BREAKING NEWS

कांग्रेस को गुजरात निकाय चुनाव में लगा झटका, हारने वालों में एक विधायक समेत सात नेताओं के बेटे भी शामिल ◾चुनाव से पहले ममता बनर्जी को एक और बड़ा झटका, TMC नेता जितेंद्र तिवारी भाजपा में हुए शामिल ◾निजी क्षेत्र की नौकरियों में हरियाणा वासियों को मिलेगा 75 फीसदी कोटा, सरकार जल्द जारी करेगी नोटिफिकेशन◾संयुक्त किसान मोर्चा का ऐलान, चुनाव वाले राज्यों में टीमें भेजकर लोगों से भाजपा को हराने की करेंगे अपील◾कंगना रनौत का तीखा तंज : मेरे खिलाफ वारंट जारी करवाने में जावेद चाचा ने ली सरकार की मदद ◾असम चुनाव में कांग्रेस नीत महागठबंधन भाजपा का करेगा अंतिम संस्कार : बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट ◾प्रियंका गांधी का मोदी सरकार पर हमला - केंद्र की नीतियां सिर्फ अमीर लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए है◾UNHRC में भारत ने फिर पाकिस्तान को किया बेनकाब, आतंकवादी बनाने का अड्डा करार दिया ◾मालदा रैली में बोले योगी-घुसपैठियों को बाहर करने की बात पर तिलमिला जाती है बंगाल सरकार◾असम में बोलीं प्रियंका-सत्ता में आने पर रद्द करेंगे CAA, सरकारी नौकरी तथा मुफ्त बिजली का भी वादा◾मोदी सरकार ने बिना सोचे समझे लिए फैसले, इस वजह से भारत में बेरोजगारी चरम पर है : मनमोहन सिंह ◾गुजरात निकाय चुनावों के शुरूआती नतीजों में BJP बनी हुई है सबसे बड़ी पार्टी◾कांग्रेस vs कांग्रेस : ISF के साथ गठबंधन पर आनंद शर्मा के सवालों पर अधीर रंजन का 'पलटवार'◾पीएम मोदी की तारीफ करने पर गुलाम नबी आजाद के खिलाफ कांग्रेस में मचा घमासान, फूंका पुतला◾BJP ने साधा कांग्रेस पर निशाना, कहा- पार्टी का न ही कोई ईमान न ही विचारधारा, डूब चुका जहाज ◾मैरीटाइम इंडिया समिट 2021 : PM मोदी बोले-समुद्री अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में बड़ी सफलता हासिल करेगा भारत◾गुजरात निकाय चुनावों की मतगणना जारी, बीजेपी को बढ़त, कांग्रेस पीछे ◾प्रियंका के असम दौरे का दूसरा दिन, चाय बागानों में मजदूरों के साथ तोड़ी चाय की पत्तियां◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में 12 हज़ार से ज्यादा लोग हुए संक्रमित, 91 लोगों ने गंवाई जान◾खंडवा से BJP सांसद नंदकुमार सिंह चौहान का निधन, PM मोदी ने जताया दुख◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दिल्ली में 10 महीने बाद खुले स्कूल, कोरोना नियमों के साथ कक्षाओँ में फिर शुरू हुई पढ़ाई

राजधानी में आज लगभग 10 महीने बाद एक बार फिर स्कूल खुल गए हैं। कोरोना के कम होते मामले और वैक्सीन की मंजूरी के बाद दिल्ली सरकार ने स्कूलों को खोलने के आदेश जारी किए थे। दिल्ली सरकार ने अपनी गाइडलाइन में साफ किया है कि बच्चे अपने माता-पिता की सहमति से ही स्कूल आएंगे। विद्यार्थियों के स्कूल पहुंचने से पहले स्कूलों में कोरोना के खिलाफ कई इंतजाम देखने को मिले। 

स्कूल के गेट पर शिक्षक हाथ में सेनिटाइज़र लिए खड़े नजर आए तो वहीं,  मंडावली में ‘सर्वोदय कन्या विद्यालय’ में परिसर को गुब्बारों सजाया गया था और छात्रों के आने पर शिक्षकों ने उन पर फूल भी बरसाए। एंट्री गेट पर सभी बच्चों की थर्मल स्कैनिंग की गई। इसके साथ ही उन्होंने मास्क भी वितरित किए गए।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी सोमवार को चिराग एनक्लेव के एक स्कूल का दौरा कर तैयारी का मुआयना किया। इस अकादमिक सत्र में पहली बार 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए स्कूल खोले गए हैं। इस दौरान छात्रों को अलग-अलग समय बुलाया गया है और बार-बार परिसर को रोगाणु मुक्त भी किया जाएगा। 

राष्ट्रीय राजधानी में 10 महीने बाद स्कूल खुले हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए पिछले साल मार्च में स्कूलों को बंद कर दिया गया था और ये तभी से बंद हैं। विद्यालयों को निर्देश दिया गया है कि सोमवार से स्कूल खुलने पर कोविड-19 संबंधी सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाए। 

दिल्ली सरकार ने सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं व प्रायोगिक परीक्षाओं के मद्देनज़र 10वीं और 12 वीं कक्षा के लिए 18 जनवरी से प्रैक्टिकल, प्रोजेक्ट, काउंसिलिंग आदि के लिए स्कूल खोलने की अनुमति थी। साथ ही स्पष्ट कर दिया था कि छात्रों को अभिभावकों की सहमति से ही (स्कूल) बुलाया जाएगा, स्कूल आना किसी के लिए भी अनिवार्य नहीं होगा। 

दिल्ली में 10वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं के लिए तीन लाख से ज्यादा छात्रों ने पंजीकरण कराया है जबकि 12वीं कक्षा के लिए 2.5 लाख से अधिक विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है। गौरतलब है कि केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय कक्षा 10वीं और 12वीं के लिए पहले ही बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों का ऐलान कर चुका है। ये परीक्षाएं चार मई से 10 जून के बीच होंगी।

दिल्ली सरकार ने पहले सुझाव दिया था कि स्कूलों में कक्षा 12वीं के लिए 20 मार्च से 15 अप्रैल के बीच प्री बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित की जाएं जबकि कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों के एक अप्रैल से 15 अप्रैल के बीच प्री बोर्ड के इम्तिहान लिए जाएं।