पश्चिमी दिल्ली : बाहरी दिल्ली के निहाल विहार इलाके में बदमाशों ने शनिवार रात सात वर्षीय बच्ची की अगवा कर हत्या कर दी। बच्ची का शव डीडीए पार्क के पास पड़ा मिला। बच्ची के हाथ-पैर बंधे थे, गले में रस्सी का फंदा लगा हुआ था। मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये नजदीकी संजय गांधी अस्पताल के शवगृह में सुरक्षित रखवा दिया है।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बच्ची के सिर पर गंभीर चोट के निशान हैं। आशंका है कि बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ है। हालांकि पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामले का खुलासा हो पाएगा। पुलिस को किसी परिचित व आसपास के किसी व्यक्ति पर घटना में शामिल होने का शक है। निहाल विहार पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है। पुलिस के अनुसार, सात वर्षीय बच्ची अपने परिजनों के साथ निहाल विहार में रहती थी। उसके पिता फैक्ट्री में काम करते है।

बच्ची पास के स्कूल में दूसरी क्लास की छात्रा थी। शनिवार रात करीब नौ बजे बच्ची अपनी बहन के साथ चाऊमीन लेने गई थी। बहन चाऊमीन लेकर घर आ गई थी, लेकिन वह नहीं आई। परिवार वालों ने बच्ची की काफी तलाश की। लेकिन बच्ची का कोई अता-पता नहीं चला। उसके बाद परिजनों ने देर रात निहाल विहार थाने में बच्ची के गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करायी। पुलिस और परिजन बच्ची की तलाश कर रहे थे, इसी दौरान रविवार सुबह सात बजे लोगों ने निहाल विहार स्थित गंदे नाले के पास बने डीडीए के पार्क में एक बच्ची के शव को देखा।

मामले की सूचना तुरंत पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस व बच्ची के परिजन पहुंचे। शव बीती रात लापता हुई बच्ची का था। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि अपहरण और हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। वहीं पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ कर यह पता लगाने की कोशिश कर रही है, बच्ची को आखिरी बार किसके साथ देखा गया था।