BREAKING NEWS

फारूक अब्दुल्ला ने खुदको 'पाकिस्तानी-खालिस्तानी' कहे जाने पर जताया खेद, बोले- गांधी का भारत लाए वापस ◾लालू के घर बजेंगी शहनाई, तेजस्वी यादव की शादी हुई पक्की, दिल्ली में आज या कल होगी सगाई ◾सोनिया ने केंद्र को बताया 'असंवेदनशील', किसानों के साथ रवैये और महंगाई जैसे मुद्दों पर किया सरकार का घेराव ◾World Corona Update : अब तक 26.7 करोड़ से ज्यादा लोग हुए संक्रमित, मृतकों की संख्या 52.7 लाख से अधिक◾RBI ने रेट रेपो 4 प्रतिशत पर रखा बरकरार, लगातार 9वीं बार नहीं हुआ कोई बदलाव◾ओमीक्रॉन पर आंशिक रूप से असरदार है फाइजर वैक्सीन, स्टडी में दावा- बूस्टर डोज कम कर सकती है संक्रमण ◾UP चुनाव : आज योगी और राजभर जनसभा को करेंगे संबोधित, प्रियंका पहला महिला घोषणा पत्र जारी करेंगी ◾बिहार में PM मोदी, अमित शाह और प्रियंका चोपड़ा को लगी वैक्सीन! तेजस्वी यादव ने शेयर की लिस्ट◾मनी लॉन्ड्रिंग केस: ED के सामने आज पेश होंगी जैकलीन फर्नांडीज, गवाह के तौर पर दर्ज कराएंगी बयान ◾Today's Corona Update : भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 8,439 केस सामने आए, 195 लोगों की मौत◾जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच एनकाउंटर शुरू, इलाके की गयी घेराबंदी ◾किसानों की होगी घर वापसी या जारी रहेगा आंदोलन? एसकेएम की बैठक में आज होगा फैसला ◾ओमिक्रॉन के खतरे के बीच ओडिशा के सरकारी स्कूल में 9 छात्र कोरोना से संक्रमित, किया गया क्वारंटीन ◾अनिल मेनन बनेंगे नासा एस्ट्रोनॉट, बन सकते हैं चांद पर पहुंचने वाले पहले भारतीय◾PM मोदी ने SP पर साधा निशाना , कहा - लाल टोपी वाले लोग खतरे की घंटी,आतंकवादियों को जेल से छुड़ाने के लिए चाहते हैं सत्ता◾ किसान आंदोलन को खत्म करने के लिए राकेश टिकैत ने कही ये बात◾DRDO ने जमीन से हवा में मार करने वाली VL-SRSAM मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾बिना कांग्रेस के विपक्ष का कोई भी फ्रंट बनना संभव नहीं, संजय राउत राहुल गांधी से मुलाकात के बाद बोले◾केंद्र की गलत नीतियों के कारण देश में महंगाई बढ़ रही, NDA सरकार के पतन की शुरूआत होगी जयपुर की रैली: गहलोत◾अमरिंदर ने कांग्रेस पर साधा निशाना, अजय माकन को स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त करने पर उठाए सवाल◾

राम विलास पासवान बोले- दिल्ली में साफ पानी के लिए करनी होगी यमुना की सफाई

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लोगों को तभी पीने का स्वच्छ पानी मिल पाएगा, जब यमुना जल की सफाई कर दी जाएगी। यह बात सोमवार को भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) द्वारा स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति अनिवार्य करने को लेकर आयोजित एक कार्यशाला में सामने आई, जिसका जिक्र केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान ने मीडिया से बातचीत के दौरान किया। 

पासवान ने कहा, "कार्यशाला के दौरान इस बात पर भी चर्चा हुई कि बीआईएस मानक के अनुसार स्वच्छ पानी की आपूर्ति के लिए जल के स्रोत की सफाई करनी होगी।" बीआईएस के महानिदेशक प्रमोद कुमार तिवारी ने बताया कि उनका (दिल्ली जल बोर्ड) कहना है कि औद्योगिकीकरण के कारण औद्योगिक कचरों से पानी का स्रोत दूशित हो रहा है, खासतौर से फार्माश्युटिकल्स के अपशिष्ट पदार्थों के कणों को मौजूदा वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में दूर करना संभव नहीं है। 

तिवारी ने कहा, "उनका कहना जायज है और हमने उनके तर्क को नोट कर लिया है कि हमें जल के स्रोत की सफाई के लिए उसका भी मानक तय करना चाहिए।" पासवान ने प्रेसवार्ता के दौरान कहा, "अगर महाराष्ट्र (मुंबई) में बीएसआई मानकों का शतप्रतिशत अनुपालन हो रहा है तो देशभर में क्यों नहीं हो सकता है।" 

SC ने दिल्ली-एनसीआर में निर्माण गतिविधियों पर लगा प्रतिबंध आंशिक रूप से हटाया

गौरतलब है कि उपभोक्ता मामले मंत्रालय के निर्देश पर दिल्ली सहित देश के 21 राज्यों की राजधानियों में नल के माध्यम से आपूर्ति किए जाने वाले पेयजल की शुद्धता की जांच के लिए नमूने लिए गए थे, जिसकी जांच रिपोर्ट पिछले महीने आने पर पाया गया कि दिल्ली में नल का पानी पीने लायक नहीं है। क्योंकि राष्ट्रीय राजधानी में 11 जगहों से लिए गए सभी नमूने बीआईएस के मानकों पर विफल पाए गए, जबकि मुंबई के सभी 10 मानक खरे उतरे।

पासवान ने बताया, "पीने का स्वच्छ पानी आपूर्ति किए जाने की अनिवार्यता को लेकर कार्यशाला में विभिन्न पहलुओं पर चर्चा हुई और हमने आगे फिर इस पर और गहन विमर्श करने को कहा है कि आम लोगों को स्वच्छ पानी मुहैया करवाने के लिए हम क्या कर सकते हैं। अगले दो महीने में हम फिर इस मसले को लेकर मिलेंगे।"

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि पूरे देश में पानी की स्वच्छता के लिए बीआईएस के मानकों का ही पालन होता है, और बीआईएस के मानक विश्व स्वास्थ्य संगठन और यूरोपीय मानकों के समान हैं। उन्होंने कहा, "हमने राज्यों से आए प्रतिनिधियों से पूछा कि आपके जल बोर्ड का मानक कोई अलग है क्या, तो सबने बताया कि वे बीआईएस के मानकों का ही अनुपालन करते हैं।"