्ज की। राजधानी में इस महीने अभी तक 15 दिन बारिश हुई है।

दिल्ली में 13 जुलाई को पहुंचे मानसून से अब बारिश होने लगी है, निचले इलाकों में जलभराव हो गया है तथा यातायात बाधित हो गया है। सामान्य तौर पर दिल्ली में जुलाई में 210.6 मिमी. बारिश हुई है।

आईएमडी के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में पिछले साल 236.9 मिमी, 2019 में 199.2 मिमी और 2018 में 286.2 मिमी बारिश हुई। 2013 में दिल्ली में 340.5 मिमी बारिश हुई थी। जुलाई में 2003 में सबसे अधिक 632.2 मिमी बारिश हुई थी।

स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष महेश पालावत ने बताया कि पिछले कुछ वर्षों में बारिश के दिनों की संख्या कम हुई। उन्होंने कहा, ‘‘शहरों में कम समय में अधिक बारिश हो रही है। इससे पहले तीन से चार दिनों में 100 मिमी बारिश होती थी। अब हम महज पांच-छह घंटों में हम इतनी बारिश दर्ज करते हैं।’’

पालावत ने कहा कि इस तरह की बारिश से भूजल संचय में मदद नहीं मिलती और निचले इलाकों में बाढ़ आती है। अगर चार से पांच दिनों तक मंद-मंद बारिश होती है तो पानी जमीन में रिसकर पहुंचता है। भारी बारिश की स्थिति में पानी जल्दी बह जाता है।

आईएमडी बारिश के लिए चार रंगों के कोड का इस्तेमाल करता है। हरे का मतलब होता है सब ठीक है, पीले का मतलब होता है बहुत खराब मौसम। ओरेंज अलर्ट अत्यधिक खराब मौसम के लिए जारी किया जाता है जिसमें सड़क यातायात के बाधित होने तथा नालों के भर जाने और बिजली आपूर्ति बाधित होने की चेतावनी होती है। रेड अलर्ट तब जारी किया हजाता है जब अत्यधिक खराब मौसम से यातायात और बिजली सेवाएं बाधित हो जाती हैं तथा जीवन को खतरा होता है।

विपक्ष के हंगामे के बाद राज्यसभा स्थगित, पेगासस मामले ने राहुल ने दिया लोकसभा अध्यक्ष को स्थगन प्रस्ताव