BREAKING NEWS

चेन्नई सुपर किंग्स चौथी बार बना IPL चैंपियन◾बुराई पर अच्छाई की जीत का त्योहार दशहरा देश भर में उल्लास के साथ मनाया गया◾सिंघु बॉर्डर : किसान आंदोलन के मंच के पास हाथ काटकर युवक की हत्या, पुलिस ने मामला किया दर्ज ◾कपिल सिब्बल का केंद्र पर कटाक्ष, बोले- आर्यन ड्रग्स मामले ने आशीष मिश्रा से हटा दिया ध्यान◾हिंदू मंदिरों के अधिकार हिंदू श्रद्धालुओं को सौंपे जाएं, कुछ मंदिरों में हो रही है लूट - मोहन भागवत◾जनरल नरवणे भारत-श्रीलंका के बीच सैन्य अभ्यास के समापन कार्यक्रम में शामिल हुए, दोनों दस्तों के सैनिकों की सराहना की◾अफगानिस्तान: कंधार में शिया मस्जिद को एक बार फिर बनाया गया निशाना, विस्फोट में कई लोगों की मौत ◾सिंघु बॉर्डर आंदोलन स्थल पर जघन्य हत्या की SKM ने की निंदा, कहा - निहंगों से हमारा कोई संबंध नहीं ◾अध्ययन में चौंकाने वाला खुलासा, दिल्ली में डेल्टा स्वरूप के खिलाफ हर्ड इम्युनिटी पाना कठिन◾सिंघु बॉर्डर पर युवक की विभत्स हत्या पर बोली कांग्रेस - हिंसा का इस देश में स्थान नहीं हो सकता◾पूर्व PM मनमोहन की सेहत में हो रहा सुधार, कांग्रेस ने अफवाहों को खारिज करते हुए कहा- उनकी निजता का सम्मान किया जाए◾रक्षा क्षेत्र में कई प्रमुख सुधार किए गए, पहले से कहीं अधिक पारदर्शिता एवं विश्वास है : पीएम मोदी ◾PM मोदी ने वर्चुअल तरीके से हॉस्टल की आधारशिला रखी, बोले- आपके आशीर्वाद से जनता की सेवा करते हुए पूरे किए 20 साल◾देश ने वैक्सीन के 100 करोड़ के आंकड़े को छुआ, राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान ने कायम किया रिकॉर्ड◾शिवपाल यादव ने फिर जाहिर किया सपा प्रेम, बोले- समाजवादी पार्टी अब भी मेरी प्राथमिकता ◾जेईई एडवांस रिजल्ट - मृदुल अग्रवाल ने रिकॉर्ड के साथ रचा इतिहास, लड़कियों में काव्या अव्वल ◾दिवंगत रामविलास पासवान की पत्नी रीना ने पशुपति पारस पर लगाए बड़े आरोप, चिराग को लेकर जाहिर की चिंता◾सिंघू बॉर्डर पर किसानों के मंच के पास बैरिकेड से लटकी मिली लाश, हाथ काटकर बेरहमी से हुई हत्या ◾कुछ ऐसी जगहें जहां दशहरे पर रावण का दहन नहीं बल्कि दशानन लंकेश की होती है पूजा◾एनसीबी ने अदालत में आर्यन को 'नशेड़ी' करार दिया, जेल में कैदी न. 956 बनकर पड़ेगा रहना ◾

मनीष सिसोदिया के पत्र का जवाब देते हुए मांडविया बोले- छठ पूजा को लेकर राजनीति नहीं होनी चाहिए

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना महामारी का खतरा फिलहाल नियंत्रण में है, ऐसे में आगामी त्यौहारी सीजन को लेकर कोरोना के नियमों में अधिक सख्ती नहीं की जानी चाहिए। लेकिन यह भी राजनीतिक मुद्दा बन गया है। दिल्ली में छठ पूजा को लेकर राजनीति लगातार तेज होती जा रही है।

इस मुद्दे को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया को पत्र लिखकर दिल्ली में छठ पूजा की अनुमति देने और इसके आयोजन को लेकर केंद्र सरकार से एसओपी (आवश्यक दिशा निर्देश) जारी करने की मांग की थी।

केंद्र सरकार पहले ही हर राज्य के लिए एसओपी जारी कर चुका है

बुधवार को मनीष सिसोदिया के इस पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने साफ किया कि त्योहारों लेकर पहले से ही केंद्र सरकार और हर राज्य सरकार की एसओपी बनी हुई है और इसलिए स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा अलग से किसी तरह की एसओपी जारी करने की कोई जरूरत नहीं है।

उन्होंने बताया कि पहले से इस तरह की एसओपी मौजूद है जिसमें विस्तार से यह बताया गया है कि त्योहारों को किस तरह से मनाना चाहिए, त्योहार मनाने के लिए कितने लोग इकट्ठे हो सकते हैं और किस तरह से हो सकते हैं।

मांडविया ने दिल्ली सरकार के रवैये पर उठाया सवाल

दिल्ली सरकार के पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि छठ पूजा या किसी भी अन्य त्योहार को लेकर राजनीति नहीं होनी चाहिए। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि केंद्र सरकार की एसओपी के अलावा हर राज्य सरकार ने अपनी-अपनी एसओपी अलग से भी बना रखी है।

प्रयागराज: पोस्टर में वरुण गांधी और सोनिया एकसाथ! कांग्रेस ने नेताओं को फटकारते हुए जारी किया नोटिस

उन्होंने स्कूलों को लेकर, बच्चों को लेकर, राज्य में प्रवेश से पहले वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट और आरटीपीसीआर टेस्ट को लेकर हर राज्य सरकार ने अलग-अलग एसओपी बना रखा है। दिल्ली सरकार के रवैये पर सवाल उठाते हुए मनसुख मांडविया ने कहा कि हर मुद्दे पर विवाद खड़ा करना और राजनीति करना इनकी पुरानी आदत है और इन्होंने ऑक्सीजन की वजह से हुई मौतों के आंकड़ों को लेकर भी इसी तरह का विवाद खड़ा कर दिया था।

आपको बता दें कि कोरोना के खतरे की वजह से दिल्ली सरकार ने सार्वजनिक स्थलों पर छठ पूजा के आयोजन को लेकर रोक लगाने का आदेश जारी कर रखा है और दिल्ली भाजपा इसका विरोध कर रही है।