BREAKING NEWS

आंध्र प्रदेश में कोरोना के 10 हजार से अधिक नए मामले की पुष्टि, 77 की मौत◾लाखों दीपों से जगमगा उठी रामनगरी, पुष्पों से सजा शहर◾जम्मू कश्मीर पर बड़बोली टिप्पणी करने को लेकर भारत ने चीन को दी सख्त नसीहत◾महाराष्ट्र : मुंबई में तेज हवा के साथ भारी बारिश, कई इलाकों में रेड अलर्ट◾महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप जारी, 24 घंटे में 334 लोगों की मौत, 10309 नए मामले◾प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रिया चक्रवर्ती को भेजा सम्मन, सात अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया ◾एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच करेगी सीबीआई, केंद्र ने जारी की अधिसूचना ◾चीन का बड़बोलापन : जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाना अवैध और अमान्य, एकतरफा बदलाव अस्वीकार्य◾भूमि पूजन के बाद भावविभोर हुए योगी, बोले : 'रामराज्य' और 'नए भारत निर्माण' के युग का प्रारंभ◾अयोध्या : भूमि पूजन के दौरान चरम पर पहुंचा रामभक्तों का उत्साह, भावुक हुए श्रद्धालु◾भूमिपूजन पर बोले ओवैसी-यह लोकतंत्र की हार और हिंदुत्व की सफलता का दिन◾अयोध्या में सुनहरा अध्याय रच रहा है भारत, राष्ट्रीय एकता और राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा राम मंदिर : PM मोदी ◾भूमि पूजन के बाद बोले मोहन भागवत-आज देश में सदियों की आस पूरी होने का आनंद◾राम मंदिर भूमि पूजन के बाद राहुल का तंज- घृणा और क्रूरता से प्रकट नहीं हो सकते राम◾500 साल का लंबा इंतजार खत्म, भूमि पूजन के साथ साकार हुआ भव्य राम मंदिर का सपना◾सुशांत सुसाइड केस : केंद्र ने CBI जांच संबंधी सिफारिश की स्वीकार, SC ने कहा- मामले का सच सामने आना चाहिए◾राम मंदिर भूमि पूजन : अयोध्या में PM मोदी ने रामलला के किए दर्शन, कार्यक्रम की हुई शुरुआत ◾अनुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने का एक वर्ष पूरा, लाल चौक पर BJP कार्यकर्ता रम्यसा रफीक ने लहराया तिरंगा◾World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 85 लाख के पार, 7 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾देश में कोरोना संक्रमण के 52 हजार 509 नए मामलों की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 19 लाख के पार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

गुप्त कोड के जरिये ईवीएम में की जा सकती है छेड़छाड़ : भारद्वाज

नई दिल्ली :  आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक सौरभ भारद्वाज ने आज दिल्ली विधानसभा में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के नमूने का सीधा डेमो करके दावा किया कि इन मशीनों में गुप्त कोड के जरिये छेड़छाड़ की जा सकती है और ऐसा करके किसी खास पार्टी के पक्ष वोट डाले जा सकते हैं।

श्री भारद्वाज ने सदन में ईवीएम के नमूने का डेमो किया तो उसका टेलीविजन चैनलों ने सीधा प्रसारण किया। 'ईवीएम में छेड़छाड़' के मुद्दे को लेकर एक दिन के लिए विधानसभा का विशेष सत्र आयोजित किया गया था। श्री भारद्वाज ने सदन को बताया कि वह खुद कम्प्यूटर साइंस में बीटेक कर चुके हैं और उन्हें विभिन्न बहुराष्ट्रीय आईटी कंपनियों में काम करने का दस वर्ष का अनुभव है। वह इसके आधार पर कह सकते हैं कि किसी भी मशीन में छेड़छाड़ की जा सकती है और वह सदन में सबके सामने ईवीएम में छेड़छाड़ का नमूना पेश कर रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि किसतरह मतदान के दिन इन मशीनों को सभी दलों के लोगों को डेमो करके बताया जाता है कि मशीनें पूरी तरह मुकम्मल हैं और उनमें छेड़छाड़ की गुंजाइश नहीं है लेकिन हकीकत यह है कि इसमें छेड़छाड़ संभव है।

श्री भारद्वाज ने कहा कि जिस मशीन में मतदाता बटन दबाकर वोट डालते हैं उसमें हर पार्टी के लिए एक गुप्त कोड होता है। यदि कोई मतदाता उस गुप्त कोड के अंकों को दबा दे तो उसके बाद उस ईवीएम के सारे वोट खास पार्टी के पक्ष में डलवाये जा सकते हैं। उन्होंने नमूने के तौर पर दिखाया कि शुरू में कुछ पार्टियों को वोट डाले गये लेकिन गुप्त कोड डालने के बाद खास पार्टी के पक्ष में सारे वोट गये।

श्री भारद्वाज ने आरोप लगाया कि राजस्थान के धौलपुर में और उत्तर प्रदेश के भिंड में इसतरह की मशीनें सामने आ चुकी हैं जिनसे एक खास पार्टी को ही सारे वोट पड़ रहे थे। उन्होंने वैज्ञानिकों को भिंड में गड़बड़ी की गुत्थी सुलझाने की चुनौती दी।

श्री भारद्वाज ने डेमो से पहले कहा कि जनता का विश्वास लोकतंत्र की नींव होती है और यह विश्वास हिलने पर प्रजातंत्र की नींव हिल जाती है। जनता दल (यू), तृणमूल कांग्रेस, कम्युनिस्ट पार्टी और राजद के प्रतिनिधियों को विशेष तौर पर आमंत्रित किया गया था और उन्होंने दर्शक दीर्घा में बैठकर सदन की कार्यवाही देखी।

उल्लेखनीय है कि आप तथा बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने उत्तर प्रदेश विधानसभा के हाल के चुनावों में ईवीएम में छेड़छाड़ के आरोप लगाये थे और कहा था कि इसी की बदौलत भाजपा ने जीत हासिल की है। आप ने दिल्ली नगर निगम के चुनावों में भी यही आरोप लगाये थे। कांग्रेस ने भी चुनाव आयोग से ईवीएम की जांच की मांग की थी।

- वार्ता